Wednesday,06 July 2022   04:15 pm

पिता को नक्सलियों ने गांव से भगाया, बेटा 12 की उम्र में बना मल्लखंभ का नेशनल चैंपियन, इंडिया बुक ऑफ रेकॉर्ड में नाम शामिल

23-May-2022

छत्तीसगढ़ के सुदूर गांव अबूझमाड़ के रहने वाले 12 साल के राकेश वर्दा को चार साल पहले अपने पिता के साथ ओरछा गांव छोड़ना पड़ा था। 

बेटे की खेल में रूचि को देखते हुए नक्सलियों ने पिता को धमकी दी थी। साथ ही कहा था कि बेटे को खेलना बंद करा दो। इसके बाद नक्सलियों के डर से पिता ने गांव छोड़ दिया था। 
पिता ने बेटे की रुचि को प्राथमिकता दी और उसे कुतुलगरपा गांव ले आए। यहां 8 साल के राकेश वर्दा को छत्तीसगढ़ स्पेशल टास्क फोर्स में काम करने वाले मनोज प्रसाद मिले जो मल्लखंभ के प्रशिक्षक हैं।
कुतुलगरपा गांव में राकेश के जज्बे को एक नई रोशनी मिली और महज 12 वर्ष की उम्र में उसने ने महाराष्ट्र के गोरेगांव में आयोजित राष्ट्रीय मल्लखंभ हैंडस्टैंड प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम कर लिया। 
राकेश ने एक मिनट छह सेकेंड तक हैंडस्टैंड करते हुए न सिर्फ विजेता का खिताब जीता बल्कि भारत और विश्व के लिए एक नया कीर्तिमान भी स्थापित कर दिया। इससे पहले भारत का बेस्ट रेकॉर्ड 30 सेकेंड का था।
मल्लखंभ हैंडस्टैंड प्रतियोगिता के लिए देश भर के 1000 खिलाड़ी शामिल हुए थे। खास बात ये है कि दूसरा स्थान भी अबूझमाड़ के रहने वाले 11 साल के राजेश कोर्राम ने प्राप्त किया। इस प्रदर्शन के साथ ही राकेश का नाम इंडिया बुक आफ रेकॉर्ड्स में दर्ज हो गया है। राकेश ने इस प्रदर्शन के लिए गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भी आवेदन किया है, जिसे स्वीकार कर लिया गया है। लेकिन इस आवेदन के लिए जरूरी 80 हजार रुपए की फीस भर पाने में राकेश समर्थ नहीं है।
राकेश की इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री ने हाथ मिलाकर उसे बधाई दी और गिनीज बुक ऑफ रेकॉर्ड्स के नामांकन में राकेश की मदद के लिए मुख्यमंत्री ने कलेक्टर नारायणपुर को निर्देश दिए हैं।
दरअसल, राष्ट्रीय मल्लखंभ हैंडस्टैंड प्रतियोगिता जीतने वाले राकेश वर्दा समेत छत्तीसगढ़ के 10 खिलाड़ियों का चयन हरियाणा में आयोजित होने वाले खेलो इंडिया प्रोग्राम के लिए किया गया है। अबूझमाड़ के जंगलों से निकलकर देश में पहचान बनाने वाले 12 साल के राकेश वर्दा के प्रदर्शन से पूरा छत्तीसगढ़ गौरवांवित है।

Raipur में शुरू हुआ ‘दवाई का लंगर’, मुख्यमंत्री ने किया उद्घाटन | 'Dawai ka Langar' started in Raipur

23-May-2022

'Dawai ka Langar' started in Raipur : अब तक लंगर हमेशा खाने का लगाई जाती है लेकिन छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पहली बार ‘दवाई का लंगर’ शुरू हुआ है, जिसका विधिवत उद्घाटन रविवार रात को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया।

नाम के अनुरूप ‘दवाई का लंगर’ नि:शुल्क दवाखाना है। यहां से मरीजों को निशुल्क जेनेरिक दवाइयां उपलब्ध कराई जा रही हैं।

पता : यह रायपुर स्तिथ देवेंद्र नगर चौक  पर खोला गया है।

इस लंगर संचालन क्षेत्रीय विधायक कुलदीप जुनेजा (MLA Kuldeep Juneja) और छत्तीसगढ़ सिख संगठन व छत्तीसगढ़ हाऊसिंग बोर्ड के अध्यक्ष  की ओर से किया जाएगा।   

वे बताते हैं कि उन्होंने जब दवाई का लंगर की योजना बनाई तो कई चिकित्सक सहर्ष इस बात के लिए तैयार हो गए कि वे नि:शुल्क अपनी सेवाएं देंगे और पहले दिन से ही यहां चिकित्सकों के आने का सिलसिला हो शुरू हो गया है।

जब इस तरह के काम शुरू होते हैं तो आम लोगों के सामने बजट का संकट आता है मगर जुनेजा कहते हैं कि उन्हें लोगों का इतना सहयोग मिलता है कि वे जिस काम को भी हाथ में लेते हैं उसे पूरा कराने में उन्हें दिक्कत नहीं जाती, क्योंकि लोगों का भरपूर सहयोग मिलता है। सहयोग करने की भी वजह होती है, क्योंकि उन्हें पता होता है कि मेरा लक्ष्य जनता और गरीबों की सेवा के साथ बेहतर सुविधाएं दिलाना ही होता है।

मुख्यमंत्री ने दी शुभकामनाएं: मुख्यमंत्री बघेल ने कार्यक्रम में नागरिकों से भेंट-मुलाकात और चर्चा करते हुए कहा कि प्रदेश के समग्र विकास के लिए हर अंचल के साथ-साथ नगरों के सुव्यवस्थित सुनियोजित विकास के लिए लगातार काम हो रहे हैं। इस कड़ी में नगरीय निकायों में नागरिकों की सुविधाओं का तेजी से विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने सौन्दर्यीकरण कार्य और ‘दवाई का लंगर‘ निःशुल्क दवाखाना के संचालन के लिए विधायक जुनेजा और महापौर ढेबर की पहल की सराहना करते हुए उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी।

बिलासपुर में स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट, सीएम ने वर्चुअल किया शिलान्यास, एक ही छत के नीचे होगा सभी प्रकार के कैंसर का इलाज

23-May-2022

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने  यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में बिलासपुर में 120 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले अत्याधुनिक ‘राज्य कैंसर संस्थान‘ का भूमि-पूजन किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि राज्य कैंसर संस्थान कैंसर के इलाज के लिए आवश्यक अत्याधुनिक उपकरणों से लैस होगा और आगामी एक वर्ष में इसका निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सहित आसपास के कैंसर मरीजों को इस संस्थान के माध्यम से कैंसर के इलाज की अच्छी सुविधा मिलेगी।
सीएम भूपेश बघेल ने वर्चुवल शिलान्यास करते हुए यह भी कहा कि यह इंस्टीट्यूट प्रदेश के ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्यों के मरीजों का भी उपचार कर सकेगा। उन्होंने कहा कि बिलासपुर संभाग के लोग इससे सबसे ज्यादा लाभान्वित होंगे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि बीते साढ़े तीन वर्षों के दौरान छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार की दिशा में लगातार किए जा रहे प्रयासों के क्रम में आज राज्य कैंसर संस्थान के भूमिपूजन के साथ एक और महत्वपूर्ण पहल की जा रही है। यह संस्थान निश्चित रूप से कैंसर के मरीजों के इलाज के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण साबित होगा। हम मरीजों को कैंसर से मुक्ति दिलाने और जीवन को बचाने के लिए और भी प्रभावी तरीके से काम कर पाएंगे।

 

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट, सीएम ने वर्चुअल किया शिलान्यास, सभी प्रकार के कैंसर का होगा इलाज

23-May-2022

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार की सुबह कोनी में 120 करोड़ की लागत से बन रहे स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट का वचुर्वल शिलान्यास किया. शिलान्यास करते हुए सीएम बघेल ने कहा कि यह प्रदेश के लिए बड़ी सौगात साबित होने वाला है. इस इंस्टीट्यूट के बन जाने के बाद सभी प्रकार के कैंसर का उपचार इस इंस्टीट्यूट में हो सकेगा, जो बड़ी चिकित्सकीय सुविधा साबित होगा.

सीएम भूपेश बघेल ने वर्चुवल शिलान्यास करते हुए यह भी कहा कि यह इंस्टीट्यूट प्रदेश के ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्यों के मरीजों का भी उपचार कर सकेगा. उन्होंने कहा कि बिलासपुर संभाग के लोग इससे सबसे ज्यादा लाभान्वित होंगे. अब कैंसर के इलाज के लिए किसी को बाहर नहीं जाना पड़ेगा. इस दौरान दौरान सासंद अरुण साव, कलेक्टर डा. सारांश मित्तर, डीन डा. केके सहारे, एमएस डा. नीरज शिंडे, डा. पुनित भारद्वाज, डा. चंद्रहास ध्रुव के साथ बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि और सिम्स के स्टाफ उपस्थित रहे.

सीजीएमएससी करेगा निर्माण

तय समय पर सेंट्रल पीडब्यूडी ने सिम्स सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल भवन का निर्माण किया है. वहीं अब स्टेट कैंसर इस्टीट्यूट के निर्माण की जिम्मेदारी सीजीएमएससी को सौंपी गई है. अब आने वाले दिनों में भवन निर्माण का काम शुरू कर दिया जाएगा, जिसे एक साल के भीतर तैयार करना होगा.

मिलेगी यह चिकित्सा सुविधा

- 100 बिस्तरों का अत्याधुनिक कैंसर वार्ड
- 20 बिस्तरों का अत्याधुनिक कैंसर आईसीयू
- सभी प्रकार की नि:शुल्क कीमोथेरेपी (टार्गेटेड, इम्मुनो, मालिक्यूलर, मेट्रोनोमिक)
- अत्याधुनिक रेडियोथेरेपी मशीन से इलाज
- दो लीनियर एक्सेलरेटर
- एक कोबाल्ट ब्रेकीथेरेपी यूनिट
- एक पीईटी स्कैन मशीन
- एक सीटी सिमुलेटर
- एमआरआई जांच
- कैंसर अनुसंधान के लिए सभी अत्याधुनिक प्रसाधन

इन कैंसर रोगों का हो सकेगा उपचार

स्तन कैंसर, सवाईकल कैंसर, मुख एवं गले का कैंसर, फेफड़े का कैंसर, बड़ी आंत एवं गुदा के कैंसर, पेट के कैंसर, यकृत कैंसर, पित्त के थैली का कैंसर, हड्डी के कैंसर, ब्लड कैंसर

आठ साल बाद शुरू हो रहा निर्माण

27 फरवरी 2014 को स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट के लिए केंद्र सरकार ने घोषणा की थी. लेकिन इसे मंजूर होने में पांच साल का समय लग गया. 2019 में इसको अंतिम स्वीकृति दी गई. इसके बाद 2020 में केंद्र ने पहली किस्त के रूप में 51 करोड़ रूपये जारी किया है. वही इसमे की लगने वाली 40 प्रतिशत राशि राज्य सरकार को देना था, लेकिन तय समय पर राशि जारी नहीं किया जा सका. ऐसे में लगभग तीन साल की देरी हो गई.

नक्सल प्रभावित Rajnandgaon में मध्य भारत का सबसे बड़ा Call Center बन रहा, युवा सपनों को लगे पंख

23-May-2022

राजनांदगांव। नक्सल प्रभावित इलाके राजनांदगांव की पहचान बदल रही है. वहां पर मध्य भारत का सबसे बड़ा कॉल सेंटर बन रहा है. यह 2 हजार सीटों के साथ मध्य भारत का सबसे बड़ा कॉल सेंटर बना है।  वर्तमान में देश की मल्टीनेशनल कंपनियों के कस्टमर के कॉल यहीं से लिए जा रहे हैं। उनका समाधान इसी सेंटर से हो रहा है। 

 कोरोना काल में जब रोजगार घर रहे थे तब यहां आदिवासी अंचल के युवाओं के लिए एक बीपीओ सेंटर खुला. यह उनके लिए एक नई उम्मीद बन गया. 
इस सेंटर में कभी 60 युवाओं ने काम शुरू किया था। अब तक दो हजार युवाओं को रोजगार दिया जा चुका है। जबकि एक समय में काम करने वालों की संख्या वर्तमान में एक हजार 87 तक जा पहुंची है। इस सेंटर की वजह से ही टेड़ेसरा और आसपास के गांवों में आर्थिक लाभ भी मिला है। ये मीशो, एनीमॉल, एजीयो, स्वीगी, पशुपल जैसी कंपनियों का कॉल सेंटर है। यहां वॉइस, कैटलॉग और ईमेल के माध्यम से आम लोगों के साथ जुड़कर उनकी सभी शंकाओं का समाधान किया जाता है। लगातार इससे युवा जुड़ते जा रहे हैं।

10 दिनों तक मां के शव के साथ रही बेटी, पुलिस ने आकर खुलवाया दरवाजा

रायपुर एम्स में अब रोबोटिक सर्जरी | Robotic Surgery in Raipur AIIMS

भारत में हालात ठीक नहीं, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा है..कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी

Tags:- Central India's biggest call center is being built in Naxal-affected Rajnandgaon, young dreams got wings

 

 

लॉज में फंदे पर लटक रहा था एएसआई का शव, मचा हड़कंप

21-May-2022

ASI  ने एक होटल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मामला दुर्ग के छावनी थाना क्षेत्र का है। ASI का नाम फारूख शेख है। मामले की जानकारी मिलने के बाद दुर्ग पुलिस की टीम मौके पर पहुंची हुई है और मामले की जांच कर रही है। जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले ही दुर्ग एसएसपी ने ASI को लाइन अटैच किया था ।
भिलाई के छावनी थाना में ASI फारूख शेख दो दिन पहले तक पदस्थ था। शिकायतें मिलने के बाद दुर्ग एसएसपी ने अभिषेक पल्लव ने ASI को लाइन अटैच कर दिया था। खबर है कि लाइन अटैच होने के बाद से ही एएसआई डिप्रेशन में था। कल शाम वो भिलाई के बसंत टाकिज के पास स्थित सुविधा होटल में पहुंचा था। होटल में ही एक कमरे में वो रूका हुआ था। 
फिलहाल होटल में पुलिस की टीम पहुंची हुई है और जांच कर रही है। पुलिस की टीम इस मामले में अलग-अलग एंगल  से जांच कर रही है।  

10 दिनों तक मां के शव के साथ रही बेटी, पुलिस ने आकर खुलवाया दरवाजा

रायपुर एम्स में अब रोबोटिक सर्जरी | Robotic Surgery in Raipur AIIMS

भारत में हालात ठीक नहीं, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा है..कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी

रायपुर एम्स में अब रोबोटिक सर्जरी | Robotic Surgery in Raipur AIIMS

21-May-2022

Robotic surgery in Raipur AIIMS : छत्तीसगढ़ राजधानी के रायपुर एम्स में मरीजों की संख्या में जैसे-जैसे बढ़ोतरी हो रही है, वैसे-वैसे नई-नई तकनीक से इलाज का विस्तार भी किया जा रहा है। एम्स में एक साल के भीतर रोबोटिक सर्जरी शुरू होने की उम्मीद है। एम्स प्रबंधन ने इसके लिए सभी कागजी प्रक्रियाएं पूरी कर ली है। केंद्रीय मंत्रालय से मंजूरी भी मिल चुकी है। 

अत्याधुनिक माड्यूलर आपरेशन थियेटर तैयार हैं। सर्वप्रथम न्यूरो में रोबोटिक सर्जरी शुरू करने की योजना है। इसके बाद आर्थों और फिर गायनिक, ईएनटी और आप्थोमालाजी व अन्य में होगा। हालांकि, यह सर्जरी कार्निया और रीनल ट्रांसप्लांट शुरू होने के बाद ही होगा।

वर्तमान में राज्य के किसी भी शासकीय अस्पताल में रोबोटिक सर्जरी की सुविधा नहीं है। एम्स रायपुर प्रदेश का पहला अस्पताल होगा, जहां सर्जरी होगी। वर्तमान में दिल्ली, मुंबई और कुछ अन्य मेट्रो सिटी में ही रोबोटिक सर्जरी शुरू हो पाई है। 
डाक्टरों का कहना है कि बड़े शहरों में सर्जरी कराने पर निजी अस्पतालों में मरीज को तीन से चार लाख रुपए खर्च करने पड़ते हैं। एम्स में इससे काफी कम राशि लगेगी।

स्पेस-X फ्लाइट अटेंडेंट ने एलन मस्क पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, मस्क ने दी सफाई

प्रदेश में ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी को लेकर बदले नियम, जानें डिटेल

शराब के शौकीनों को सरकार का झटका, राजस्व के लिए 20-25 % बढ़ाए दाम

राज्यपाल का ट्विटर हैंडल ठप:दो बार हैक हुआ, अब संचालन बंद, साइबर थाने-SSP से शिकायत

20-May-2022

छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसूईया उइके का आधिकारिक ट्विटर हैंडल साइबर हमले का शिकार हो गया। गुरुवार को दो बार हैक होने के बाद अब उसका संचालन ठप हो गया है। दैनिक भास्कर के सबसे पहले सूचना देने के बाद राज्यपाल का सोशल मीडिया एकाउंट का संचालन करने वाली एजेंसी ने साइबर थाने में शिकायत की है। राज्यपाल के सचिव ने भी रायपुर एसएसपी को पत्र भेजकर कार्यवाही करने को कहा है।

राजभवन की ओर से देर रात बताया गया कि राज्यपाल अनुसुईया उइके और राजभवन सचिवालय के दैनिक गतिविधियों की जानकारी देने के लिए सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मों का उपयोग किया जा रहा है। इसके लिए @GovernorCG नाम से एक ट्विटर एकाउंट संचालित है। 19 मई की सुबह अज्ञात व्यक्तियों ने वह ट्विटर हैंडल हैक कर लिया था। इसकी वजह से इसका संचालन नहीं हो पा रहा है।

वर्तमान में राज्यपाल व राजभवन की गतिविधियों को उक्त ट्विटर एकाउंट के माध्यम से साझा नहीं किया जा रहा है। राजभवन के अधिकारियों ने बताया, ट्विटर एकाउंट के हैक किये जाने के संबंध में संचालनकर्ता एजेंसी ने साइबर सेल के प्रभारी अधिकारी को लिखित शिकायत कर कार्यवाही का अनुरोध किया है।

पुलिस पहुंची तो सिलेंडर के नीचे और पानी की टंकी से निकलने लगी शराब, बहू ने जो किया

20-May-2022

के गोपालगंज में बहू ने सास के खिलाफ शराब बंदी को लेकर ऐसा कदम उठाया कि लोग भी हैरान रह गए। बहू शराब बंदी के खिलाफ है, जबकि सास शराब के धंधे में लिप्त थी। सास के खिलाफ बहू ने पुलिस बुलाकर उसे पकड़वा दिया। बताया गया है कि सास ने कई माह से घर में मिनी शराब की कंपनी खोल रखी थी। बहू की कप्लेंट पर पहुंची पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस मामले की जांच में जुटी है। जानकारी के अनुसार, बिहार में शराब बंदी है। उसके बाद भी लोग शराब के कारोबार में लिप्त है। एक ऐसी बहू ने सास के खिलाफ शराब को लेकर कठोर कदम उठाया। बहू के फोन पर पहुंची पुलिस ने तलाशी ली तो घर से भारी मात्रा में शराब निकली।

सास शराब में लिप्त मिली और उसने देसी शराब की भट्टी बनाई हुई थी। यहां तक की पुलिस भी शराब की भट्टी तक नहीं पहुंच पाई, लेकिन बहू ने पोल खोलकर रख दी तो सास पकड़ी गई। यह घटना गोपालगंज जिले के मांझागढ़ थाना एरिया के फुलवरिया गांव का है। शौचालय और रसोई से शराब निकलने के बाद पुलिस ने उसे ध्वस्त करा दिया है। रसोई में सास ने शराब की कंपनी खोली हुई थी।

पुलिस ने मौके से गैस चूल्हा, शराब बनाने वाले उपकरण आदि बरामद किए है। एसपी आनंद कुमार का कहना है कि मौके से 52 लीटर देसी शराब बरामद की गई है। इसके अलावा 42 लीटर कच्ची शराब, नौसादर आदि बरामद किए गए है। पुलिस ने शारदा देवी को गिरफ्तार कर मामले की जांच कर रही है। शारदा देवी को गिरफ्तार कर लिया है। अब पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

प्रदेश में ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी को लेकर बदले नियम, जानें डिटेल

20-May-2022

रायपुर। परिवहन विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस में बदलाव करने का निर्णय लिया है। प्रदेशभर के परिवहन कार्यालयों में 17 मई से क्यूआर कोड वाले ड्राइविंग लाइसेंस बनेंगे। इससे लाइसेंसधारी की सारी जानकारी एक क्लिक में मिल जाएगी। साथ ही ड्राइविंग लाइसेंस पर अब मोबाइल नंबर दर्ज होगा, प्लास्टिक कार्ड की जगह पाली कार्बोनेट कार्ड में छपेगा, जो टूटेगा नहीं। विभाग ने इस काम का जिम्मा कर्नाटक की एमसीटी कार्ड्स एंड टेक्नोलाजी प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी को 10 साल के लिए सौंपा है। परिवहन विभाग के अधिकारी का कहना है कि मंगलवार से कार्ड पूरी तरह से बदल जाएगा।

नए ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी के क्यूआर कोड को इंटरनेट कनेक्शन वाले एंड्रायड मोबाइल से स्कैन कर लाइसेंसधारक, वाहन की सारी जानकारी मोबाइल पर देखी जा सकेगी। क्यूआर कोड वाले ड्राइविंग लाइसेंस पर व्यक्ति का मोबाइल नंबर दर्ज है, जिससे जरूरत पड़ने पर संपर्क किया जा सकेगा। लाइसेंस को प्लास्टिक कार्ड की जगह पाली कार्बोनेट कार्ड पर छापा जा रहा है, जो टूटेगा नहीं।

ज्ञात हो प्रदेश में 60 लाख ड्राइविंग लाइसेंस और 55 लाख आरसी बुक हैं। एक साल में करीब तीन लाख ड्राइविंग लाइसेंस बनते हैं। क्यूआर कोड युक्त लाइसेंस बनाने के लिए विभाग द्वारा वर्ष 2019 से कवायद की जा रही थी। लाइसेंस प्रिंट करने का काम करने वाली कंपनी अधिक पैसे मांग रही थी, इस कारण शुरुआत नहीं हो पा रही थी।

कभी गेहूं के लिए भारत को 'भिखारियों का मुल्क' बताया था अमेरिका ने, आज भारत से गेहूं के लिए लगा रहा गुहार!

टॉर्च लेकर रातभर 'गोबर' की चौकीदारी करता है यह शख्स, जानकर मुस्कुराये CM भूपेश बघेल

1.33 करोड़ महिलाओं को मुफ्त स्मार्टफोन देगी कांग्रेस सरकार

कोरबा में कोयला चोरी का वीडियो वायरल होने के बाद सीआइएसएफ के जवान भांज रहे लाठी, जवानों पर ग्रामीणों से मारपीट का आरोप

20-May-2022

एक दिन पहले कोयलांचल क्षेत्र से एक वायरल वीडियो की खूब चर्चा रही। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि यह वीडियो कहां का है। लेकिन इसके बाद कोरबा शहर में हड़कंप मचा हुआ है।

IG ने जांच के आदेश दिए हैं। दो TI लाइन अटैच कर दिए गए हैं। वायरल वीडियो के बाद शुक्रवार की तड़के सुबह CISF के जवान गश्त पर निकले। इस दौरान भिलाईबाजार क्षेत्र के गांव भठोरा के पास जवानों पर ग्रामीणों से मारपीट का आरोप लगा है।

इस घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें जवान ग्रामीण से बातचीत कर रहे हैं। ग्रामीण ने चोट का निशान दिखाते हुए आरोप लगाया है कि वह शादी समारोह में जा रहे थे। इसी बीच CISF के जवानों ने उनके साथ मारपीट की।

कभी गेहूं के लिए भारत को 'भिखारियों का मुल्क' बताया था अमेरिका ने, आज भारत से गेहूं के लिए लगा रहा गुहार!

टॉर्च लेकर रातभर 'गोबर' की चौकीदारी करता है यह शख्स, जानकर मुस्कुराये CM भूपेश बघेल

1.33 करोड़ महिलाओं को मुफ्त स्मार्टफोन देगी कांग्रेस सरकार

टॉर्च लेकर रातभर 'गोबर' की चौकीदारी करता है यह शख्स, जानकर मुस्कुराये CM भूपेश बघेल

20-May-2022

अब तक बहुमूल्य, कीमती सामान और स्थान की चौकीदारी की बात सुनी होगी, लेकिन हम आपको आज बताने जा रहे हैं कि छत्तीसगढ़ में तो पशुपालक गोबर की भी चौकीदारी करने लगे हैं। यह सुनने में थोड़ा अटपटा लग सकता है, लेकिन हकीकत यही है।  छत्तीसगढ़ वह राज्य है जहां 2 रुपये किलो की दर से गोबर की खरीदी की जाती है। अब गोबर भी यहां आमदनी का जरिया बन चुका है। जिन पशुपालकों को पास मवेशी ज्यादा हैं, उनकी गोबर से आमदनी भी ज्यादा होने लगी है, मगर पहली बार यह बात सामने आई है कि गोबर की भी यहां के लोग चौकीदारी करते हैं, ताकि कोई गोबर की चोरी न कर ले।

मुख्यमंत्री भूपेश  बघेल से शेयर की सारी बातें :-
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के तहत गुरुवार को बीजापुर जिले के कुटरु पहुंचे। यहां उन्होंने लोगों से सीधे संवाद किया तो मंटूराम कश्यप ने बताया कि, वह अपने गोबर की चौकीदारी करता है। इसमें उसकी मदद पत्नी करती हैं। मंटूराम ने बताया कि, मैं रात में टॉर्च लगा कर गोबर की चौकीदारी करता हूं और इस काम मे मेरी पत्नी भी मेरा साथ देती हैं। इस गोबर को वे छत्तीसगढ़ सरकार की गोधन न्याय योजना के तहत बेचते हैं। यह जानकर सीएम बघेल मुस्कुरा दिए।
मंटूराम ने आगे बताया कि अब तक उन्होंने लगभग 14 हजार किलो गोबर करीब 28 हजार रुपये में बेचा है। पहले गोबर को कोई नहीं पूछता था लेकिन अब हर किसी की नजर गोबर पर लगी रहती है। कुछ दिन पहले उनके इकठ्ठे किए गोबर को गांव के कुछ लोग उठा ले गए थे। इसके बाद उन्होंने तय किया कि पत्नी के साथ रात में गोबर की निगरानी करेंगे।

खदान से कोयला चोरी का VIDEO: हजारों मजदूर बोरे में भरकर निकाल रहे कोयला; IG ने दिए जांच के आदेश

20-May-2022

 

यह दृश्य है एशिया के सबसे बड़े कोल माइंस का...
छत्तीसगढ़ के कोरबा में स्थित गेवरा माइंस का...
संगठित माफिया राज का खुल्ला खेल...
हजारों मजदूरों और सैकड़ों गाड़ियों से खुल्लम खुल्ला कोयले की चोरी...
सब कुछ अति की सीमा को पार चुका है हमारे छत्तीसगढ़ में ....
1/2 pic.twitter.com/WmImvqSUfs

— Om Prakash Choudhary (@OPChoudhary_Ind) May 18, 2022

 

यह VIDEO सोशल मीडिया में भी जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें हजारों मजदूर खदान से बोरियों में खुलेआम कोयला निकाल कर गाड़ियों में लोड कर रहे हैं। 

इंटरनेट मीडिया में कोयला चोरी का हैरान करने वाला वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। कोयला खदान में एक साथ सैकड़ों लोग केजीएफ फिल्म की तरह बोरियों में कोयला निकालते और गाड़ियों में लोड करते नजर आ रहे हैं। 
इस मामले ने उस वक्त और तूल पकड़ लिया, जब पूर्व पूर्व IAS और भाजपा नेता ओपी चौधरी ने कोयला चोरी करने वाले मजदूरों का एक VIDEO ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने लिखा है कि यह नजारा एशिया के सबसे बड़ी कोल माइंस का है। छत्तीसगढ़ के कोरबा में स्थित गेवरा माइंस में संगठित माफिया राज चल रहा है और कोयला चोरी का खुल्ला खेल चल रहा है। हजारों मजदूर और सैकड़ों गाड़ियों से खुलेआम कोयले की चोरी हो रही है।

कोयला चोरी के इन बिंदुओं पर होगी जांच :-
वायरल VIDEO किस खदान एवं किस जिले का है।
इतनी बड़ी संख्या को खदान में प्रवेश करने से वहां तैनात केंद्रीय सुरक्षा बल क्यों नहीं रोक पा रहे हैं।
SECL खदानों की सुरक्षा में तैनात केंद्रीय सुरक्षाबलों एवं जिला पुलिस में कैसा तालमेल है।
पूर्व में कोयला चोरी की रिपोर्ट SECL के अधिकारियों की ओर से कब-कब किस थानों में गई और उस पर पुलिस की ओर से क्या कार्रवाई की गई। यदि कार्रवाई नहीं की गई तो क्यों नहीं की गई।
चोरी के कोयले की खरीदी करने वाले सरगना कौन-कौन हैं। वे चोरी का कोयला किसको बेच रहे हैं।
कोयला चोरी के इस प्रकरण में क्या किसी अधिकारी-कर्मचारी की सहभागिता भी है। 

कोयला खदान से हजारों की संख्या में कोयला चोरी किए जाने का वीडियो वायरल होने के बाद खदान क्षेत्रों में तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) के जवान भी हरकत में आ गए हैं। उधर चोरी की घटनाओं से परेशान एसईसीएल की दीपका खदान में अधिकारी और कर्मचारियों ने मोर्चा संभाल लिया है। डीजल व कोयला चोर हथियार से लैस होकर खदान के अंदर बेधड़क घुसते हैं और चोरी की घटनाओं को अंजाम देते हैं। इससे निपटने के लिए अधिकारी कर्मचारियों ने अब डंडा उठा लिया है। ड्यूटी के दौरान संगठित होकर कर्मचारी चोरों को खदेड़ने में लगे हैं। बताया जा रहा है कि श्रमिक संगठन के प्रतिनिधि इसका नेतृत्व कर रहे हैं।

यह बताना होगा कि एसईसीएल की खदानों की सुरक्षा के लिए सीआईएसएफ के अलावा त्रिपुरा राइफल्स के जवानों को भी तैनात किया गया है। इसके बाद भी खदानों में चोरी की घटनाएं नहीं रुक रही है। दिनदहाड़े चोर पिकअप वाहन लेकर डीजल चोरी करने घुस जाते हैं। इन्हें रोकने का प्रयास करने वाले जवान व सुरक्षाकर्मियों पर हमला करने से भी नहीं चूकते। खदान क्षेत्र के थाना व पुलिस चौकियों में इस तरह की घटनाओं की शिकायतें की लंबी फेहरिस्त है।

 

10वीं की टॉप सूची में लक्ष्मीकांत ने बनाया स्थान, साहू परिवार में खुशी का माहौल

19-May-2022

बिलाईगढ़। अंतर्गत नगर पंचायत भटगांव के फर्म “पायल मेडिकल स्टोर्स” के संचालक बुध्धेश्वर साहू के पुत्र लक्ष्मीकांत साहू 10 वी का छात्र है और संभावी पब्लिक स्कूल में अपना पढ़ाई पूरा कर रहा है। 10वीं में 95.17 प्रतिशत अंक हासिल कर लक्ष्मीकांत ने जिला के टॉप सूची के सातवे रैंक में अपना स्थान बनाया है। जिससे लक्ष्मीकांत साहू ने अपने दादा के सपनो को साकार किया और अपने माता-पिता सहित क्षेत्र का नाम रोशन किया है। माता-पिता और साहू परिवार गौरान्वित महसूस कर खुशियां मनाई।  

वहीं टॉपर लक्ष्मीकांत व माता सावित्री साहू ने मीडिया को बताया कि जिला के टॉप सूची में स्थान बनाना उनके दादाजी सीताराम साहू के आशीर्वाद और अच्छे तालीम का नतीजा है। इनके दादाजी हमेशा अच्छे व्यक्तित्व, व व्यवहार को लेकर अच्छे व्यक्ति बनने हमेशा प्रेरित करते थे और उनका भी सपना था कि उनके नाती लक्ष्मीकांत जिला में टॉप करें और उनके सपनों को साकार करें। 
आखिरकार उनके आदर्शों पर चलकर ही इस मुकाम को हासिल किया है। जिनका नतीजा आज परिवार में बडी खुशी के रूप में मिला है। हालाँकि इस बात की भी दुख परिवार को है कि इस खुशी के मौके पर परिवार के बीच उनके दादाजी साथ नहीं है।

TIK TOK बनाने के लिए पाकिस्तानी लड़की ने लगा दी जंगल में आग, फिर बोली- मुझे ये आग पीने दो | देखें ये VIRAL VIDEO

‘ज्ञानवापी’ पर SC ने निचली अदालत के फैसला देने पर रोक लगाई, कल दोपहर 3 बजे होगी सुनवाई

आज भी अंधड़ के साथ होगी बारिश, गिरेगा तापमान, दक्षिण से आ रही नमीयुक्त ठंडी हवा

19-May-2022

मौसम विभाग का कहना है कि गुरुवार को प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में मौसम का रुख इस प्रकार ही रहेगा। कुछ क्षेत्रों में अंधड़ के साथ बारिश होगी और अधिकतम तापमान में गिरावट का दौरा शुरू होगा। मौसम विभाग का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी कुछ दिन इसी प्रकार ही रहेगा। अधिकतम तापमानों में प्रदेश के बस्तर संभाग में उल्लेखनीय गिरावट और दूसरे क्षेत्रों में विशेष बदलाव नहीं रहा। प्रदेश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान एआरजी (अजुर्नी) बलौदाबाजार में 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लोहांडीगुड़ा में छह सेमी, बस्तर-बस्तानार में चार सेमी, देवभोग में तीन सेमी वर्षा हुई। इसके साथ ही प्रदेश के विभिन्ना क्षेत्रों में हल्की वर्षा दर्ज की गई।

यह रहा तापमान :-

  • रायपुर 41.3 29.4
  • बिलासपुर 41.4 29.0
  • दुर्ग 40.4 26.8
  • जगदलपुर 35.5 23.6
  • अंबिकापुर 41.0 28.4
  • पेन्ड्रा 38.7 24.8

'हमें डरावने सपने आ रहे हैं' चित्रकूट के मंदिर से चोरी हुई बेशकीमती मूर्तियां वापस रख गए चोर

17-May-2022

चोरी करने के बाद चोरों ने चुराए गए सामान को वापस लौटाया। और वह भी माफी मांगते हुए पत्र के साथ। ऐसा इसलिए कि चोरों को डरावना सपना आने लगा था। सुनने में भले ही अजीब लग रहा हो लेकिन मामला सच है।

दरअसल, चित्रकूट के प्रसिद्ध बालाजी मंदिर से लाखों की कीमत की मूर्ति चोरी हो गई थी। तरुहा गांव के रामलीला ग्राउंड में स्थित 300 साल पुराने भगवान बालाजी मंदिर से एक सप्ताह पहले 14 कीमती मूर्तियों की चोरी हो गई थी। चोरों ने मूर्तियों के साथ चिट्ठी रखते हुए बताया कि चोरी के बाद से ही उन्हें डरावने सपने आ रहे थे। इसलिए वे मूर्तियां लौटा रहे हैं। बहरहाल चोरों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीम का गठन किया गया है।

इंस्पेक्टर राजीव सिंह ने बताया, 'बालाजी मंदिर के पुजारी महंत राम बालक दास ने 16 मूर्तियों के चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें 5 किलो की अष्टधातु की मूर्ति और 10 किलो वजन की कॉपर से बनी भगवान बालाजी की 3 मू्र्तियां, 15 किलो वजन वाली तांबे की 4 मूर्तियां सहित समेत नकदी और चांदी के सामान की चोरी हो गई थी। 9 मई की रात में हुई घटना को लेकर FIR दर्ज हुई।' एक सप्ताह के बाद चोरी हुई मूर्तियां एक चिट्ठी के साथ मानिकपुर कस्बे में महावीर नगर वार्ड स्थित महंत राम बालक दास के घर के बाहर मिली हैं। इसके बाद महंत ने मूर्तियां पुलिस को सौंप दी हैं।

 

छत्तीसगढ़ में BJP का जेल भरो आंदोलन: कई बड़े नेता गिरफ्तार, पुलिस से हुई झड़प

17-May-2022

छत्तीसगढ़ में धरना-प्रदर्शन को लेकर जारी सरकारी आदेश के खिलाफ BJP का सोमवार को प्रदेश भर में जेल भरो आंदोलन जारी है। रायपुर में करीब दो घंटे से चल रहे प्रदर्शन के बाद पुलिस ने पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल सहित करीब 2000 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया। BJP का दावा है कि प्रदेश में 70 हजार कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी है।

वहीं एसआरपी चौक पर आंदोलन कर रहे भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री पवन साय, नवीन मार्कंडेय, दीपक महस्के, श्रीचंंद सुंदरानी समेत कई बड़े बीजेपी नेताओं और सैकड़ों कार्यकर्ताओं गिरफ्तार कर लिया गया है। भाजपा कार्यकर्ता बैरिकेड तोड़कर सीएम हाउस की ओर बढऩे का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान वहां तैनात बड़ी संख्या में पुलिस बल के जवानों की भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ धक्कामुक्की और झड़प भी हुई। पुलिस ने आंदोलन कर रहे भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं राजधानी के अलग-अलग इलाकों में करीब एक हजार पुलिस बल की तैनाती की गई है।

भारती सिंह ने FIR दर्ज होने के बाद किया पहला पोस्ट, दाढ़ी-मूंछ का मजाक बनाना पड़ा था भारी

PM MODI ने 5G Testbed किया लॉन्च, बोले- उद्योग से लेकर स्टार्टअप तक हर सेक्टर में होगा मददगार, बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

दिल्ली  में आज भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, हीट वेव भी नहीं सताएगी, जानिए बारिश को लेकर क्या है अपडेट?

Chhattisgarh Board Result: 10वीं और 12वीं की परीक्षा में रायगढ़ ने लहराया परचम, दसवीं में सुमन पटेल और बारहवीं में कुंती साहू बनीं स्टेट टॉपर

17-May-2022

रायपुरः छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने शनिवार को 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया। दोनों परीक्षाओं में रायगढ़ जिले ने परचम लहराया है। दसवीं में रायगढ़ की सुमन पटेल और कांकेर की सोनाली बाला ने राज्य में पहला स्थान हासिल किया है। बारहवीं में रायगढ़ जिले की कुंती साहू को पहला स्थान मिला है।

दसवीं बोर्ड में सुमन पटेल और सोनाली बाला को 98.67 प्रतिशत अंक मिले हैं। वहीं, बारहवीं में कुंती साहू 98 फीसदी अंकों के साथ स्टेट टॉपर बनी हैं।

10वीं की बोर्ड परीक्षा में 74.23 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए हैं। 78.84 प्रतिशत छात्राएं और 69.07 प्रतिशत छात्र पास होने में सफल रहे हैं। दसवीं में कुल तीन लाख 80 हजार छात्रों ने परीक्षा दी थी।

कांकेर जिले में पखांजुर मुख्यालय से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गोण्डाहूर पी.वी. 52 की रहने वाली सोनाली बाला के पिता जयदेव बाला पेशे से शिक्षक हैं। सोनाली के पिता ने बताया कि उनकी बेटी रोजाना 10 से 12 घंटे पढ़ाई करती थी। उसकी कामयाबी से पूरे क्षेत्र में खुशी की लहर है।

12वीं की परीक्षा में भी लड़कों के मुकाबले लड़कियों के उत्तीर्ण होने का अनुपात ज्यादा है। पूरे प्रदेश में 79.30 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए हैं। 81.15 प्रतिशत छात्राएं उत्तीर्ण हुई हैं जबकि 77.03 लड़के उत्तीर्ण हुए हैं।

प्रदेश के शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने शनिवार को रिजल्ट जारी किया। उन्होंने सभी छात्रों को बधाई भी दी है।