Tuesday,16 August 2022   01:29 pm
'ताजमहल नहीं बनता तो 40 रुपये में मिलता पेट्रोल, महंगाई और बेरोजगारी के लिए मोदी नहीं, मुगल जिम्मेदार'

'ताजमहल नहीं बनता तो 40 रुपये में मिलता पेट्रोल, महंगाई और बेरोजगारी के लिए मोदी नहीं, मुगल जिम्मेदार'

05-Jul-2022

एआईएमआईएम के प्रमुख व लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। उनकी पार्टी ने एक वीडियो ट्वीट किया है, जिसमें ओवैसी ने कई मुद्दों पर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

ओवैसी ने कहा कि देश में महंगाई, बेरोजगारी के लिए मोदी नहीं मुगल जिम्मेदार हैं। बच्चों के पास नौकरी नहीं है, इसके लिए बादशाह अकबर जिम्मेदार हैं। ताजमहल नहीं होता तो 40 रुपये में मिलता पेट्रोल। एआईएमआईएम के ट्विटर हैंडल से साझा किए गए वीडियो में ओवैसी ने एक सभा को संबोधित करते हुए यह बातें कहीं।

वे आगे कहते हैं, 'भारत के युवा अगर बेरोजगार हैं। महंगाई आसमान छू रही है। डीजल 100 रुपये के पार है। यकीनन इसके लिए पीएम मोदी नहीं, औरंगजेब जिम्मेदार है। पेट्रोल 104 रुपये का है इसका जिम्मेदार ताजमहल बनाने वाला है। अगर ताजमहल नहीं बना होता तो पेट्रोल आज 40 रुपये में मिलता। मैं मानता हूं कि ताजमहल, लालकिला बनाकर मुगलों ने गलती की। वो पैसा बचाकर रखना था।'

ओवैसी ने आगे कहा, 'अगर उसने ताजमहल नहीं बनवाया होता, तो आज पेट्रोल 40 रुपए में बिकता। प्रधानमंत्री जी, मैं स्वीकार करता हूं कि उसने (शाहजहां) ताजमहल और लाल किला बनवाकर गलती की थी। उसे उस पैसे को बचाकर सौंप देना चाहिए था ताकि 2014 में यह मोदी जी को सौंप दिया जाए। हर मुद्दे पर वे कहते हैं कि मुसलमान जिम्मेदार हैं, मुगल जिम्मेदार हैं।'

हमने जिन्ना के पैगाम को ठुकरा दिया था

असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल किया कि क्या भारत में सिर्फ मुगलों की सरकारें थीं? उनसे पहले अशोक, चंद्रगुप्त की भी हुकूमत थी, लेकिन भाजपा की आंखों में सिर्फ मुगल दिखते हैं। एक आंख में मुगल दूसरी में पाकिस्तान दिखता है। हमें ना मुगलों से लेना है और ना पाकिस्तान से मतलब है। जिन्ना से हमें क्या करना है। हमने जिन्ना के पैगाम को ठुकरा दिया था। आजादी के 75 साल का जश्न हम 15 अगस्त को मनाने जा रहे हैं। भारत में जितने मुस्लिम हैं, वो इस बात की गवाही देते हैं कि उनके दादा और परदादा ने पाकिस्तान के पैगाम को ठुकराया था।


leave a comment