Wednesday,06 July 2022   03:42 pm

CGSOS Result 2022: छत्तीसगढ़ ओपन स्कूल 10वीं 12वीं का रिजल्ट जारी, डायरेक्ट लिंक से देखें मार्क्स

03-Jun-2022

छत्तसीगढ़ राज्य ओपन स्कूल (सीजीएसओएस) ने कक्षा 10वीं और 12वीं परिणाम 2022 की घोषणा कर दी है। शुक्रवार, 03 जून को छत्तीसगढ़ ओपन स्कूल बोर्ड रिजल्ट 2022 (CGSOS Result) जारी किया गया। हाई स्कूल और हायर सेकंडरी दोनों कक्षाओं के नतीजे एक साथ जारी किए गए हैं। छत्तीसगढ़ ओपन स्कूल क्लास 10 और 12 रिजल्ट 2022 का लिंक ऑफिशियल वेबसाइट sos.cg.nic.in पर एक्टिव किया गया है। जिन स्टूडेंट्स ने सीजीएसओएस 10वीं 12वीं की परीक्षा (CGSOS 10th 12th) दी थी, वे अब अपने मार्क्स चेक कर सकते हैं। आप इस खबर में आगे दिए गए डायरेक्ट लिंक पर क्लिक करके भी दोनों रिजल्ट और मार्कशीट डाउनलोड कर सकते हैं। ओपन परीक्षा की 10वीं में कुल 42 हजार 156 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था, जिसमें 25 हजार 248 लड़के और 16908 लड़कियां थी। उनमें से 36411 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। इनमें से 5042 प्रथम श्रेणी से, द्वतीय श्रेणी से 8947 छात्र और तृतीय श्रेणी से 5245 छात्र-छात्राएं पास हुई है।

छत्तीसगढ़ बोर्ड ओपन स्कूल रिजल्ट 2022 क्लास 10 का पास परसेंटेज 53.07 फीसदी रहा है। सीजी एसओएस हाईस्कूल रिजल्ट 2022 में 56.64% लड़कियां और 50.58% लड़के पास हुए हैं। वहीं, छत्तीसगढ़ ओपन स्कूल हायर सेकंडरी यानी क्लास 12 में इस साल कुल पास प्रतिशत 64.03 रहा है। सीजीएसओएस 12वीं में लड़कियों का पास प्रतिशत 66.11 और लड़कों का 62.28 रहा है।

सीजी ओपन स्कूल रिजल्ट डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें-

CGSOS 10th Result 2022 Download Link

CGSOS 12th Result 2022 Download Link

रायपुर में 1 लाख अनियमित कर्मचारी हड़ताल पर, मांग पूरी नहीं हुई तो होगा बड़ा आंदोलन

03-Jun-2022

छत्तीसगढ़ में शुक्रवार को 1 लाख से अधिक कॉन्ट्रैक्ट बेस कर्मचारी हड़ताल पर हैं। इसकी वजह से राज्य में सेवाओं में हाहाकार मच सकता है। दरअसल, हड़ताल पर जानेवाले सभी कर्मचारी अनियमित हैं और खुद को परमानेंट किए जाने की मांग कर रहे हैं। इन कर्मचारियों की राज्य सरकार से मांग है कि वो अपने चुनावी वादे को पूरा करे और हमें नियमित किया जाए। इन कर्मचारियों की मांग है कि हमें 1 साल बाद नियमितीकरण देने का वादा किया गया जो आज तक पूरा नहीं हुआ। पिछले 3 साल में नियमितीकरण के लिए गठित कमेटी की रिपोर्ट पूरी नहीं हुई है। आपको बता दें कि कांग्रेस ने 2018 के विधानसभा चुनाव में वादा किया था कि अनियमित कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा।

कांग्रेस पार्टी के इस चुनावी वादे को लेकर अब छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ के बैनर तले रायपुर में शुक्रवार को 1 लाख से अधिक कर्मचारी धरने पर बैठेंगे। संगठन के संयोजक गोपाल साहू ने बताया कि हम इस हड़ताल के माध्यम से सरकार को यह चेतावनी दे रहे हैं कि समय-सीमा में अगर अनियमित कर्मचारियों को नियमित नहीं किया तो 1 सितम्बर से पूर्ण कामबंदी के साथ अनिश्चित कालीन आन्दोलन होगा।

छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ की तरफ से तमाम पदाधिकारियों ने साझ़ा बयान देकर कहा है कि कहा कि हम चेतावनी देने जा रहे हैं, क्योंकि कांग्रेस पार्टी का 10 दिन में नियमितीकरण का वादा था, जो अब साढ़े 3 साल बीतने के बाद भी पूरा नहीं हुआ।

अब 10 मिनट में आपके घर पहुंचेगी शराब, होम डिलीवरी को आबकारी विभाग ने दी मंजूरी

टैक्स फ्री हुई अक्षय कुमार की फिल्म 'सम्राट पृथ्वीराज', विवादों में रही है फिल्म

भारत में वापसी करेगा लोकप्रिय TikTok ऐप

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने फिल्म ‘भूलन द मेज‘ को किया टैक्स-फ्री, कहा- बहुत दिनों बाद शानदार फिल्म देखने को मिली

03-Jun-2022

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में बनी नेशनल फिल्म अवार्ड प्राप्त फिल्म 'भूलन द मेज' को टैक्स फ्री करने की घोषणा की है। बुधवार शाम को फिल्म देखने के बाद उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बहुत दिनों बाद इतनी शानदार फिल्म देखने को मिली है। 

यह छत्तीसगढ़ के ग्रामीण जीवन पर आधारित है। उन्होंने का कि इस फिल्म में छत्तीसगढ़ के लोगों की सरलता सहजता दिखाई गई है। एक दूसरे को मदद करने की जो भावना फिल्म में दिखाई गई है, वह छत्तीसगढ़ के लोगों की मूल भावना है। 

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि इस फिल्म का निर्देशन बहुत अच्छा है। फिल्मांकन भी बहुत शानदार है। सीएम भूपेश ने फिल्म के सभी कलाकारों के अभिनय की प्रशंसा करते हुए फिल्म को टैक्स फ्री करने की घोषणा की है।
उन्होंने कहा कि भूलन कांदा के माध्यम से छत्तीसगढ़िया लोगों के मूल स्वभाव का सिनेमा में जिस तरह दिखाया गया है, वो काबिले तारीफ है। छत्तीसगढ़ की सुंदर संस्कृति का जो फिल्मांकन हुआ है वो बहुत अच्छा हुआ है। 
लोक गीतों को जो जगह दी गई है औऱ छत्तीसगढ़ के गांवों को जिस तरह सिनेमा में उकेरा गया है उससे पता चलता है कि हमारे गांव कितने सुंदर हैं। उनमें एक-दूसरे के प्रति सहयोग की कितनी भावना है। किस तरह से सामूहिक रूप से गांव में निर्णय होता है और लोग एक दूसरे के साथ हर परिस्थिति में खड़े रहते हैं।

भारत में वापसी करेगा लोकप्रिय TikTok ऐप

कुछ घंटों के लिए करोड़पति बन गए इस बैंक के ग्राहक, कहीं आपका भी तो नहीं है यहां खाता, फटाफट चेक करें अकाउंट

टमाटर मचा रहा महंगाई का शोर, खुदरा कीमतें 80 रुपये प्रति किलोग्राम तक बढ़ीं

02-Jun-2022

Tomato Price Chhattisgarh : टमाटर की महंगाई का मीटर लगातार ऊपर ही जा रहा है। कीमतें आसमान छू रहीं हैं। टमाटर की खुदरा कीमतें बुधवार को एक महीने पहले के मुकाबले छत्तीसगढ़ में 80 रुपये प्रति किलोग्राम तक बढ़ गईं हैं। 

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, टमाटर की संभावित कम सप्लाई के चलते कीमत (Tomato Price) में तेजी आई है।
छत्तीसगढ़ में भी 20 दिन पहले तक टमाटर 70-80 रुपए किलो बिका, लेकिन रेट तेजी से घटते हुए अब चिल्हर बाजार में 40 रुपए किलो तक भी उतर गए हैं और व्यापारियों के मुताबिक अभी देश में सबसे सस्ता टमाटर बंपर लोकल आवक की वजह से छत्तीसगढ़ में ही है। 

 

छत्तीसगढ़ के गौठान को देखने के लिए पहली बार विदेश से आए लोग, की पूरे इकोसिस्टम तारीफ

01-Jun-2022

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार की गोधन योजना के तहत चलाई जा रही गोठान को देखने को लिए जापान ले लोगों की टीम दुर्ग जिले पहुंची। इस योजना के इकोसिस्टम को देखकर जापान के लोग काफी खुश हुए। छत्तीसगढ़ के दुर्ग के धमधा विकास खंड के संडी गांव में संचालित गौठान को देखने के लिए जापान से लोग पहुंचे। यह टीम जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जीका) के अधिकारी हैं।

दरअसल जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जीका) के अधिकारयों की टीम दुर्ग जिले के विभागीय अधिकारयों के साथ धमधा विकासखंड के संडी गौठान पहुंचे। जहां उन्होंने गौठान में किये जा रहे कामों को देखने के साथ-साथ यहां होने वाली आजीविका मूलक गतिविधियों का निरीक्षण किया।

गायों के संरक्षण और उनके द्वारा दिए गए उत्पाद से कैसे एक इकोसिस्टम का निर्माण किया जा सकता है, यह देख कर जापान का दल बहुत खुश हुआ।

उनके द्वारा गौठान में वर्मी कपोस्ट खाद का उत्पादन, हैचरी, ब्रूडिंग हाउस, पोल्ट्री रैरिंग, बटेर पालन, सामुदायिक बाड़ी और स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कार्यों का अवलोकन किया गया।

क्या दुनिया में पैर पसार रहे मंकीपॉक्स वायरस के खिलाफ मौजूद है कोई वैक्सीन? कैसे फैलता है? क्या हैं लक्षण?

गेंहू के बाद अब भारत ने रोका चीनी का निर्यात, क्या हैं कारण?

Netflix Users को जोरदार झटका! अब किसी और के साथ शेयर किया अपना Password तो देना होगा Extra Charge

सरिया और सीमेंट हो गया सस्ता, मजबूत घर बनाने का सबसे अच्छा मौका

31-May-2022

अपना घर बनाना हर किसी का सपना होता है। लोग अपना घर बनाने के लिए सालों से पैसे जोड़ते रहते हैं। ऐसे लोगों के सपनों पर महंगाई की मार कुठाराघात बनकर आई है। हालांकि पिछले कुछ महीनों से लोगों के लिए मुश्किलें पैदा कर रही महंगाई के बीच एक अच्छी खबर भी आई है। घर बनाने के लिए जरूरी कई बिल्डिंग मटीरियल (Building Materials) की कीमतें बीते दिनों में काफी कम हुई हैं। इस कारण अपने सपनों का घर बना पाना अब आसान हो गया है। 

 

राजय के फैक्ट्रियों में सरिया इन दिनों 60 हजार रुपये प्रति टन तक बिक रहा है और रिटेल मार्केट में 62 से 63 हजार रुपये प्रति टन तक बिक रहा है। इस प्रकार सरिया की कीमतों में 15 फीसद से अधिक की गिरावट आ गई है। कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में तो इनकी कीमतों में और गिरावट के संकेत बने हुए है। वहीं सीमेंट भी 275 रुपये प्रति बोरी पहुंच गया है।

कारण : बताया जा रहा है कि सरिया की कीमतों में गिरावट के पीछे सबसे बड़ा कारण यह है कि प्रदेश में सरकारी कामों की रप्तार बंद है और कच्चे माल के निर्यात पर टैक्स लगा हुआ है। आने वाले कुछ दिनों में ही सरिया रिटेल मार्केट में 60 हजार रुपये प्रति टन से नीचे जाने की उम्मीद बनी हुई है।

GOOD NEWS: अब भूकंप आने पहले से मिल जाएगी जानकारी, ये तकनीक बचाएगी हजारों की जान

BJP नेता की ओवैसी को चुनौती, हम सभी मस्जिदें खोदेंगे, शिवलिंग मिले तो हमारा और शव मिले तो तुम्हारे

Chhattisgarh Monsoon News : छत्तीसगढ़ में कब आएगा मानसून? नौतपा का नहीं दिख रहा असर, जानें- मौसम का ताजा अपडेट

30-May-2022

मानसून का इंतजार अब लगभग खत्म हो गया है। मौसम विभाग ने बताया है कि दक्षिणी-पश्चिमी मानसून ने देश में दस्तक दे दी है, रविवार को विभाग ने इसकी पुष्टि की है। दिल्ली के कुछ हिस्सों में रविवार शाम को हल्की बारिश हुई, जिससे झुलसाने वाली गर्मी से राहत मिली। इधर दक्षिण-पश्चिम मानसून अपने निर्धारित समय एक जून से तीन दिन पहले रविवार को केरल पहुंच गया।

25 मई से नौतपा की शुरुआत हो गई है, 4 दिन बीत जाने के बाद भी अधिकतम तापमान 42.1 डिग्री तक ही पहुंच पाया है। मानसून की बात करें तो इस बार मानसून 10 जून तक छत्तीसगढ़ पहुंचने की आशंका जताई जा रही है। केरल में मानसून आज पहुंच गया है। हालांकि छत्तीसगढ़ में 7 जून तक मानसून पहुंचने का अनुमान जताया जा रहा था लेकिन इस बार मानसून पहुंचने में थोड़ी देरी होने की बात सामने आ रही है।

मौसम वैज्ञानिक की मानें तो उत्तर उड़ीसा के ऊपर 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित चकरी चक्रवात घेरा दिखाई पड़ रहा है, जिससे कि प्रदेश में थोड़ी मात्रा में उत्तर-पश्चिमी हवाओं का आगमन हो सकता है, इसके कारण अधिकतम तापमान गिरने की संभावना नहीं है। रविवार को प्रदेश के एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश होने के साथ-साथ गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।

Singapore Beer: पेशाब से बनाई जा रही है बीयर, जानिए इसकी हैरान कर देने वाली वजह

अच्‍छी खबर : सीमेंट, सरिया की कीमतें गिरी, 10 हजार रुपये की आई गिरावट, जानें-और कितना कम हो सकता है दाम

 

Chhattisgarh: अब स्कूल शिक्षा विभाग ने छुड़ाएगी बच्चों के मोबाइल की लत

27-May-2022

Raipur: आजकल बच्चों के हाथ में स्कूल की किताबें कम मोबाइल अधिक नज़र आता है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि बच्‍चे के हाथ में, जो स्‍मार्टफोन आपने थमाया है वो बच्चे कितना खतरनाक है? एक्सपर्ट  कहतीं हैं कि मोबाइल यूज करने से बच्चों में डिप्रेशन, अनिद्रा व चिड़चिड़ापन जैसी मानिसक समस्याएं बढ़ रही हैं। सिर्फ इतना ही सिर दर्द, भूख न लगना, आंखों की रोशनी कम होना, आंखों में दर्द, आदि जैसी बीमारियां भी बच्चों में देखने को मिल रहीं हैं।

अब इस राज्य में मस्जिद के नीचे मिला मंदिर का ढांचा, स्थानीय प्रशासन ने लागू की धारा 144

अगर माता पिता ने अभी से बच्चों पर ध्यान नहीं दिया तो वो दिन दूर नहीं, जब बच्चा कम उम्र में बड़ी बीमारियों से ग्रस्त हो जाएगा। ऐसे में नए सत्र से स्कूल शिक्षा विभाग बच्चों को अनुशासित करने और उनकी मोबाइल की लत छुड़ाने के लिए पठन-पाठन के माड्यूल में बड़ा बदलाव करने की तैयारी में है। छत्तीसगढ़ में दो हजार शिक्षकों ने बच्चों के अभिभावकों से फीडबैक में पाया है कि यहां लगभग 50% बच्चों में मोबाइल की लत हावी हो गई है। बच्चे घर में भी किसी का कहना-सुनना नहीं मान रहे हैं। उनमें अनुशासन की कमी दिख रही है।

शिक्षक-अभिभावक इन बच्चों को कैसे संयमित करें, इसे लेकर राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (SCERT) ने काम करना शुरू कर दिया है। एससीईआरटी के अतिरिक्ति संचालक Dr. Yogesh Shivhare ने बताया कि बच्चों को अनुशासित करने और उन्हें मोबाइल की लत से बाहर निकालने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग नए सिरे से शिक्षण माड्यूल बना रहा है।

Chhattisgarh की इस योजना में बेटियों को शादी के लिए मिलेंगे 25 हजार रुपए, जानिए कैसे करें आवेदन

अच्‍छी खबर : सीमेंट, सरिया की कीमतें गिरी, 10 हजार रुपये की आई गिरावट, जानें-और कितना कम हो सकता है दाम

27-May-2022

भवन निर्माण सामग्री की मांग में आई सुस्ती के चलते इन दिनों सरिया और सीमेंट की कीमतों में गिरावट आ गई है। यदि माह भर पहले की तुलना की जाए तो सरिया आठ हजार रुपये प्रति टन सस्ता हुआ है और सीमेंट के दाम 20 दिनों में ही 60 रुपये तक गिरा है।

कारोबारियों का कहना है कि बाजार का हाल ऐसा ही रहा तो आने वाले दिनों में इनकी कीमतों में और गिरावट आ सकती है। उपभोक्ताओं को भी इनकी कीमतों में गिरावट का इंतजार है।

इस वर्ष गर्मियों के सीजन में सरिया और सीमेंट के भाव सातवें आसमान पर पहुंच चुकी थी। प्रति टन सरिया 75 से 80 हजार रुपए में बिक्री हो रही थी। इसके अलावा सीमेंट 350 रुपए प्रति बोरे में बिक्री हो रही थी। जो की अब तक सर्वाधिक भाव है। जिसके चलते बिल्डरों और निजी का मकान बना रहे लोगों ने बढ़ते दाम के कारण मकान बनाना बीच में ही छोड़ दिया। जिससे पिछले एक महीने से सीमेंट और सरिया का डिमांड घट गया है। यही वजह है सीमेंट और सरिया कंपनी वालों ने दाम घटा दिया है।

छत्तीसगढ़ मिनी स्टील प्लांट एसोसिएशन के महामंत्री मनीष धुप्पड़ ने कहा, बाजार में जब तक डिमांड शुरू नहीं होगी, बाजार ऐसा ही रहेगा। रा मटेरियल की कीमत में तो अभी ज्यादा गिरावट नहीं है,लेकिन उनके फिनिश उत्पादों के दाम काफी गिरते जा रहे है। इसकी वजह से उद्योगों का उत्पादन भी प्रभावित हुआ है।

3 माह में सीमेंट में उतार-चढ़ाव

  • 20 मार्च 290-300 रुपये प्रति बोरी
  • 20 अप्रैल 300-310 रुपये प्रति बोरी
  • 01 मई 340 रुपये प्रति बोरी
  • 20 मई 280 रुपये प्रति बोरी
  • सरिया की कीमत में 11 और सीमेंट में 18 फीसद गिरावट आई है।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के पहले फीफा एप्रूव्ह सिंथेटिक फ़ुटबाल ग्राउंड विथ रनिंग ट्रैक का उद्गघाटन कर खिलाड़ियों को सौगात दी

26-May-2022

आज संभागीय मुख्यालय जगदलपुर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इंदिरा प्रियदर्शिनी स्टेडियम का शुभारंभ किया है। प्रदेश के पहले फीफा अप्रूव सिंथेटिक फुटबॉल ग्राउंड विथ रनिंग ट्रैक का उद्घाटन कर खिलाड़ियों को बड़ी सौगात दी है। मुख्यमंत्री (CM BHUPESH BAGHEL) ने यहां धावकों के साथ दौड़ भी लगाई। साथ ही खिलाड़ियों के साथ बास्केटबॉल और फुटबॉल भी खेला है। खिलाड़ियों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दीं।

मुख्यमंत्री (CM BHUPESH BAGHEL)  ने प्रियदर्शिनी स्टेडियम में 56 करोड़ 42 लाख रुपए के 27 विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया गया है। इनमें 44 करोड़ 54 लाख रुपए के 17 कार्यों का लोकार्पण और 11 करोड़ 88 लाख से अधिक राशि के 8 विकास कार्यों का भूमि पूजन शामिल हैं। इसके अलावा बस्तर में ग्रास रूट लेबल पर सामुदायिक फुटबॉल को और अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए ओडिशा भुवनेश्वर की आर्डोर फुटबॉल अकादमी, बस्तर जिला फुटबॉल संघ और बस्तर जिला प्रशासन के बीच MOU किया गया है। इससे बस्तर के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक उपलब्ध हो सकेंगे।

अब इस राज्य में मस्जिद के नीचे मिला मंदिर का ढांचा, स्थानीय प्रशासन ने लागू की धारा 144

Chhattisgarh की इस योजना में बेटियों को शादी के लिए मिलेंगे 25 हजार रुपए, जानिए कैसे करें आवेदन

Chhattisgarh की इस योजना में बेटियों को शादी के लिए मिलेंगे 25 हजार रुपए, जानिए कैसे करें आवेदन

26-May-2022

जानिए योजना की पात्रता :

  • योजना का लाभ लेनी वाली कन्या छत्तीसगढ़ की स्थाई निवासी होनी चाहिए।
  • कन्या की उम्र 18 या उससे ज्यादा हो।
  • इस योजना का लाभ लेने वाली कन्या आर्थिक रूप से कमजोर परिवार से होनी चाहिए।

जना के लिए जरूरी दस्तावेज :

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • विवाह प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

ये है इस के लाभ और विशेषताएं :

इस योजना के तहत सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर परिवार की बेटियों को शादी के दौरान 25000 रुपए की आर्थिक मदद करेगी।

इस योजना का संचालन छत्तीसगढ़ के महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया जाता है।

इस योजना का लाभ वो ही बेटियां उठा सकती है जिनकी उम्र 18 साल या फिर उससे ज्यादा की हो।

इसके अलावा एक परिवार से सिर्फ दो बेटियां इस योजना का लाभ ले सकती हैं।

योजना की खासियत ये है कि इसमें विधवा, अनाथ एवं निरीक्षक कन्याएं को भी लाभ मिलेगा।

इसके अलावा इस योजना के माध्यम से सामूहिक विवाह को प्रोत्साहन मिलेगा एवं दहेज के लेनदेन पर भी रोकथाम लगेगी।

ऐसे करें योजना के लिए आवेदन :

  • इसके आवेदन के लिए सबसे पहले आपको आंगनवाड़ी कार्यकर्ता/ पर्यवक्षेक/ बाल विकास परियोजना अधिकारी/ जिला कार्यक्रम अधिकारी/जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी के पास जाना होगा।
  • फिर वहां से आप छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना का आवेदन पत्र ले लें।
  • फिर आपको इस फार्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी को सावधानीपूर्वक भरना होगा।
  • फिर आप इस फार्म के साथ सभी जरूरी दस्तावेजों को अटैच कर दें।
  • इसके बाद आप ये आवेदन पत्र संबंधित कार्यालय में जमा करवा दें।

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का नया फॉर्मूला, इन नेताओं को छोड़ना पड़ेगा पद

26-May-2022

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि एक और 2 जून को प्रदेश स्तरीय कार्यशाला का आयोजन होगा। इस कार्यशाला में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, सभी विधायक, सांसद और मोर्चा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शामिल होंगे। बैठक में उदयपुर चिंतन शिविर के निर्णयों को छत्तीसगढ़ में क्रियान्वित करने पर चर्चा होगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि हम उन निर्णयों को अमल करेंगे। सभी जिलों में भी इसके बाद कार्यशाला होगी।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी सचिव सप्तगिरि शंकर उल्का ने कहा कि उदयपुर में जो भी डिसीजन लिया है। उसे यहां कैसे लागू करें इसे लेकर 1 और 2 जून को कार्यशाला में निर्णय लेंगे। 2023 की तैयारी हमने शुरू कर दिया है। हमारी कुछ कमजोरी भी है जिसे हम कैसे ठीक कर सके ये भी देखना है। युवाओं को ज्यादा से ज्यादा जोड़ना है। इसलिए जरूरी चेंजेस पर विचार किया जा रहा है।

लंबे समय से जमें लोगों को छोड़ना होगा पद : सप्तगिरि शंकर उल्का ने कहा कि 50-50 फॉर्मूला जरूरी भी है। संगठन में ब्लॉक, जिला अध्यक्ष जैसे पदों पर ये लागू करने की फिलहाल कवायद है। 5 साल से ज्यादा कोई एक पद पर है तो उसे भी पद छोड़ना होगा। 13 और 14 जून को जिलों में कार्यशाला होगी। 75 किलोमीटर हर जिले में पदयात्रा कांग्रेस नेता करेंगे। ये आजादी गौरव यात्रा होगी। एक व्यक्ति एक पद सहित चिंतन शिविर के तमाम फैसलों को लेकर चर्चा होगी।

Indian Railway इंडियन रेलवे के लिए आफत बना ‘रसगुल्ला! ट्रेनें हुईं रद्द, यात्री हुए परेशान

इंडियन रेलवे के लिए आफत बना ‘रसगुल्ला! ट्रेनें हुईं रद्द, यात्री हुए परेशान

Good News: खाने के तेल जल्द होंगे सस्ते, सरकार ने दो साल के लिए शुल्क-मुक्त आयात की अनुमति दी

Chhattisgarh Weather Report: मौसम का मिजाज:मानसून 16 साल में 13 बार लेट, अब कम झड़ी नौतपा आज से, लेकिन कम पड़ सकती है गर्मी

25-May-2022

Chhattisgarh Weather Update: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखने लगा है. छत्तीसगढ़ में मानसून आने की तारीख 10 जून है, लेकिन पिछले 16 साल में यह 13 बार लेट रहा है। पिछले साल 11 जून को यानी केवल एक दिन की देरी से मानसून ने दस्तक दी थी। विशेषज्ञों के अनुसार लगातार लेट मानसून के अलावा बड़ा बदलाव यह भी दिख रहा है कि छत्तीसगढ़ में बारिश के मौसम में लगनेवाली झड़ी के दिन काफी कम हो गए हैं।

भारतीय मौसम विभाग(India Meteorological Department) के अनुसार, पश्चिमी हिमालय, उत्तर प्रदेश, झारखंड, बिहार और मध्य प्रदेश में बारिश की गतिविधियां कम हो जाएंगी। जबकि 25 मई को दक्षिण छत्तीसगढ़, तटीय आंध्र प्रदेश, केरल, दक्षिण कर्नाटक, लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है और तेलंगाना, कोंकण और गोवा और पूर्वी राजस्थान और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है।

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा उत्तर झारखंड और उसके आसपास 3.1 किमी ऊंचाई तक है। इसके प्रभाव से ही बुधवार को प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में हल्की वर्षा होने के आसार हैं। साथ ही गरज-चमक के साथ छींटे भी पड़ेंगे। प्रदेश के अधिकतम तापमान में विशेष बदलाव की संभावना नहीं है।

Chhattisgarh: राष्ट्रपति से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को गोली मारने का आदेश मांगने वाला युवक गिरफ्तार

25-May-2022

छत्तीसगढ़ पुलिस ने राज्य के मुख्यमंत्री की हत्या का आदेश जारी करने की मांग करने वाले एक युवक को गिरफ्तार किया है। युवक का नाम महर्षि गौतम बताया जा रहा है।
जानकारी के मुताबिक, गौतम ने फेसबुक पर धमकी भरी पोस्ट लिखते हुए राष्ट्रपति से छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को चौराहे पर गोली मारने की अनुमति मांगी थी। इसकी सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया और तुरंत गौतम को गिरफ्तार कर लिया गया। आइये पूरी खबर जानते हैं।

शुक्रवार को आरोपी ने की थी विवादित पोस्ट :
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह मामला गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले का है। यहां के पतगवां गांव के रहने वाले गौतम खुद को राष्ट्रीय स्वाभिमान पार्टी छत्तीसगढ़ का उपाध्यक्ष बताते हैं।
उन्होंने शुक्रवार को फेसबुक पर पोस्ट कर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से गुहार लगाई कि वो भूपेश बघेल को चौराहे पर गोली मारने का आदेश दें।
एक स्थानीय नेता ने इस पोस्ट को लेकर गौतम के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी थी। इसके बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पोस्ट में क्या आरोप लगाए गए थे?
आरोपी युवक ने अपनी फेसबुक पोस्ट में आरोप लगाए थे कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार की शिकायतों पर कोई कार्रवाई नहीं करती है। मनरेगा कर्मियों की मांगे पूरी नहीं की जा रही हैं और हड़ताल के बावजूद सरकार बात सुनने को तैयार नहीं है।
गौतम ने लिखा कि भूपेश बघेल ने भरोसा दिया था कि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने पर अनियमित कर्मियों को नियमित किया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और बेरोजगार युवकों को भत्ता नहीं दिया जा रहा।

राष्ट्रपति से लगाई आदेश देने की गुहार :
राज्य सरकार पर एक के बाद एक आरोप लगाते हुए गौतम ने लिखा कि हसदेव आरण्य में पेड़ों की लगातार कटाई जारी है। राज्य में गोठान बनाने के नाम पर करोड़ों की वसूली के बाद काम ठप्प कर दिया गया है।
उन्होंने राष्ट्रपति से गुहार लगाई कि मुख्यमंत्री के शासन में राजस्व और संविधान को खतरा है। ऐसे में आप बिना देरी किए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बीच चौराहे में गोली मारने का आदेश दें।

आरोपी के खिलाफ लगी गैर जमानती धारा :
यह पोस्ट सामने आने के बाद गौरेला नगर पंचायत से जुड़े एक घनश्याम ठाकुर ने पुलिस में शिकायत दी थी। इसके बाद पुलिस ने गौतम के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (02) के तहत मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। गैर जमानती धारा होने के कारण आरोपी को जेल भेजा जा चुका है।
पुलिस ने बताया कि आपत्तिजनक पोस्ट की शिकायत मिलने के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

मुख्यमंत्री बघेल बस्तर दौरे पर, कहा- दंतेवाड़ा में बदल रहा है लोगों का जीवन, आवर्ती चराई को लेकर अधिकारियों को दिए निर्देश…

24-May-2022

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री अपने भेंट मुलाकात कार्यक्रम के तहत सोमवार को दंतेवाड़ा जिले के कटेकल्याण गांव पहुंचे। यहां कई सारे विकास कार्यों की सौगात कटेकल्याण वासियों को दी। 
दरअसल घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने की वजह से यहां नक्सली किसी ना किसी वारदात को अंजाम देते थे, लेकिन पिछले कुछ सालों से नक्सलियों के बैकफुट पर आने से पहली बार राज्य गठन के 22 सालों बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री यहां पहुंचे।

इस मौके पर सीएम बघेल ने कहा कि दंतेवाड़ा में एनीमिया के खिलाफ अभियान चलाने की जरूरत है ताकि इसे जड़ से मिटाया जा सके। इसके लिए अधिकारियों को विशेष रूप से निर्देश दिया गया। सीएम बघेल ने कहा कि गौठानों का क्रियान्वयन पूरी शक्ति से करना होगा, इसके लिए वन विभाग को विशेष प्रयास करना होगा। आवर्ती चराई को लेकर कहा कि इसके लिए छोटे नहीं बड़े रकबे में व्यवस्था की योजना बनाई जाए। उन्होंने कहा कि अगली बार आऊंगा तो बस्तर में केवल आवर्ती चराई के फील्ड देखने जाऊंगा।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि क्षेत्र की नक्सल समस्या अकेले पुलिस की समस्या नहीं है बल्कि यह सभी के जीवन को प्रभावित कर रहा है। इसलिए पुलिस के साथ हम सबके सम्मिलित प्रयास से ही नक्सल समस्या का समाधान किया जा सकता है। समीक्षा बैठक के दौरान सीएम बघेल ने गोठानों में लापरवाही के लिए अधिकारियों पर नाराजगी जताई।
सीएम बघेल ने कहा है कि अंधरूनी इलाकों तक शासन की योजनाएं पहुंच रही हैं और प्रशासन भी गांव गांव तक पहुंच रहा है। लोगो को यहां रोजगार मिल है। उन्होंने कहा कि हमें गांव को यूनिट मान कर युवाओं को रोजगार से जोड़ना है। आदिवासियों के बीच शिक्षा के प्रति रुझान बढ़ रहा है जो कि सकारात्मक नजरिया है। सीएम बघेल ने कहा कि बस्तर प्राकृतिक सौंदर्य और अपनी जीवन शैली के लिए प्रसिद्ध है। सरकार का प्रयास है कि बस्तर में पर्यटन की सुविधाओं को बढ़ाना है ताकि देश विदेश से पर्यटक यहां आए।

Raipur: अब यहां होगी नि:शुल्क स्पाईन एवं ऑथोपैडिक सर्जरी, शरीर से जुड़ी कई समस्याओं का होगा समाधान | FESN NEWS

25-May-2022

अगर आप में से किसी को भी हडि्डयों, जोडों या रीढ़ से जुड़ी कोई भी समस्या है तो घबराए नहीं हम आपके लिए बहुत काम की खबर लाए है। रायपुर में ऐसा कैंप (Medical camp) लगाया जा रहा है, जहां इन रोगों का इलाज बिलकुल मुफ्त होगा। शरीर से जुडी हुई इन समस्याओं का समाधान सर्जरी के ज़रिये किया जाएगा वो भी पूरी तरह से नि:शुल्क।

यह निशुल्क इलाज रायपुर के देवेंद्र नगर स्थित श्री नारायणा हॉस्पिटल में किया जाएगा। इसके लिए एक कैंप भी लगाया जा रहा है। इस कैंप का आयोजन Sri Narayana Hospital, ASSI ( Association of Spine Surgeons of India ), Bombay Spine Society and Kaushalya Kundnani Health Foundation की तरफ से किया जा रहा है। यहाँ आप अपना नि:शुल्क स्पाईन एवं ऑथोपैडिक सर्जरी करवा सकेंगे।

डॉ सुनील खेमखा ने बताया कि इस साल 11 जुलाई को हमारे अस्पताल के 11 साल पूरे हो रहे है, इसलिए हमने इस शुभ अवसर पर इस नि:शुल्क मेगा स्पाइन एवं ऑर्थोपेडिक सर्जरी कैंप का आयोजन करने की सोची। साथ ही इस कैंप में देश भर से जाने-माने स्पाइन सर्जन, जॉइंट रिप्लेसमेंट सर्जन और आर्थोपेडिक सर्जन आएंगे और अपनी सेवाएं देंगे।

ऐसे ले सकेंगे आप इसका फ़ायदा :- यह कैंप कुल पन्द्रह दिनों का होगा। इसकी शुरुआत सोमवार 23 मई से होगी और शनिवार 4 जून तक चलेगी। इस कैंप का आयोजन हर दिन दोपहर 2 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक “श्री नारायणा हॉस्पिटल परिसर” में होगा जहां मरीज अपनी नि:शुल्क जांच करवा सकते हैं। 
साथ ही विशेष आयोजन होने की वजह से यह सर्जरी आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के मरीजों के लिए फ्री में होगी। इसके साथ ही यहाँ मरीज पंजीयन करवाकर, फ्री सर्जरी की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

निःशुल्क कैंप में ये एक्सपर्ट आएंगे रायपुर :- तीन दिनों के सर्जरी कैंप में मुंबई हॉस्पिटल और लीलावती हॉस्पिटल के स्पाइन सर्जन डॉक्टर विशाल कुंदनानी, साकारा वर्ल्ड हॉस्पिटल बेंगलुरु के स्पाइन सर्जन डॉ रामचंद्र गोस्वामी,सर गंगा राम हॉस्पिटल दिल्ली के डॉक्टर शंकर आचार्य, ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल मुंबई के डॉक्टर प्रदीप मूड्त, हिंदूजा हॉस्पिटल मुंबई के डॉक्टर अभिषेक किनी,बाँबे हॉस्पिटल, के ई एम हॉस्पिटल, एवं जे जे हॉस्पिटल, मुंबई के डॉ तुषार अग्रवाल डॉक्टर प्रीतम अग्रवाल, स्पाइन सर्जन डॉक्टर मनिंद्र भूषण,न्यूरो सर्जन डॉक्टर रूपेश वर्मा एवं ट्रॉमा सर्जन डॉक्टर अम्बरीश वर्मा, जसलोक हॉस्पिटल के डॉ गौतम झावेरी, गंगा मेडिकल सेंटर एवं हॉस्पिटल कोयंबटूर के डॉक्टर अजय शेट्टी,एवं डॉक्टर राम खेमका रायपुर आएंगे।

Tags:- free orthopaedic surgery raipur, shri narayan hospital,

टीचर से पूछती थी सवाल, इसलिए कर दिया फेल,शिक्षा मंडल के सचिव बोले, बच्ची शिकायत करे, तो देखेंगे मार्कशीट

24-May-2022

कोटा विकासखंड के सेमरा नामक एक गांव की रहने वाली जयंती साहू ने यह शिकायत दर्ज करवाई है। यह छात्रा शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चपोरा में 11वीं में पढ़ती है।उसके पिता गुलाब साहू स्वयं भी शासकीय हाई स्कूल बछालीखुर्द में व्याख्यता और प्रभारी प्राचार्य के पद पर हैं। जयंती ने इस साल 10वीं की परीक्षा दी थी, लेकिन जब बोर्ड परीक्षा के नतीजे आये,तो वह भौंचक रह गई।जयंती को परीक्षा में 68 प्रतिशत मिले थे,लेकिन उसे गणित के प्रैक्टिकल में अनुपस्थित बता गया था,जिसके कारण उसे पूरक परीक्षा देनी होगी।

छात्रा ने पुलिस को की गई अपनी शिकायत में बताया है कि उसने वह 6 विषयों की प्रायोगिक परीक्षा में शमिल हुई थी,इस दौरान उसने उपस्थिति पत्रक में दस्तखत भी किए थे, फिर भी उसे अनुत्तीर्ण कर दिया गया। इस संबंध में जब जयंती के पिता ने गणित की टीचर प्रिया वासिंग को फोन किया ,तो उसने बताया कि छात्रा ने कक्षा में पूरे साल साल सवाल पूछकर उसे परेशान कर दिया था, इस कारण उसने छात्रा को सबक सिखाने के लिए उसे प्रायोगिक परीक्षा में अनुपस्थित बता दिया।
बच्ची के परिजनों का कहना है कि उन्होंने इस संबंध में शिक्षिका से पूछताछ की , उन्हें समझ आया कि उनकी बच्ची को क्यों फेल किया गया है। नाराज परिजनों और छात्रा नेटीचर के खिलाफ थाने में शिकायत दी है। हालांकि रतनपुर पुलिस ने इस प्रकरण में एफआईआर दर्ज नहीं की है।

  1. Pan Masala Ad: अमिताभ, रणवीर, अजय और शाहरुख़ पर FIR दर्ज, पान मसाला विज्ञापन से बढ़ीं मुश्किलें
  2. लॉज में फंदे पर लटक रहा था Assistant Sub Inspector का शव, मचा हड़कंप

CM Baghel in Bollywood Movie : हिंदी फिल्म में किरदार निभाएंगे CM भूपेश बघेल, जानें कैसे

23-May-2022

 CM Baghel in Bollywood Movie : संकेत सरजन और काशी फिल्म प्रोडक्शन मुंबई के बैनर तले बनने वाली हिंदी फिल्म-मेरा संघर्ष की शूटिंग बालोद जिले में शुरू हुई है। जिसका एक सीन रविवार को डौंडी ब्लॉक के ग्राम घोटिया में भी फिल्माया गया। इसकी खास बात यह थी कि इस सीन में राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी मुख्यमंत्री के ही रूप में नजर आएंगे। सीएम से फिल्म में जाल डलवाया गया है। सीएम के तालाब में जाल डालते हुए इसकी शूटिंग हुई है।

फिल्मी कहानी में असली सीएम :- दरअसल फिल्म की कहानी (CM Baghel in Bollywood Movie) में हीरो जब मछली पालन करके एक बड़ा आदमी बनता है तो उनके सम्मान में खुद मुख्यमंत्री उस गांव में आते हैं और फिर हीरो के कहने पर मुख्यमंत्री तालाब में जाल डालकर उसके मछली उद्योग की शुरुआत करते हैं। ये सीन उसी पर आधारित था। रोचक बात यह है कि घोटिया में निषाद समाज के अधिवेशन में मुख्यमंत्री का आगमन हुआ था। कार्यक्रम स्थल से लगभग 500 मीटर दूर मुख्यमंत्री को एक तालाब में ले जाया गया। जहां उन्होंने फिल्म का हिस्सा बनते हुए तलाब में जाल फेंक कर इसमें अभिनय किया।