Friday,06 August 2021   02:56 am
कोरोना संकट के बीच बिहार चुनाव में प्रत्याशी कैसे करेंगे प्रचार, क्या है गाइडलाइंस

कोरोना संकट के बीच बिहार चुनाव में प्रत्याशी कैसे करेंगे प्रचार, क्या है गाइडलाइंस

22-Aug-2020

बिहार,इंडिया। बता दे कि इस साल के अंत तक बिहार में चुनाव हो सकते हैं। आयोग के द्वारा जारी गाइडलाइन को बिहार चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है। बिहार विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त होगा और अक्तूबर-नवंबर में किसी समय चुनाव कराये जाने की संभावना है। कोरोना वायरस और बारिश के कारण हाल में कई उपचुनावों को टाल दिया गया था। अब तक चुनाव के किसी नये कार्यक्रम की घोषणा नहीं की गयी है।

कोरोना काल में होने जा रहे सभी आम चुनाव और उपचुनावों के लिए निर्वाचन आयोग ने नियम कायदे जारी कर दिए हैं। इसमें साफ किया गया है कि चुनाव संबंधी सभी कामकाज कोरोना से बचाव के उपायों को अपनाना होगा। चुनाव संबंधित हर गतिविधि के दौरान मास्क पहनने के साथ सोशल डिस्टेंशिंग के नियमों का पालन करना होगा। चुनाव प्रचार से लेकर मतदान तक काफी अलग होगा। चुनाव आयोग ने सभी गतिविधियों के लिए खास नियम जारी किए हैं आयोग ने कोरोना के चलते उम्मीदवारों को ऑनलाइन नॉमिनेशन भरने की सुविधा दे दी है। हालांकि, इसका प्रिंट निकालकर उम्मीदवार को चुनाव अधिकारी को सौंपना होगा। इसके अलावा चुनाव के लिए इस्तेमाल किए जा रहे किसी भी कमरे, हॉल या परिसर में थर्मल स्कैनर होना जरूरी है।

नयी गाइडलाइन

चुनाव आयोग ने कोरोना के समय चुनाव के आवश्यक दिशानिर्देश जारी किए हैं। अब ऑनलाइन नॉमिनेशन फाइल किया जा सकेगा। चुनाव संबंधी गतिविधियों के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य होगा। आयोग ने गाइडलाइन जारी कर बताया कि इस बार उम्मीदवार सिक्योरिटी मनी ऑनलाइन जमा कर सकेंगे। वहीं ऐसा पहली बार होगा जब चुनाव में कोई उम्मीदवार सिक्योरिटी मनी ऑनलाइन जमा करेगा।

वहीं चुनाव आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक डोर टू डोर कैंपेनिंग के लिए उम्मीदवार के साथ ज्यादा से ज्यादा पांच लोग साथ हो सकते हैं। निर्वाचन आयोग 11 सितंबर को एक रिक्त स्थान (राज्यसभा सांसद अमर सिंह के निधन के बाद) को भरने के लिए उत्तर प्रदेश से राज्यों की परिषद के लिए उपचुनाव आयोजित करेगा।


leave a comment