Friday,03 December 2021   10:40 pm

22 राज्यों में 19 रुपये तक कम हुए पेट्रोल-डीजल के दाम, इन 14 राज्यों ने नहीं की कटौती, यहां बिक रहा सबसे महंगा पेट्रोल, देखें लिस्ट

06-Nov-2021

दिवाली के मौके पर देश के 22 राज्यों ने अपनी जनता को शानदार तोहफा देते हुए पेट्रोल-डीजल की कीमतों कों कम कर दिया। पेट्रोल और डीजल पर केंद्र की मोदी सरकार के उत्पाद शुल्क यानी वैट कम करने के फैसले के बाद कई राज्यों ने भी अपने यहां वैट में कटौती की है। हालांकि, इसके बावजूद भी कई राज्य ऐसे हैं जहां सरकारों ने कोई कटौती नहीं की है। इन राज्यों में गैर-भाजपा शासित सरकारें हैं। इसके बाद पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर एक बार फिर राजनीति में उबाल देखने को मिल रहा है।

आइए आपको बताते हैं कि आखिर किन 22 राज्यों ने पेट्रोल-डीजल की कीमत कम की है और आखिर वे कौन से गैर-भाजपा शासित राज्य हैं जहां पेट्रोल-डीजल की कीमतों में जनता को कोई राहत अब तक नहीं मिली है।..

इस फैसले के मुताबिक, पेट्रोल पर लागू उत्पाद शुल्क में 5 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर लागू शुल्क में 10 रुपये प्रति लीटर की कटौती की गई। उसके फौरन बाद भाजपा-शासित राज्यों ने भी स्थानीय वैट की दरों में कटौती कर दी। लेकिन गैर-भाजपा शासित राज्यों में हालात अभी भी वैसे ही हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि यहां भी जल्द जनता को राहत मिलेगी। जिन राज्यों में पेट्रोल-डीजल पर ज्यादा वैट वसूला जाता था, वहां पर यह असर कहीं ज्यादा रहा। दिल्ली में पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 6.07 रुपये और डीजल पर 11.75 रुपये प्रति लीटर कम हो गया।

यहां स्थानीय वैट शुल्क घटाने का फैसला लिया।

उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, कर्नाटक, उत्तराखंड, लद्दाख, चंडीगढ़, गोवा, असम, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, त्रिपुरा, मणिपुर, नगालैंड, मिजोरम, पुडुचेरी, दादर एवं नगर हवेली, दमन एवं दीव

इन राज्यों में अभी भी पेट्रोल सबसे महंगा बिक रहा

दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, झारखंड, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, केरल, ओडिशा, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश

सीएम बघेल का फैसला, छत्तीसगढ़ के स्कूलों में रघुपति राघव और वैष्णव जन का होगा नियमित गायन

03-Nov-2021

छत्तीसगढ़ स्कूलों में अब रघुपति राघव... और वैष्णव जन...का नियमित रूप से गायन होगा। अधिमकारियों ने इसकी जानकारी दी ।

राज्य के जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार को यहां बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि राज्य के बच्चों को गांधीजी के विचारों से संस्कारित करने के लिए उनके दो प्रिय भजनों 'रघुपति राघव राजा राम' और 'वैष्णव जन तो तेने कहिए जी।।' का नियमित गायन छत्तीसगढ़ के स्कूलों में किया जाएगा।

सीएम बघेल ने घोषणा करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न इंदिरा प्रियदर्शिनी गांधी और पूर्व उप प्रधानमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल के व्यक्तत्वि में महात्मा गांधी के मूल्यों की मौजूदगी सबसे बड़ी समानता रही।

भारत के इन दो महान शख्सयितों ने बापू के विचारों को गढ़ा था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि पूरी दुनिया में बदलते हुए सामाजिक-राजनीतिक परिवेश में गांधी जी के प्रिय भजनों की प्रासंगिकता और बढ़ गई है।

आज हमारे जीवन में आवश्यकता इस बात कि है कि इन भजनों के मूल सार को आत्मसाध करते हुए उन्हें अपने जीवन में अपनाया जाए।

भारत का मूल स्वभाव राष्ट्री एकता और सामाजिक सौहार्द का है। वहीं राजनीति को सेवा का एक माध्यम बनाने के लिए हम सब का एक कर्तव्य है कि हम अभाव ग्रस्त, पीड़ितों, दीन दुखियों की पीड़ा को महसूस कर उनकी हर संभव सहायता करें।

अयोध्या में दीपोत्सव मनाने की तैयारी, 12 लाख दीयों से रोशन होगी अयोध्या नगरी

03-Nov-2021

दिवाली से पहले प्रभु राम की नगर आयोध्या दुल्हन की तरह सज चुकी है। इस दीपावली 12 लाख दीयों से अयोध्या नगरी जगमगाएगी।  इनमें से नौ लाख दीये सरयू नदी के तट राम की पैड़ी पर और तीन लाख दीये अयोध्या के मंदिरों-मठों में जलाए जाएंगे। यह अब तक का सबसे भव्य एवं विशाल दीपोत्सव कार्यक्रम होने जा रहा है। इस अद्भुत का कार्यक्रम की साक्षी  'गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' की टीम भी बनेगी। बुधवार को अयोध्या में कई सांस्कृतिक एवं धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन भी हो रहे हैं। इस खास मौके पर कई झाकियां भी निकाली जाएंगी और जो सबसे ज्यादा राम भक्तों का ध्यान खींचेगी। सरयू के किनारे लेजर शो के जरिए रामायण की झलकियां दिखाई जाएंगी। अयोध्या के इस भव्य आयोजन में हिस्सा लेने के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम को भी आमंत्रित किया गया है। सीएम योगी ने सभी को दिवाली की बधाई दी।

इसके साथ ही राम मंदिर के पूरे गर्भगृह को अलग-अलग तरीकों के फूलों से सजाया गया। शहर के 12 स्थानों पर LED वैन लगायी गई है। दीपोत्सव में 12000 वालिंटियर्स भी मदद करेंगे। मुख्यमंत्री योगी श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला के दरबार में दीप जलायेंगे, इसके बाद पूरी अयोध्या जगमगा उठेगी।

आपको बता दें कि अयोध्या पूरी तरह से राममय हो चुका है। 12 लाक दीये लगाने काकाम पूरा हो चुका है। शाम में जब ये दीये जलाए जाएंगे, तो इस खास पल को ड्रोन के जरिए रिकॉर्ड किया जाएगा। वहीं,  सीएम योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या के हर मठ मंदिर के लिए भोग का प्रसाद और दीपक भेजा है। हर मठ मंदिर में दीपक जलाए जाएंगे और भगवान को भोग लगेगा।

कोरोना पर नई थ्योरी: वुहान के आरोप से बचने के लिए चीन ने फैलाया नया झूठ, इन तीन देशों को बताया कोविड-19 का जिम्मेदार

02-Nov-2021

कोरोना संक्रमण फैलाने का आरोप झेल रहा चीन अब नई थ्योरी गढ़ रहा है।  कई वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि वायरस को चीन के वुहान की लैब में तैयार किया गया है। जबकि कुछ देश तो इतना तक कह चुके हैं कि इसे बायो हथियार (Bio Weapon) के तौर पर बनाया गया है। लेकिन चीन इन सभी दावों को खारिज करता रहा है। इन आरोपों पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने जांच की थी। इसके लिए एजेंसी की टीम चीन पहुंची थी। लेकिन टीम को पूरी जानकारी नहीं दी गई। हाल ही में एक बार फिर वहां जांच करने का मामला उठा तो चीन ने इससे इनकार कर दिया (Covid in China)। उल्टा वह दूसरे देशों पर राजनीति करने का आरोप लगाने लगा। यही कारण है कि चीन खुद पर लगा दाग हटाने के लिए दूसरे देशों को बदनाम कर रहा है। इस थ्योरी में वह खुद पर लगे आरोपों को दुनिया के दूसरे देशों पर डालने की कोशिश कर रहा है। इसके लिए ट्विटर से लेकर चीनी मीडिया ने जबरदस्त अभियान छेड़ रखा है।

एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि चीन का मीडिया अपनी नई थ्योरी को स्थापित करने के लिए कई सारे फर्जी अकाउंट भी संचालित कर रहा है। इस नई थ्योरी में चीन ने अमेरिका, ब्राजील जैसे देशों पर आरोप लगाया है कि दुनिया में कोरोना संक्रमण के लिए वह जिम्मेदार हैं। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन का दावा है कि अमेरिका का मेन लॉब्सटर (Maine Lobsters Theory) तेजी से फैलते कोरोना वायरस का सबसे बड़ा कारण है। ये झूठ फैलाने में चीनी राजदूत पूरा सहयोग दे रहे हैं। वो भी तब, जब कोरोना का पहला मामला 2019 के आखिर में चीन में ही सामने आया था। लेकिन चीन ने वक्त रहते ना तो किसी दूसरे देश को इसकी जानकारी दी और ना ही अपने नागरिकों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए। जिसके कारण एक वायरस महामारी में तब्दील हो गया। इसकी चपेट में अब तक 24 करोड़ से ज्यादा लोग आए हैं। जबकि 50 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है।

ये जानकारी चीनी एजेंडा से जुड़े सैकड़ों अकाउंट का अध्ययन करने वाले एक शोधकर्ता ने दी है (Origin of Coronavirus)। शोधकर्ता मार्सेल श्लीब्स ने अंतरराष्ट्रीय थिंक टैंक पॉलिसी रिसर्च ग्रुप (पीओआरईजी) के लिए लिखते समय ‘चीन समर्थक एजेंडे से जुड़े सैकड़ों अकाउंट की पहचान की है। जिसमें कहा गया है कि निर्यात किए गए मांस के कारण कोरोना वायरस फैल रहा है।’ ये रिपोर्ट एक आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित हुई है।

अब Free फ्री मिलेंगे PCV Vaccine, न्यूमोकोकल न्यूमोनिया और दिमागी इन्फेक्शंस से बच्चों को बचाएगा

29-Oct-2021

PCV का टीका (PCV Vaccine) बच्चे को निमोनिया (Pneumonia) के खतरे से बचाता है और बच्‍चे को अस्पताल में भर्ती करने की आशंका को कम करता है। पहले ये टीका केवल पांच राज्यों में लगाया जाता था। आजादी के अमृत महोत्सव (Amrit Mahotsav) के मौके पर आज से पूरे देश में ये वैक्सीन (Vaccine) लगाई जाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ। मनसुख मांडविया ने आज इस टीकाकरण अभियान की शुरुआत की। इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं और गरीब परिवार के बच्चे भी अब ये टीका लगवा सकेंगे।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन नामक अभियान चलाया है और मिशन इंद्रधनुष के तहत सभी बच्चों को मुफ्त टीका लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 60 फीसदी बच्चों की मौत न्यूमोनिया से होती है। इसलिए सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि टीके के अभाव में इस बीमारी से एक भी बच्चे की मौत न हो। इस वैक्सीन से अब बच्चों का बचाव होगा।PCV छोटे बच्चों को न्यूमोकोकल न्यूमोनिया से सुरक्षा देने का प्रभावी माध्यम है। केंद्र सरकार ने कहा कि PCV एक सुरक्षित टीका है। दूसरे टीके की तरह ही इससे भी बच्चे को टीकाकरण के बाद हल्का बुखार और टीके वाली जगह पर सूजन,दर्द और लालीपन हो सकता है। PCV वैक्सीन की तीन खुराक होती है, जिसकी पहली डोज बच्चे को डेढ़ महीने पर, दूसरी डोज साढ़े तीन महीने और तीसरी 9 महीने पर लगती है।

Facebook कंपनी का नाम बदला, Mark Zuckerberg ने किया ऐलान

29-Oct-2021

गुरुवार को फाउंडर मार्क जुकरबर्ग ने एक मीटिंग के दौरान यह एलान किया। लंबे समय से फेसबुक के नाम को बदलने की चर्चा चल रही थी। अब उसी प्रक्रिया को पूरा कर लिया गया है और फेसबुक का नया नाम 'मेटा' कर दिया गया है।

जुकरबर्ग ने एक वार्षिक डेवलपर्स सम्मेलन के दौरान कहा, 'हमने सामाजिक मुद्दों से संघर्ष करके और बंद प्लेटफार्मों के नीचे रहकर बहुत कुछ सीखा है, और हमने जो कुछ भी सीखा है उसे लागू करने और उसकी मदद से अगले अध्याय को बनाने का समय आ गया है।' उन्होंने आगे कहा कि "हमारे एप्स और उनके ब्रांड, वे नहीं बदल रहे हैं।" यानी यह परिवर्तन फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप जैसे व्यक्तिगत प्लेटफॉर्म पर लागू नहीं होता है, केवल मूल कंपनी का नाम बदलकर 'मेटा' किया गया है, जिसके अंतर्गत ये सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स आते हैं।

जाकारी के मुताबिक, फेसबुक को मेटावर्स कंपनी के तौर पर पेश करने की प्लानिंग के तहत रीब्रांडिंग की जा रही है। फेसबुक अपनी वर्चुअल दुनिया मेटावर्स के लिए इस साल 10 बिलियन डॉलर इन्वेस्ट करने वाला है। यह फेसबुक का वर्चुअल और ऑगमेंट रियल्टी (VR/AR) जैसी तकनीकों का उपयोग करके एक नए वर्चुअल एक्सपीरिएंस का नया मरहला होगा। कंपनी अपने फेसबुक रियल्टी लैब्स पर अरबों डॉलर खर्च करेगी, जिसे इस मेटावर्स डिवीजन ने AR और VR हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और कंटेंट बनाने की जिम्मेदारी सौंपी है।

मार्क जुकरबर्ग ने कंपनी के कनेक्ट वर्चुअल रियलीट कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि हम जो कुछ भी करते हैं उसे शामिल करने के लिए एक नया कंपनी ब्रांड अपनाने का वक्त आ गया है। जुकरबर्ग ने कहा कि अब हम मेटावर्स होने जा रहे हैं फेसबुक नहीं।

जनवरी से रेस्टोरेंट में मेन्यू में डिश के साथ देनी होगी कैलोरी की भी जानकारी, FSSAI सख्त

28-Oct-2021

बढ़ते वजन को कंट्रोल करने के लिए लोग डाइटिंग और वर्कआउट का सहारा लेते हैं। इसके लिए नाना प्रकार की डायटिंग ट्रेंडिग में हैं। हालांकि, वजन कंट्रोल या कम करने के लिए डायटिंग के साथ-साथ कैलोरी काउंट भी जरूरी है। वहीं, कैलोरी गेन के समानुपात में कैलोरी बर्न कर बढ़ते वजन को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है। सही भोजन, बेहतर जीवन (ईट राइट इंडिया) के सरकारी अभियान के तहत एक महत्वपूर्ण बदलाव होने जा रहा है। आगामी जनवरी से रेस्तरां में खाने के दौरान दिए जाने वाले मेन्यू कार्ड में सिर्फ व्यंजनों की जानकारी नहीं होगी, बल्कि उसके साथ यह भी लिखा होगा कि किस व्यंजन में कितनी कैलोरी हैं। ताकि ग्राहक पूरी तरह से कैलोरी उपभोग से वाकिफ रहे। जनवरी 2022 से रेस्टोरेंट में मेन्यू में डिश से मिलने वाली कैलोरी की भी जानकारी देनी होगी।  भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) इसकी तैयारी कर रहा है। जल्द ही शाकाहारी उत्पादों के लिए वेगन लोगो (शुद्ध शाकाहारी होने का चिह्न) भी जारी किया जाएगा। यही नहीं, मेन्यू लेबलिंग करते समय पोषक तत्व (Nutrients) की मात्रा भी लिखनी होगी। फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया काफी समय से लेबलिंग रेगुलेशन (Labeling regulation) को ठीक करने का प्रयास कर रहा था। इसे अब नोटिफाई कर दिया गया है।

एफएसएसएआइ के सीईओ अरुण सिंघल ने बताया कि ईट राइट इंडिया अभियान के तहत ग्राहकों को पौष्टिक भोजन की सभी जानकारियां दी जाएंगी। जनवरी से जब उपभोक्ता किसी रेस्तरां में जाएंगे तो उन्हें दिए जाने वाले खाने की मात्रा के साथ यह भी जानकारी दी जाएगी कि किस खाने में कितनी कैलोरी हैं। रेस्तरां में दिए जाने वाले मेन्यू कार्ड में यह जानकारी उपलब्ध होगी।

सिंघल ने बताया कि घरेलू बाजार के लिए भी एक जोखिम प्रबंधन प्रणाली विकसित की जा रही है जिसके तहत घरेलू बाजार में बिकने वाले खाद्य पदार्थो के उत्पादकों का प्रोफाइल, खाद्य पदार्थों से जुड़ी सभी जानकारियां और उनसे जुड़ी मानक रिपोर्ट रखी जाएगी। इससे खाद्य सुरक्षा निरीक्षक के अनावश्यक निरीक्षण खत्म हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि एफएसएसएआइ जल्द ही हमेशा के लिए लाइसेंस (परपीच्युअल लाइसेंस) की धारणा लेकर आ रहा है जिसके लागू होने के बाद लाइसेंस का नवीनीकरण कराने की जरूरत नहीं रहेगी। एफएसएसएआइ खाद्य जांच के लिए त्वरित किट पर फोकस कर रहा है।

बेहतर इंग्लिश सीखने के लिए Google ने लॉन्च किया नया फीचर

23-Oct-2021

अक्सर कई छात्र इंग्लिश बोलने में असहज महसूस होते हैं जिसकी वजह से उन्हें अक्सर अपने दोस्तों या ऑफिस में अपने सहकर्मियों  के सामने शर्मिंदगी होती है। यदि आप एक प्रतियोगी परीक्षार्थी हैं और एसएससी, बैंक, रेलवे या डिफेंस जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां कर रहे हैं तो ऐसे में आपको इंग्लिश की अच्छी जानकारी होना बहुत ही जरूरी है। आपको बता दें कि Google ने आज एक नए तरीके की घोषणा की जिसके इस्तेमाल से Google Search अपने यूजर्स को बेहतर अंग्रेजी सीखने में मदद करेगा। गूगल यूजर्स को नए शब्द सीखने में मदद करेगा और इस प्रकार उनके भाषा स्किल्स में सुधार करेगा। Google खोज की नई सुविधा यूजर्स को नोटिफिकेशन के रूप में हर दिन अंग्रेजी में नए शब्द सीखने में मदद करेगी उसके लिए यूजर्स पहले सब्सक्रिप्शन लेने की जरूरत होती है।  सब्सक्राइब करने के बाद यूजर्स को हर दिन नए शब्दों के साथ नोटिफिकेशन मिलेगा। एक नया शब्द और उसका अर्थ सीखना थोड़ा बोरिंग हो सकता है। यह भी संभव है कि यूजर्स कुछ दिनों के बाद इसे भूल जाएं। इसलिए, यूजर्स को किसी शब्द को बेहतर ढंग से सीखने और उसे याद रखने में मदद करने के लिए, Google सर्च उन्हें दुनिया के बारे में एक दिलचस्प फैक्ट भी बताएगा, जो बदले में उन्हें इसे बेहतर ढंग से याद रखने में मदद करेगा।

कैसे लें Google सर्च फीचर का सब्सक्रिप्शन 
Google सर्च का सब्सक्रिप्शन लेना वास्तव में काफी आसान है। सभी यूजर्स को साइन अप करने के लिए Google सर्च में किसी भी अंग्रेजी शब्द की परिभाषा को देखना होगा और फिर ऊपरी दाएं कोने में Bell आइकन पर क्लिक करना होगा। अभी तक, यह सुविधा केवल अंग्रेज़ी में उपलब्ध है। Google ने कहा कि "अंग्रेजी सीखने वालों और फ्लूएंटली इंग्लिश बोलने वालों दोनों के लिए समान रूप से तैयार किए गए शब्द हैं, और जल्द ही आप अलग-अलग डिफिकल्ट लेवल को चुनने में सक्षम होंगे।"

1 नवंबर से उत्तराखंड में आयुष्मान योजना के तहत मुफ्त होगा किडनी प्रत्यारोपण और इलाज

23-Oct-2021

उत्तराखंड में अटल आयुष्मान योजना के तहत किडनी प्रत्यारोपण और इलाज मुफ्त होगा। एक नवंबर से ये सुविधा मिलेगी। गोल्डन कार्ड धारकों को इससे बड़ी राहत मिली है। ऐसा करने वाला उत्तराखंड देश का पहला राज्य है। बता दें कि प्रदेश सरकार ने राज्य अटल आयुष्मान योजना में सभी 23 लाख से अधिक परिवारों को शामिल किया है। जिसमें प्रत्येक परिवार को पांच लाख तक मुफ्त इलाज की सुविधा है। प्रदेश सरकार ने राज्य अटल आयुष्मान योजना में सभी 23 लाख से अधिक परिवारों को शामिल किया है। जिसमें प्रत्येक परिवार को पांच लाख तक मुफ्त इलाज की सुविधा है। प्रदेश के सभी लोगों को इस सुविधा को देने में उत्तराखंड देश का पहला राज्य है। राज्य अटल आयुष्मान योजना के तहत सभी गोल्डन कार्ड धारकों को राष्ट्रीय पोर्टेबिलिटी से जोड़ा गया है। योजना में 1600 से अधिक बीमारियों के इलाज की पैकेज की दरें तय हैं लेकिन अभी तक किडनी प्रत्यारोपण का इलाज इसमें शामिल नहीं था। अब सरकार ने गोल्डन कार्ड पर किडनी प्रत्यारोपण के इलाज की सुविधा देकर मरीजों को बड़ी राहत दी है। एक नवंबर से योजना में सूचीबद्ध अस्पतालों में किडनी रोगियों को गोल्डन कार्ड पर मुफ्त इलाज की सुविधा मिलेगी। प्रदेश में अटल आयुष्मान योजना के तहत 44 लाख लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बन चुके हैं। जिसमें 3.5 लाख लाभार्थियों ने विभिन्न बीमारियों का इलाज किया है। जिस पर सरकार ने 496 करोड़ की राशि व्यय की है। 

आयुष्मान योजना में किडनी प्रत्यारोपण इलाज की दरें राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण ने तय कर दी है। जिसमें किडनी की सर्जरी 2.15 लाख, इंडेक्शन चार्ज 40 हजार, इंटरवेशन एक्यूपमेंट रिजेक्शन 1.40 लाख, पोस्ट ट्रांसप्लांट इलाज का 1 से 3 माह तक 50 हजार, 3 से 6 माह तक 50 हजार, 6 से 12 माह तक 40 हजार धनराशि तय की गई है। 
 अटल आयुष्मान योजना में गोल्डन कार्ड धारकों को अब किडनी प्रत्यारोपण का इलाज कराने की सुविधा मिलेगी। एक नवंबर से सभी अस्पतालों में किडनी प्रत्यारोपण के इलाज की सुविधा शुरू हो जाएगी।

Sovereign Gold Bond: दिवाली से पहले आने वाला है सस्ता सोना खरीदने का शानदार मौका, जानिए कैसे और कहां से मिलेगा!

22-Oct-2021

दीवाली से पहले सरकारी स्वर्ण बॉन्ड (Sovereign Gold Bond Scheme) में निवेश करने का मौका मिल रहा है। अगले सोमवार से सरकारी स्वर्ण बांड 2021-22 की अगली किस्त खुल रही है, जिसके तहत इस बॉन्ड में 25-29 अक्टूबर के बीच निवेश किया जा सकेगा।  वित्त मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि सरकारी स्वर्ण बॉन्ड 2021-22 की अगली किस्त में 25 अक्टूबर से पांच दिनों के लिए निवेश किया जा सकता है। स्वर्ण बॉन्ड की 2021-22 श्रृंखला के तहत अक्टूबर 2021 से मार्च 2022 के बीच चार चरणों में बॉन्ड जारी किए जाएंगे। इस श्रृंखला के तहत मई 2021 से सितंबर 2021 तक छह चरण में बॉन्ड जारी किए गए हैं। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि 2021-22 सीरीज-8 की सदस्यता अवधि 25 अक्टूबर से 29 अक्टूबर होगी और बॉन्ड दो नवंबर को जारी किए जाएंगे। ये बॉन्ड बैंकों (छोटे वित्त बैंकों और भुगतान बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसएचसीआईएल), क्लियरिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (सीसीआईएस), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त शेयर बाजारों (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया और और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) के माध्यम से बेचे जाएंगे। बॉन्ड भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा भारत सरकार की ओर से जारी किए जाएंगे।

कहां से खरीद सकेंगे
ये बॉन्ड बैंकों (छोटे वित्त बैंकों और भुगतान बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (SHCIL), क्लियरिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (CCIS), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त शेयर बाजारों (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया और और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) के माध्यम से बेचे जाएंगे।

क्या होगा इशू प्राइस
इस बॉन्ड के लिए सोने का भाव सदस्यता अवधि से पहले के सप्ताह के अंतिम तीन कार्य दिवसों के लिए भारतीय सर्राफा एवं आभूषण संघ लिमिटेड द्वारा प्रकाशित 999 शुद्धता वाले सोने के बंद भाव के औसत के बराबर होगा। अब सीधे लहजे में समझिए, जिस दिन आप बॉन्ड खरीदेंगे, उसके पिछले हफ्ते के आखिरी तीन कारोबारी दिनों में गोल्ड की जो कीमत होगी यानी IBJA ने जो गोल्ड की कीमतें जारी की होंगी, उसमें 24 कैरेट गोल्ड का जो बंद भाव होगा, उसी भाव पर आप बॉन्ड में सोना खरीद पाएंगे।

रांची में बनेगा वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, 27.42 करोड़ की राशि मंजूर

22-Oct-2021

रांची में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर बनेगा। जिसके लिए झारखंड की सोरेन सरकार ने 27.42 करोड़ की राशि मंजूर की। योजना की कुल लागत 48 करोड़ रुपये है। केंद्र पहले ही राज्य सरकार को 9.8 करोड़ रुपये की राशि दे चुका है। इस सेंटर में अंतरराष्ट्रीय कारोबार से संबंधित सारी सुविधाएं एक ही परिसर में मिलेंगी। विदेश व्यापार महानिदेशालय का क्षेत्रीय कार्यालय और भारतीय निर्यात परिसंघ से जुड़े कार्यालय भी होंगे।

वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में अंतरराष्ट्रीय कारोबार से संबंधित सारी सुविधाएं एक ही परिसर में मिलेंगी। यहां विदेश व्यापार महानिदेशालय का क्षेत्रीय कार्यालय और भारतीय निर्यात परिसंघ से जुड़े कार्यालय भी होंगे। इसके अलावा आयात-निर्यात से जुड़ी कंपनियों के लिए स्थान मुहैया कराए जाएंगे। यहां करेंसी एक्सचेंज से लेकर मनी ट्रांसफर तक की सुविधाएं भी मिल सकती हैं।

इसके अलावा एयर कार्गो, शिप कंटेनर और निर्यात प्रबंधन की दूसरी सुविधाएं भी मिलेंगी। यहां अंतरराष्ट्रीय कारोबार करने वाली कंपनियों को अपने उत्पादों के प्रदर्शन और उसके प्रचार-प्रसार के लिए भी स्थान मिलेगा। एक ही छत के नीचे अंतरराष्ट्रीय कारोबार से जुड़े आवेदनों की प्रक्रिया संपन्न की जा सकेगी।

Kidney Transplant : मानव सरीर में सूअर की किडनी का सफल ट्रांसप्लांट , डॉक्टरों को मिला बड़ी सफलता

22-Oct-2021

एक रिपोर्ट के मुताबिक, हर साल भारत में मुनासिब डोनर न मिल पाने की वजह से लगभग 5 लाख लोग दम तोड़ देते हैं। आखिरी समय तक मरीज को डोनर का इंतजार रहता और वह इंतजार ही रह जाता है। सिर्फ भारत ही नहीं दुनिया के और देशों में भी यही हाल है। वहीं इस बीच एक ऐसी खबर आई है जो लाखों लोगों के चेहर पर मुस्कान ला सकती है। अमेरिका में दुनिया में पहली बार सूअर की किडनी को इंसान के शरीर में ट्रांसप्लांट किया गया है। खास बात यह है कि सफलता पूर्वक यह काम भी कर रही है। इसकी कई तरह की जांच के बाद यह साफ हो गया कि सुअर की किडनी इंसान के शरीर में अच्छी तरह से काम कर रही है। डॉक्टरों का कहना है कि शरीर के इम्यून सिस्टम ने सुअर के अंग को तत्काल खारिज नहीं किया।

यह ट्रांसप्लांट एक ब्रेन डेड मरीज में किया गया जिसकी किडनी ने काम करना बंद कर दिया था।  लाइफ सपोर्ट से हटाने से पहले उनके परिवार ने परीक्षण की अनुमति दी थी, जिसके बाद डाॅक्टरों ने यह एक्सपेरीमेंट किया।  तीन दिनों तक नई किडनी उनकी रक्त वाहिकाओं से जुड़ा हुआ था और उसके शरीर के बाहर रखा गया था। डॉक्टरों ने किडनी ट्रांसप्लांट को सामान्य करार दिया। अमेरिका में  यूनाइटेड नेटवर्क फॉर ऑर्गन शेयरिंग के अनुसार, वर्तमान में लगभग 1,07, 000 लोग अंग प्रत्यारोपण की प्रतीक्षा कर रहे हैं, जिसमें 90,000 से अधिक लोग किडनी की प्रतीक्षा कर रहे हैं। एक किडनी ट्रांसप्लांट के लिए औसतन तीन से पांच साल तक इंतजार करना पड़ता है।
इस सफलता के बाद भी अभी बहुत कुछ खोजा जाना बाकी है। डॉक्टर और शोधकर्ता चिकित्सा विज्ञानी यह पता करने की कोशिश कर रहे हैं कि लंबी अवधि में इसके क्या परिणाम होते हैं। न्यूयार्क के जॉन्स हॉपकिन्स स्कूल ऑफ मेडिसिन में ट्रांसप्लांट सर्जरी के प्रोफेसर डॉ. डोर्री सेगेव ने कहा, “हमें अंग की लंबी उम्र के बारे में और जानने की जरूरत है।” फिर भी, उन्होंने कहा, “यह एक बड़ी सफलता है। बड़ी बात है।”

Instagram New update: Post और Reels को लेकर हुआ बड़ा बदलाव अब मिलेगा 'डबल फायदा'

20-Oct-2021

वेब के लिए इंस्टाग्राम (Instagram) को बड़े अपडेट मिले हैं जो यूजर्स को अपने डेस्कटॉप वेब ब्राउज़र से स्टोरी पोस्ट करने देंगे। इससे पहले, Instagram यूजर्स केवल डेस्कटॉप पर स्टोरी देख सकते थे और केवल अपने मोबाइल ऐप से स्टोरी पोस्ट कर सकते थे। हालांकि, अब Facebook के स्वामित्व वाली कंपनी ने यूजर्स के लिए डेस्कटॉप वेब ब्राउज़र के लिए भी अपने अकाउंट को मैनेज करना आसान बना दिया है। इंस्टाग्राम यूजर्स के पास अब उनके टैब के ऊपरी दाएं केंद्र में विभिन्न ऑप्शन उपलब्ध हैं, यूजर्स मैसेज भेज सकते हैं, पोस्ट बना सकते हैं, एक एक्सप्लोर टैब भी है जो यूजर्स को नई पोस्ट खोजने देगा।

नए Collab फीचर में दो अकाउंट किसी पोस्ट या रील पर को-ऑथर बन सकते हैं. इस Collab फीचर में शेयर किए गए पोस्ट या रील दोनों यूजर्स के फॉलोअर्स के टाइमलाइन पर दिखाई देगा, इसके साथ ही दोनों यूजर्स एक ही कमेंट थ्रेड और लाइक्स की संख्या को शेयर कर सकेंगे.

डिलीट किए गए व्हाट्सऐप मेसेजेस पढ़ना चाहते हैं? आजमाएं यह आसान तरीका

19-Oct-2021

WhatsApp Deleted Chats Retrieve: WhatsApp पर अगर आप अपनी डिलीट की हुई मैसेज या चैट्स वापस लाना चाहते हैं तो उसके लिए नीचे दिए गए स्टेप्स से आप वापस ला सकते हैं। Social Media ऐप्स की लिस्ट में इस समय WhatsApp ने सभी का दिल जीत रखा है। WhatsApp अपने यूजर्स को नए-नए फीचर्स के साथ बेहतर एक्सपीरियंस देता है। WhatsApp की काफी हद तक पॉपुलैरिटी बन चुकी है, जिसके फीचर्स और अपडेट काफी शानदार और समय रहते मददगार साबित होते हैं। चाहें बात हो, चैट्स बैकअप, पेमेंट, Archive या फिर वीडियो-वॉयस कॉलिंग की। पिछले कुछ महीनों में नए अपडेट्स और फीचर्स से WhatsApp की काफी पॉपुलैरिटी बढ़ी है। यूं तो इस ऐप पर हर तरह का फीचर मौजूद है लेकिन कई बार ऐसा होता है कि आपको उन मैसेज या चैट्स की जरूरत होती है जिन्हें आप डिलीट कर चुके हैं। इसे वापस लाने के लिए आपको नीच दिए स्टेप्स को फॉलो करना होगा, जिससे आप डिलीट किए हुए मैसेज को रीट्रीव कर सकते हैं। 

अगर आप एंड्रॉयड फोन यूजर हैं तो गूगल प्ले स्टोर पर जाकर 'व्हाट्सऐप डिलीटेड मेसेजेस' सर्च करना होगा।
यहां आपको कई ऐप्स की लिस्ट दिख जाएगी, जो डिलीट किए गए मेसेज की कॉपी सेव कर सकती हैं।
आप WAMR या व्हाट्सरिमूव्ड+ जैसी कोई भी ऐप इंस्टॉल कर सकते हैं, जिसके बाद इसे कुछ परमिशंस देनी होंगी।
व्हाट्सऐप से डिलीट किए गए मेसेजेस (और कुछ मीडिया फाइल्स) आपको इस ऐप में दिख जाएंगे।

एंड्रॉयड यूजर्स के लिए समझना जरूरी है कि जो ऐप्स डिलीट किए गए मेसेजेस का रिकॉर्ड रख रही हैं, उनके पास व्हाट्सऐप में आने वाले सभी मेसेजेस का ऐक्सेस है। कई ऐप्स व्हाट्सऐप से डिलीट की गई मीडिया फाइल्स की कॉपी तक तैयार कर आपको दिखा सकती हैं। नोटिफिकेशंस परमिशंस देने का मतलब है कि यह ऐप आपके नोटिफिकेशंस पढ़ सकेगी। बेहतर है कि जरूरी होने पर ही इस तरह की ऐप्स का इस्तेमाल करें और इसे सभी परमिशंस दें।

स्‍पेस में शूट होने वाली पहली फिल्म बनी 'चैलेंज', 12 दिन की शूटिंग के बाद धरती पर लौटी रूसी टीम

18-Oct-2021

रूस। अंतरिक्ष में पहली बार किसी फिल्म की शूटिंग करने का इतिहास रचने के बाद फिल्म की टीम रविवार को सकुशल धरती पर वापस लौट आई। फिल्म की शूटिंग के लिए क्रू ने अंतरिक्ष में 12 दिन बिताए। चैलेंज नामक यह फिल्म की अंतरिक्ष में शूट होने वाली पहली फिल्म बन गई है। इसकी कहानी के कुछ हिस्सों को आइएसएस में फिल्माया गया है। इस क्रू में अभिनेत्री यूलिया पेरेसिल्ड और निर्देशक क्लिम शिपेंको शामिल हैं, जबकि उनके साथ अंतरिक्ष यात्री ओलेग नोवित्स्की भी वापस लौटे हैं, जो 191 दिन से ISS पर मौजूद थे। एक अंतरिक्ष यात्री और रूस के दो फिल्म निर्माताओं को लेकर सोएज अंतरिक्ष कैप्सूल अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र से रवाना होने के साढ़े तीन घंटे बाद धरती पर सुरक्षित आ गया है। मिली जानकारी के तहत धरती के वायुमंडल में आने के बाद बीते कल यानी रविवार को चार बजकर 35 मिनट पर कजाखस्तान में कैप्सूल ने लैंड किया। तीनों को एक रूसी हेलिकॉप्टर से कजाकिस्तान के कारागांडा शहर में रिकवरी सेंटर लाया गया है।  बताया जा रहा है यह स्‍पेश में पहली फिल्म की शूटिंग है और इसकी कहानी के कुछ हिस्सों को आइएसएस में फिल्माया गया है। आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र से राकेट रविवार को अंतरराष्ट्रीय समयानुसार एक बजकर 15 मिनट पर रवाना हुआ था।

फिल्म की कहानी के मुताबिक इस फिल्म में सर्जन का किरदार निभा रहीं पेरेसिल्ड को एक क्रू सदस्य को बचाने के लिए अंतरिक्ष केंद्र में जाना पड़ता है। अंतरिक्ष की कक्षा में ही सदस्य को तत्काल ऑपरेशन की जरूरत होती है। अंतरिक्ष केंद्र में छह महीने से ज्यादा समय बिताने वाले नोवित्स्की ने फिल्म में बीमार अंतरिक्ष यात्री का किरदार निभाया है। 

केरल में बारिश के बाद आई बाढ़ और भूस्खलन से पांच लोगों की मौत, 14 लापता

17-Oct-2021

केरला। केरल के कई जिले भारी बारिश से प्रभावित है। शुक्रवार शाम से राज्य के 14 जिलों में भारी बारिश हो रही है, जिससे कई जगहों पर सड़कें जलमग्न हो गई है और कई जगहों पर सामान्य यातायात प्रभावित हुआ है। बारिश से इडुक्की में एक महिला की मौत हो गई तथा कोट्टायम में चार जगहों पर भूस्खलन की घटनाएं हुई है। इनमें चार लोगों की मौत हो गई और 14 लापता हैं। मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने बचाव अभियान के लिए वायुसेना की मदद मांगी है।

पहाड़ी इलाके में छोटे शहर और गांव का संपर्क राज्य के अन्य हिस्सों से पूरी तरह से कट गया है। कोट्टयम जिले के कोट्टक्कल इलाके में भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन में पहले 6 लोगों की मौत की पुष्टि हुई थी। बताया जा रहा है कि यहां अब 3 और शवों को बरामद किया गया है, जिसके बाद अब हादसे में मरने वालों की संख्या 9 हो गई है। राज्य के मंत्रियों को पुलिस, दमकल और आपदा प्रबंधन टीमों की विभिन्न टीमों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए कहा गया है।

केरल के कई इलाकों में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी है। 6 जिलों में रेड अलर्ट घोषित किया गया है। मौसम विभाग ने केरल के पठानमथिट्टा, कोट्टायम,एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर और पलक्कड़ जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, अलापुझा, मलप्पुरम, कोझीकोड और वायनाड जिलों में ऑरेंज अलर्ट है। वहीं कन्नूर और कासरगोड जिलों में येलो अलर्ट जारी है। भारतीय मौसम विभाग ने रविवार को भी और बारिश की चेतावनी दी है।

 

Corona vaccine for children: 2 साल से 18 साल के बच्चों के लिए Covaxin को मंजूरी

12-Oct-2021

नई दिल्ली (इंडिया) Corona vaccine for children: देश में बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी खुशखबरी है। बच्चों के लिए वैक्सीन को सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमिटी की मंजूरी मिल गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की कमिटी ने बच्चों के लिए बनी भारत बायोटेक के कोवैक्सीन को अपनी मंजूरी दे दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारत बायोटेक की कोवैक्सीन अब देश में  2 से 18 साल तक के बच्चों को दी जाएगी। केंद्र सरकार की तरफ से इसको लेकर जल्द गाइडलाइंस जारी की जाएंगी।

कोवैक्सीन (Covaxin Corona Vaccine) कोरोना टीके को बच्चों के लिए मंजूरी मिल जाती है तो यह राहत की बात होगी। क्योंकि कोरोना की संभावित तीसरी लहर में बच्चे सबसे ज्यादा प्रभावित होंगे, ऐसा माना जा रहा है।

भारत की बात करें तो अभी देश में 18 साल से ऊपर के लोगों को कोरोना टीका लगाया जा रहा है। इसमें कोविशील्ड, कोवैक्सीन और स्पूतनिक का कोरोना टीका लगाया जा रहा है। भारत में अबतक 95 करोड़ कोरोना टीके लगाए जा चुके हैं।

इससे पहले अगस्त में भारत ने जायडस कैडिला के कोरोना टीके को भी आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दी थी। यह पहली DNA बेस वैक्सीन है। यह वैक्सीन 12 से 18 साल के बच्चों को लगनी है।

नवरात्रि ऑफर: SBI ने कार, पर्सनल और गोल्ड लोन पर प्रोसेसिंग फीस की माफ, कम ब्याज पर मिल रहा कार लोन

11-Oct-2021

नई दिल्ली (इंडिया)। बीते एक महीने में कई बैंकों ने होम लोन पर कई तर‍ह ऑफर दिए हैं। कही बैंकों ने होम लोन की ब्‍याज दरों में कमी की है। प्रोसेसिंग फीस में राहत मिलने से शुरूआती दौर में काफी मदद मिलती है साथ राहत भी मिलती है। आइए आपको भी बताते हैं कि मौजूदा समय में कौन सा बैंक आपको होम लोन पर प्रोसेसिंग फीस में छूट दे रहे हैं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानी SBI इस नवरात्रि आपके लिए खास ऑफर लेकर आया है। SBI कम ब्याज दर पर पर्सनल, कार और गोल्ड लोन दे रहा है। इसके अलावा बैंक ने प्रोसेसिंग फीस नहीं लेने का भी फैसला किया है।

SBI 7.25% की शुरुआती ब्याज दर पर कार लोन दे रहा है। आप कार की ऑन रोड प्राइस का 90% तक लोन ले सकते हैं। गोल्ड लोन 7.50% की दर पर उपलब्ध रहेगा। वहीं पर्सनल लोन की बात करें तो इसकी ब्याज दर की शुरुआत 9.60% से हो रही है। इन लोन पर आपको प्रोसेसिंग फीस नहीं देनी होगी।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने त्योहारी सीजन में नया धमाका पेश किया है। बैंक ने कहा है कि अब 75 लाख रुपए तक के होम लोन पर ब्याज की दर एक समान रहेगी। ब्याज की दर 6.70% रहेगी। पहले अलग-अलग लोन अमाउंट पर अलग-अलग ब्याज दर लगती थी। इसके अलावा आपको होम लोन लेने के लिए प्रोसेसिंग फीस भी नहीं देनी होगी।

बैंक ने पर्सनल लोन के लिए आवेदन करने वाले कोविड योद्धाओं यानी फ्रंटलाइन हेल्थकेयर वर्कर्स को 50 बीपीएस की विशेष ब्याज रियायत की भी घोषणा की है, जो जल्द ही कार और गोल्ड लोन के तहत भी आवेदन के लिए उपलब्ध होगी।

रिटेल जमाकर्ताओं के लिए बैंक स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने पर प्लैटिनम सावधि जमा शुरू कर रहा है। ग्राहक अब 15 अगस्त से 14 सितंबर 2021 तक 75 दिनों, 75 सप्ताह और 75 महीने की अवधि के लिए सावधि जमा पर 15 बीपीएस तक अतिरिक्त ब्याज फायदा मिलेगा।

एसबीआई के MD (रिटेल और डिजिटल बैंकिंग) सी एस सेट्टी ने कहा कि हमें त्योहारी सीजन से पहले अपने सभी खुदरा ग्राहकों के लिए कई ऑफर्स दे रहे हैं। हमें विश्वास है कि इन ऑफर्स से ग्राहकों को लोन और सेविंग पर फायदा मिलेगा।