Friday,06 August 2021   02:02 am
हो जाओ तैयारः देश की ये चार बड़ी आईटी कंपनियां देगी एक लाख युवाओं को रोजगार

हो जाओ तैयारः देश की ये चार बड़ी आईटी कंपनियां देगी एक लाख युवाओं को रोजगार

20-Apr-2021

कोरोना काल ( Corona era) में एक बड़ी समस्या जो सामने आई हैं वह है बेरोजगारी ( Unemployment)। देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के चलते ना जाने कितने लोगों की नौकरी ( Job) चली गई और आने वाले समय में कितने लोग बेरोजगार होंगे। जिन लोगों की जॉब गई हैं उनमें अधिकांश लोग प्राईवेट सेक्टर ( Private sector) से जुड़े हुए हैं। कोरोना काल में कई कंपनियों ने अपने कर्मियों की छंटनी कर दी , जिसके चलते अब कई युवा बेरोजगार हो गए हैं। लेकिन कोरोना के इस दौर में कुछ राहत लेकर देश की बड़ी कंपनियां आईं हैं।

टीसीएस की योजना इस साल 40,000 से अधिक लोगों को कैंपस सलेक्‍शन से नियुक्त करने की है, जबकि इंफोसिस के लगभग 25,000 लोगों को कैंपस से भर्ती करने की संभावना है। विप्रो, जिसने हायरिंग प्लान नहीं दिया है, ने कहा कि उनकी कंपनी पिछले साल की तुलना में अधिक लोगों को जॉब पर रखेगी।

विश्लेषकों का कहना है कि TCS, Wipro, Infosys, HCL Technologies NSE 0.80 प्रतिशऔर Tech Mahindra NSE -0.41 प्रतिशत सहित शीर्ष पांच कंपनियां इस साल 110,000 से अधिक लोगों को नियुक्त करेंगी, जो पिछले साल 90,000 से अधिक नौकरियां देंगी । "नए वित्तीय वर्ष की शुरुआत उच्च स्तर पर होने वाली है। नए सिरे से काम पर रखने की योजना, पेंट-अप की मांग के कारण हुई है। कारंथ ने कहा कि 120,000 से अधिक के अटैचमेंट-लिंक्ड रिप्लेसमेंट हायरिंग के साथ, इन कंपनियों का कुल हायरिंग मंथ 210,000 था। TCS ने पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में रिकॉर्ड 7.2% अट्रैक्शन रेट दर्ज किया है, इनफ़ोसिस और विप्रो के लिए attrition रेट तेज़ी से बढ़ा है।


leave a comment