Wednesday,28 September 2022   04:42 am
छत्तीसगढ़ की अनोखी नदी जिसमें बहता है सोना, इस नदी से रोज़ निकलता है सोना, जानें कैसे बटोरते हैं लोग?

छत्तीसगढ़ की अनोखी नदी जिसमें बहता है सोना, इस नदी से रोज़ निकलता है सोना, जानें कैसे बटोरते हैं लोग?

19-Sep-2022

नदी के बारे में ये बात सुनने में थोड़ी अजीब जरूर लगती है, लेकिन देश में एक ऐसी नदी भी है जिसकी रेत से सैकड़ों साल से सोना निकाला जा रहा है। हालांकि आजतक रेत में सोने के कण मिलने की सही वजह का पता नहीं लग पाया है। भूवैज्ञानिकों का मानना है कि नदी तमाम चट्टानों से होकर गुजरती है। इसी दौरान घर्षण की वजह से सोने के कण इसमें घुल जाते है।

जानकार बताते हैं कि कोटरी गांव के संगम घाट पर ग्रामीण सैकड़ों वर्षों से सोना निकाल रहे हैं। ग्रामीण नदी से निकाले जाने वाली मिट्टी को डोंगीनुमा लकड़ी के बर्तन में धोते हैं। धुलाई के बाद बचे हुए बारीक कण को इकट्ठा किया जाता है। कण के ज्यादा मात्रा में जमा होने पर हिलाया जाता है और कण को पिघलाकर सोने का रूप दिया जाता है। उसे क्वारी सोना कहा जाता है।

क्वारी सोना शुद्ध माना जाता है। सोना निकासी का काम कई पीढ़ियों से परिवार कर रहे हैं। नदी की रेत से सोना निकालने के काम में जुटे आसपास रहने वाले कई परिवारों का घर चलता है। सोनझरिया परिवार आज भी पुश्तैनी व्यवसाय सोना निकालने में जुटा है। पारिवारिक सदस्य पतकसा, बड़गांव, कोंडे, कोटरी नदी, खंडी नदी, घमरे नदी, रावघाट ,बड़े डोंगर के अलावा महाराष्ट्र की कुछ नदियों में जाकर सोने निकालने का काम करते हैं।

सोना निकालने के काम में जुटे परिवार को जेवरात बनाने की जानकारी नहीं है। नदी से निकलनेवाला सोना हाई क्वालिटी का होता है। परिवार औने पौने दाम पर सोना बेच देता है। ग्रामीण रवि मंडावी और रितेश नाग ने बताया कि सोनझरिया परिवार कभी सोना बेचकर रकम इकट्ठा नहीं कर पाए। सोना की बिक्री से हाथ आई रकम परिवार की रोजी रोटी और कपड़े पर खर्च हो जाती है।

Indian Railways: अब अपना कंफर्म टिकट दूसरे यात्री को ट्रांसफर कर सकेंगे पैसेंजर, जानिए Step-by-Step प्रोसेस 

PSC परीक्षा में बैठने वाले युवाओं के लिए खुशखबरी, MP में एज लिमिट में मिली 3 साल की छूट 

Google के लिए  झटका भारत, अमेरिका, यूरोपीय संघ बिग टेक एकाधिकार को चुनौती दे रहा है ?

 

leave a comment