Friday,06 August 2021   03:21 am
18 साल का लड़का होगा ब्लू ऑरिजिन की स्पेस फ्लाइट का पहला यात्री

18 साल का लड़का होगा ब्लू ऑरिजिन की स्पेस फ्लाइट का पहला यात्री

16-Jul-2021

Youngest Astronaut : अमेजन के संस्थापक जैफ बेजोस (Jeff Bezos) की स्पेस कंपनी ब्लू ऑरिजिन (blue origin) की पहली यात्री उड़ान में उनके साथ पहले यात्री (passenger) के तौर पर एक 18 साल का लड़का अंतरिक्ष में जाएगा। इस फ्लाइट में उड़ान भरने के साथ ही यह लड़का दुनिया का सबसे कम उम्र का अंतरिक्ष यात्री (world youngest astronaut) होने का रिकॉर्ड बना लेगा। इससे पहले सबसे कम उम्र के अंतरिक्ष यात्री का रिकॉर्ड विघटित हो चुके सोवियत संघ के जी. तितोव (G. Titov) के नाम पर था, जिसने अपने ही देश के दुनिया के पहले अंतरिक्ष यात्री यूरी गागरिन के चार महीने बाद 25 साल की उम्र में पृथ्वी की कक्षा में उड़ान भरी थी।

ब्लू ऑरिजिन ने बृहस्पतिवार को घोषणा की कि 2.8 करोड़ डॉलर की नीलामी के विजेता के बजाय जैफ बेजोस (Jeff Bezos) के साथ आगामी मंगलवार को 18 वर्षीय ओलिवर डाएमन (Oliver Damon) उड़ान भरेंगे। कंपनी ने कहा कि नीदरलैंड (Netherlands) निवासी डाएमन नीलामी में उपविजेता थे और अब वह अंतरिक्ष (Space) में जाने के लिए टिकट का भुगतान करने वाले पहले यात्री बनेंगे। हालांकि कंपनी ने यह नहीं बताया कि डाएमन कितना पैसा चुकाने वाले हैं। डाएमन ने एक डच ब्रॉडकास्टर की तरफ से पोस्ट किए गए वीडियो में कहा, मैं जीरो-जी और दुनिया को ऊपर से देखने के अनुभव के बारे में सोचकर बेहद उत्साहित हो रहा हूं।

हालांकि कंपनी ने यह नहीं बताया कि डाएमन कितना पैसा चुकाने वाले हैं। डाएमन ने एक डच ब्रॉडकास्टर की तरफ से पोस्ट किए गए वीडियो में कहा, मैं जीरो-जी और दुनिया को ऊपर से देखने के अनुभव के बारे में सोचकर बेहद उत्साहित हो रहा हूं।

ब्लू ऑरिजिन के मुताबिक, एक निजी इक्विटी फर्म के सीईओ जोस डाएमन के बेटे ओलिवर डाएमन पिछले साल हाईस्कूल करने के बाद पायलट की ट्रेनिंग ले चुके हैं। वह और उनके पिता अमेरिका में अंतरिक्ष में जाने का प्रशिक्षण भी पूरा कर चुके हैं।

ब्लू ऑरिजिन के मुताबिक, 10 मिनट की इस उड़ान में बेजोस और डाएमन के अलावा दो अन्य यात्री भी होंगे। ये यात्री बेजोस के भाई मार्क और 1960 के दशक में नासा के मर्क्यूरी-7 अंतरिक्ष यान के लिए चुनी गई 13 पायलटों में से एक वॉली फंक रहेंगी। फंक को नासा ने बाद में महिला होने के चलते इस अभियान से अलग कर दिया था।


leave a comment