Friday,06 August 2021   02:29 am
जिस लैब से फैला कोरोना, उसी को अवॉर्ड देने की तैयारी में चीन

जिस लैब से फैला कोरोना, उसी को अवॉर्ड देने की तैयारी में चीन

24-Jun-2021

चीन  ने दुनिया को कोरोना दिया है, आज वह खुद को अवार्ड के लिए अपना नाम दे रहा है। दुनिया को कोरोना देने के बाद चीन की यह सबसे बड़ी शर्मनाक हरकत मानी जा रही है। दरअसल चाइनीज अकाडेमी ऑफ साइंसेज ने कोविड-19 पर बेहतरीन रिसर्च करने की दिशा में किए गए प्रयासों के लिए वुहान लैब को शीर्ष अवार्ड देने के इरादे से उसे नामित किया है। 

एकडेमी के अनुसार, वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने कोरोना महामारी की रोकथाम और कोरोना वैक्सीन बनाने की दिशा में अभूतपूर्व योगदान दिया है। हालांकि वैश्विक स्तर पर यह माना जाता रहा है कि इस लैब से ही कोरोना वायरस विश्व में फैला था लेकिन चीन इस बात से इनकार करता रहा है।

कई रिपोर्ट्स में यह बताया जा रहा है कि चीन की अकाडेमी ऑफ साइंसेज की तरफ से कहा गया है कि इस लैब द्वारा किए गए महत्वपूर्व रिसर्च की बदौलत कोरोना वायरस की उत्पति, महामारी विज्ञान और इसके रोगजनक मैकनिज्म को समझने में मदद मिली है।

इसके परिणामों के फलस्वरूप कोरोना वायरस के खिलाफ दवाओं और वैक्सीन को बनाने का रास्ता साफ हुआ। साथ ही वुहान लैब ने महामारी के प्रसार को रोकने और बचाव के लिए महत्वपूर्ण वैज्ञानिक और तकनीकी समर्थन मुहैया कराया। अकाडेमी के अनुसार, वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के रिसर्च ने कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम और कोरोना की काट यानी कोरोना की वैक्सीन बनाने की दिशा में अभूतपूर्व योगदान दिया है। 


leave a comment