Wednesday,28 September 2022   06:19 am
पहली बार सिर्फ 7 दिन के लिए CM, कभी NDA तो कभी महागठबंधन, जानें 22 साल में नीतीश ने कितनी बार लिया यू-टर्न

पहली बार सिर्फ 7 दिन के लिए CM, कभी NDA तो कभी महागठबंधन, जानें 22 साल में नीतीश ने कितनी बार लिया यू-टर्न

10-Aug-2022

बिहार की राजनीतिक चौरस को नीतीश कुमार ने कुछ ऐसा साध रखा है कि पासा चाहे जो भी पड़े, दांव उन्हीं का लगता है। इस बार भी कुछ ऐसा ही होने जा रहा है। गठबंधन चाहे बीजेपी से हो या आरजेडी के साथ लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही बने। ऐसा ही एक बार फिर होने जा रहा है। नीतीश कुमार बीजेपी से गठबंधन खत्म कर आरजेडी के साथ मिलकर बिहार में सरकार बनाने जा रहे हैं जिसमें वो मुख्यमंत्री बने रहेंगे।

पहले जानते हैं कैसे बढ़ी जदयू- भाजपा के बीच दूरी

भाजपा और जदयू के बीच दूरी बढ़ने की शुरुआत कुछ महीने पहले हुई थी। जाति आधारित जनगणना के मुद्दे पर नीतीश कुमार भाजपा से अलग-थलग नजर आए और उन्होंने विपक्षी दलों के साथ जाति आधारित जनगणना की मांग की। जानकारी के अनुसार सरकार चलाने में फ्री हैंड नहीं मिलने के अलावा नीतीश चिराग प्रकरण के बाद आरसीपी प्रकरण से भाजपा से खफा हैं। बीते कुछ महीने में नीतीश ने कई अहम बैठकों से दूरी बनाई है। कुछ महीने पूर्व नीतीश पीएम की कोरोना पर बुलाई गई बैठक से दूर रहे। हाल में पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सम्मान में दिए गए भोज, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के शपथ ग्रहण समारोह से भी दूरी बनाई। इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह की ओर से बुलाई गई मुख्यमंत्रियों की बैठक से दूरी बनाने के बाद अब नीति आयोग की बैठक से भी दूर रहे।

  • आइए जानते हैं कब-कब नीतीश कुमार (Nitish Kumar) बने सीएम-
  • 2000 में JDU-BJP गठबंधन था।बहुमत नहीं था इसलिए 10 दिनों में इस्तीफा देना पड़ा
  • 2005 में JDU-BJP गठबंधन था। ये कार्यकाल उन्होने पूरा किया और 5 साल सरकार चली
  • 2010 में नीतीश कुमार ने तीसरी बार सीएम पद की शपथ ली
  • 2014 में नीतीश कुमार ने फिर इस्तीफा दिया और जीतन राम मांझी को CM बनाया
  • 2015 में JDU-RJD के बीच महागठबंधन हुआ और नीतीश के नेतृत्व में सरकार बनी
  • 2017 में महागठबंधन से अलग हुए और BJP के साथ मिलकर फिर सरकार बनाई
  • 2020 में विधानसभा चुनाव हुए JDU-BJP गठबंधन को बहुमत मिला
  • 2020 में 45 सीट आने के बाद भी नीतीश ही सीएम बने

जनता दल (यूनाइटेड) बनाने से पहले, नीतीश कुमार जनता पार्टी, समता पार्टी और जनता दल का हिस्सा थे। मई 2014- फरवरी 2015 को छोड़कर, नीतीश कुमार नवंबर 2005 से बिहार के मुख्यमंत्री बने हुए हैं। हालांकि उनकी पार्टी ने कभी भी अपना बहुमत नहीं जीता है, यह रणनीतिक गठबंधनों के कारण सरकार का हिस्सा रही है। हालांकि इसने 2005 और 2010 में भाजपा के साथ गठबंधन में बिहार में सरकार बनाई, लेकिन जून 2013 में नरेंद्र मोदी को एनडीए के पीएम चेहरे के रूप में उभरने पर आपत्ति जताते हुए उसने भाजपा छोड़ दिया।


leave a comment