Wednesday,06 July 2022   04:45 pm

RAIPUR Airport: स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर पर लैंडिंग के दौरान राज्य सरकार का हेलीकॉप्टर क्रैश, 2 पायलट की मौत

13-May-2022

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर एयरपोर्ट पर हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया है, माना स्थित स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर लैंडिंग के दौरान हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया। हेलीकॉप्टर में पायलट एपी श्रीवास्तव और कैप्टन गोपाल कृष्ण पंडा सवार थे। 

टेस्टिंग के दौरान हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ है। हादसे में को-पायलेट की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि दूसरे पायलट को गंभीरावस्था में आंबेडकर अस्पताल भेजा गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 
बताया जाता है कि प्रैक्टिस के बाद हेलीकॉप्टर लैंड कर रहे थे। इसी दौरान चिंगारी निकलते ही हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया। 
सीएम भूपेश बघेल ने ट्वीट कर कहा कि रायपुर एयरपोर्ट पर स्टेट हेलीकॉप्टर के क्रैश होने की दुखद सूचना मिली। हादसे में पायलट कैप्टन पंडा और कैप्टन श्रीवास्तव का दुखद निधन हो गया है। फायर ब्रिगेड और सीआईएसएफ के अफसर मौके पर मौजूद है।

कप्तान रोहित शर्मा का बड़ा बयान, कहा- जल्द भारत के लिए सभी फॉर्मेट खेलेगा मुंबई इंडियंस का यह युवा क्रिकेटर

College Admission 2022 :कालेजों में दाखिले के लिए 17 मई से शुरू होंगे आनलाइन पंजीयन

 

महालेखाकार दफ्तर में नौकरी पाने जमा की फर्जी मार्कशीट, Chhattisgarh Ranji Team Captain Harpreet Singh पर FIR

12-May-2022

छत्तीसगढ़ रणजी क्रिकेट टीम के कप्तान हरप्रीत सिंह भाटिया के खिलाफ सरकारी नौकरी के लिए फर्जी मार्कशीट का उपयोग करने का मामला उजागर हुआ है। महालेखाकार कार्यालय की शिकायत पर रायपुर के विधानसभा थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। एफआईआर दर्ज होने के बाद से हरप्रीत फरार हो गए हैं। दस्तावेजों की जांच के बाद बुंदेलखंड विवि ने हरप्रीत सिंह को मार्कशीट जारी नहीं होना बताया है। हरप्रीत का आईपीएल में भी चयन हुआ था। केस दर्ज होने के बाद पुलिस हरप्रीत के दुर्ग-भिलाई के ठिकानों पर दबिश दे सकती है।

मिली जानकारी के अनुसार महालेखाकार कार्यालय में लेखापाल की भर्ती के लिए आवेदन मंगाया गया था। क्रिकेट हरप्रीत सिंह भाटिया 2015 से सीनियर परीक्षा अधिकारी भारतीय लेखा एवं लेखा परीक्षा विभाग कार्यालय महालेखाकार विधानसभा में कार्यरत है। भाटिया ने 2014 में महालेखाकार ऑफिस में खेल कोटे से भर्ती के लिए आवेदन किया था। उसने अपने दस्तावेजों के साथ बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी झांसी से बी काम अंतिम वर्ष 2014 (ग्रेजुएशन) की मार्कशीट जमा की थी। खेल कोटे और शिक्षा के आधार पर उसका लेखापाल पद पर चयन हो गया।

शासकीय नियमों के तहत उसके दस्तावेज की जांच कराई गई तो वह फर्जी निकली। हरप्रीत की ग्रेजुएशन मार्कशीट भी बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झांसी भेजी गई। वहां से रिपोर्ट भेजी गई कि गोपनीय रिकॉर्ड में दर्ज नहीं है। संलग्न मार्कशीट फर्जी है। इसे विश्वविद्यालय द्वारा जारी नहीं किया गया है। सच्चाई सामने आने के बाद महालेखाकार के अफसरों द्वारा विधानसभा पुलिस थाने शिकायत की गई। 
जांच के बाद क्रिकेटर पर 12 मई को अपराध दर्ज किया गया है। विधानसभा थाना प्रभारी ने बताया कि शिकायत के बाद धारा 420, 468, 467, 469, 470 और 471 में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस हरप्रीत की तलाश कर रही है।

Fake marksheet submitted to get job in Accountant General's office, FIR on Chhattisgarh Ranji team captain Harpreet Singh

 

मुख्यमंत्री ने बर्तन माँजकर पढ़ाई कर रही निर्धन छात्रा छाया की सहायता के दिए निर्देश

12-May-2022

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सरमना में भेंट मुलाकात के दौरान साइंस स्नातक की पढ़ाई कर रही निर्धन छात्रा सुश्री छाया मिश्रा ने सहायता की मांग की। उसने बताया कि वह बर्तन माँजकर पढ़ाई कर रही है। वह झोपड़ी में रहती है,जहां शौचालय भी नही है। मुख्यमंत्री बघेल ने सुश्री छाया को योजनाओ से लाभान्वित करने के निर्देश कलेक्टर को दिए। मुख्यमंत्री ने सुश्री छाया की सराहना करते हुए कहा कि कोई काम छोटा नही होता। मेहनत से सफलता मिलती है, खुशहाली आती है। अपने काम पर गर्व करना चाहिए और सम्मान से जीना चाहिए।

उत्तर कोरिया: ओमिक्रोन वैरिएंट के पहले मामले से ही किम जोंग उन ने लगाया देश में लॉकडाउन

जैकलीन फर्नाडीज की याचिका पर ईडी से कोर्ट ने मांगा जवाब

Pushpa 2 का बजट सुन कर बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक उड़ा देगा होश, अल्लू अर्जुन ले रहे हैं इतनी तगड़ी फीस?

छत्तीसगढ़ के बीजापुर से 5 किलो IED बरामद, सुरक्षा बलों को मारने की थी साजिश

12-May-2022

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में आज सुरक्षाबलों को 5 किलो आईईडी मिला। जानकारी के मुताबिक, आईईडी फुंडरी में इंद्रावती नदी पर बन रहे पुल के पास मिला है। ये आईईडी सुरक्षाबलों को मारने लिए के लिए प्लांट किया गया था। बीजापुर के थाना नेलसनार क्षेत्रांतर्गत सीआरपीएफ 165 बटालियन एवं जिला बल की संयुक्त पार्टी को सूचना मिली थी कि बंगोली निर्माणाधीन इंद्रावती पुल के पास नक्सलियों ने प्रेशर आइईडी लगाया है।

उत्तर कोरिया: ओमिक्रोन वैरिएंट के पहले मामले से ही किम जोंग उन ने लगाया देश में लॉकडाउन

जैकलीन फर्नाडीज की याचिका पर ईडी से कोर्ट ने मांगा जवाब

Pushpa 2 का बजट सुन कर बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक उड़ा देगा होश, अल्लू अर्जुन ले रहे हैं इतनी तगड़ी फीस?

छत्तीसगढ़ में दिखने लगा चक्रवाती तूफान 'असानी' के प्रभाव से अब कुछ इलाकों में होगी बारिश

11-May-2022

Chhattisgarh Weather Update: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में इन दिनों लोग गर्मी के साथ उमस से खासा परेशान हैं। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक अगले 12 से 48 घंटे गर्मी और उमस दोनों से लोगों को थोड़ी राहत मिलेगी।  आज सुबह से आसमान में बादल छाए हुए हैं। देर रात से तेज हवाएं चल रही हैं, कहीं-कहीं हल्की से मध्यम बारिश भी हुई है।

वहीं आज भी प्रदेश के कई जगहों में हल्की से मध्यम बारिश के आसार मौसम विभाग ने जताए हैं।  इसी के साथ अधिकतम तापमान में भी गिरावट होगी, जिससे गर्मी में थोड़ी कमी आएगी। इसके बाद आने वाले कुछ दिनों में दोबारा गर्मी का सितम देखने को मिलेगा। 

मौसम विभाग की माने तो चक्रवाती तूफान ‘असानी’ का असर दक्षिण छत्तीसगढ़ में ज्यादा रहेगा। यहां गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में 1-2 स्थानों पर चमक के साथ वज्रपात भी होने की संभावना है।

Video: तूफानी लहरें बहाकर ले आईं ये गोल्डन रथ, आखिर ये है क्या चीज, देखकर लोग हुए दंग

RR vs DC, IPL 2022 playing 11: राजस्थान और दिल्ली के बीच मुकाबले में कैसा रहेगा मौसम, पिच से किसे मिलेगी मदद

ध्यान दें! Play Store पर आज से बैन हुई सभी Call Recording Apps, Google की नई Policy लागू

इंदौर और चंडीगढ़ दौरे से लौटे महापौर एजाज ढेबर: बोले-इंदौर में पुलिस से ज्यादा डर निगम का; 2-3 महीने में राय

11-May-2022

रायपुर।  महापौर एजाज ढेबर ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा , इंदौर चंडीगढ़ और मोहाली के दौरे पर गया था। आखिर इंदौर क्यों पहले नंबर पर आता है।  इंदौर की तीन टाइम की सफाई होती है। वहां की सफाई को मैंने समझा। हमारी अधिकारिकरियों की टीम भी गया था। वहां 19 जोन है। 85 वार्ड हैं..600 कचरा गाड़ी है। 23मकैनिस्ज़ शस्टेम की गाड़ी हैं। प्रोसेसिंग प्लांट का निरीक्षण किया गया। रायपुर में केवल गीला और सूखा कचरा के बारे में पता है। 
 
एजाज ढेबर जबकि इंदौर में 6 प्रकार के कचरे का कलेक्ट करते हैं।  कचरे के निष्पादन वाली जगह का भी हमने निरीक्षण किया। वहां ठेका प्रथा नहीं है।  निगम स्वयं कार्य करती है। घर से डोर टू डोर निकाला जाता है। वहां के NGO खुद गाड़ी में बैठकर जाते हैं कचरा कलेक्ट करने।  सेगरिकेशन में सूखे कचरे के लिए जबरदस्त प्लांट वहां बना हैं।  एक यूनिट है जिसमें साढ़े 3 तीन सौ महिलाएं काम करती है। इंदौर में 100 परसेंट कचरों का निष्पादन हो रहा है।

एजाज ढेबर, एक घर में एक ही गाय रखना है।  डेयरी बाहर शहर से बाहर में रखने की अनुमति है। यूजर चार्ज भी बराबर वहां लिया जाता है। फ्लैक्स वार रायपुर शहर में काफी हावी है। महापौर में खुद के ऊपर लेकर कहा कि अगर मेरी जन्मदिन होती है कि 8-10 दिन पहले फ्लैक्स लगना शुरू हो जाता है। वहां पुलिस से ज्यादा डर निगम से लोगों को रहता है।  रायपुर शहर में भी हम कर सकते हैं।  रायपुर शहर को नंबर 1 में लाना है। 

केंद्र से 40-50 करोड़ रुपये मिल जाये से तो हम भी बहुत बेहतर कर सकते है..
मोहाली दौरे :
मोहाली में 800 गार्डन है। मोहाली की जनसंख्या 2 लाख है। गार्डन में गिरने वाले पत्ते हैं उसे खाद बनाते हैं चंडीगढ़ में। देश में सबसे ज्यादा अगर कहीं गार्डन है तो तो चंडीगढ़ में है। वहां 1800 गार्डन है। ठेका प्रथा मुक्त करने को लेकर रायपुर के सभी पार्षदों से चर्चा की जाएगी। 2-3 महीने में बदलाव होगा रायपुर में। 

CM BHUPESH BAGHEL आज सीतापुर विधानसभा क्षेत्र में करेंगे भेंट-मुलाकात

11-May-2022

RAIPUR। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल( chief minister bhupesh baghel) सरगुजा दौरे पर है। जहां वे लोगों के बीच पहुंचकर चर्चा कर रहे है. सीएम सचिवालय से जारी शेड्यूल( schdule) के मुताबिक सीएम भूपेश बघेल आज सुबह 10 बजे अंबिकापुर में समीक्षा बैठक करेंगे। जिसके बाद प्रेस वार्ता( press) को संबोधित करेंगे। इसक  बाद 11.10 को सीतापुर विधानसभा क्षेत्र के लिए रवाना होंगे। 11.45 को ग्राम मंगरेलगढ़ में लोगों से भेंट मुलाकात करेंगे। 

ध्यान दें! Play Store पर आज से बैन हुई सभी Call Recording Apps, Google की नई Policy लागू

Ration Card New Rules: अगर AC और Car है आपके पास तो कैंसल होगा Ration Card, जान ले ये नए नियम वरना बाद में हो सकती है क़ानूनी कार्रवाई

छत्तीसगढ़ के सभी नगरीय निकायों में बनेंगे कृष्ण कुंज, सीएम बघेल ने सभी कलेक्टरों को दिए निर्देश

09-May-2022

छत्तीसगढ़ की लगभग 42 माह पुरानी भूपेश सरकार ने राम वन गमन विकसित करने के साथ ही अब राज्य में सभी नगरीय क्षेत्रों में ’कृष्ण कुंज’ विकसित किए जाने का निर्णय लिया हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी कलेक्टरों को ’कृष्ण कुंज’ विकसित करने के लिए वन विभाग को न्यूनतम एक एकड़ भूमि का आबंटन करने के निर्देश दिए हैं।कृष्ण कुंज में बरगद, पीपल, नीम और कदंब जैसे सांस्कृतिक महत्व के जीवनोपयोगी वृक्षों का रोपण किया जाएगा।आगामी कृष्ण जन्माष्टमी के दिन पूरे राज्य में ’कृष्ण कुंज’ के लिए चिन्हित स्थल पर वृक्षों का रोपण प्रारंभ किया जाएगा।

कुपोषण को मात देने वाले बच्चों के साथ CM Bhupesh Baghel ने काटा केक…

09-May-2022

रायपुर। लइका मन के CM Bhupesh Baghel ने कुपोषित से सुपोषित हुए बच्चों के साथ केक काटा चॉकलेट बाटी । स्वयं केक खिलाकर सीएम बघेल ने बच्चों को दुलारा और सभी माताओं ने मुख्यमंत्री सुपोषण योजना से लाभान्वित होने पर धन्यवाद ज्ञापित किया।

 

#महतारी_दिवस के कार्यक्रम में आई
सभी माताओं ने #मुख्यमंत्री_सुपोषण_अभियान की शुरूआत के लिए मुख्यमंत्री श्री @bhupeshbaghel का आभार प्रकट किया। माताओं ने कार्यक्रम में बताया कि उनके बच्चों को कुपोषण से मुक्त कर "सुपोषित" बनाने में इस योजना ने उनकी किस तरह मदद की है।#BhetMulakat pic.twitter.com/sWZCSu3Sov

— CMO Chhattisgarh (@ChhattisgarhCMO) May 8, 2022

 

CM Bhupesh से अचानक मिले BJP सांसद रामविचार, तस्वीर वायरल कर लोग पूछ रहे- मुलाकात हुई...क्या बात हुई...

09-May-2022

बता दें कि सीएम भूपेश बघेल इन दिनों सरगुजा संभाग के दौरे पर हैं। 5 मई को सीएम भूपेश बघेल घोर नक्सल प्रभावित सनावल पहुंचे थे, जहां उन्होंने ग्रामीणों के बीच काफी वक्त गुजारा और सरकारी योजनाओं का जायजा लिया। 
सनावल रामानुजगंज विधानसभा क्षेत्र में आता है। यह गांव राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम का गृहग्राम भी है। लिहाजा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जब दौरे के दौरान सनावल के रेस्ट हाउस पहुंचे तो रामविचार नेताम भी अचानक उनसे मिलने पहुंच गए। सीएम भूपेश बघेल ने रामविचार नेताम से हाथ मिलाया तो सांसद गृहग्राम पहुंचने पर सीएम का बुके देकर स्वागत किया।
राजनीतिक चर्चाओं में सीएम से मुलाकात 

सीएम भूपेश बघेल और राज्यसभा सांसद नेताम के बीच करीब 5 मिनट की मुलाकात हुई, जिसके बाद रामविचार नेताम रेस्ट हाउस से निकल गये। वहीं मुख्यमंत्री भी अपने आगे के दौरा कार्यक्रम में बढ़ गये। हालांकि दोनों के बीच क्या और किस मुद्दे पर बातें हुई, उसे लेकर अभी कोई जानकारी सामने नहीं आयी है, लेकिन माना जा रहा है कि क्षेत्र के कुछ मुद्दे को लेकर राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम की तरफ से बातें रखी गई है। इस दौरान बृहस्पति सिंह और अन्य विधायक भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रामविचार नेताम से सहज आत्मीय भाव से मुलाकात की और साथ में तस्वीरें भी खिंचवाई। 

बस्तर फाइटर्स के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू,9 मई से होगी दस्तावेजों की जांच

07-May-2022

रायपुर। बस्तर फाइटर्स के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू हो गई है। 9 मई से बस्तर संभाग के सभी जिला मुख्यालयों में बस्तर फाइटर्स के लिए दस्तावेज़ों की जाँच होगी। रोल नंबर वार अभ्यर्थियों के दस्तावेज़ों की जाँच की जाएगी। रोल नंबर वार अभ्यर्थियों को सूचित किया गया है।

इसी तरह एसआई भर्ती परीक्षा का भी रास्ता साफ हो गया है।

एसआई, सुबेदार, प्लाटून कमांडर भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों को प्रवेश-पत्र 14 मई से दिया जाएगा।

14 मई से अभ्यर्थी छत्तीसगढ़ पुलिस की वेबसाइट https://cgpolice.gov.in/ से प्रवेश-पत्र डाउनलोड कर सकेंगे।

Chhattisgarh: नक्सलियों के गढ़ में छात्रों को कोचिंग दे रहे हैं ITBP जवान, बच्चों का भविष्य कर रहे हैं तैयार

07-May-2022

छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले के सुदूर ग्रामीण और पिछड़े क्षेत्रों के बच्चों की शिक्षा में जवान योगदान दे रहे हैंI ये वो इलाके है जहां अभी भी नक्सलियों का प्रभाव है और जंगल के इलाकों में स्कूली शिक्षा बहुत मुश्किल से बच्चो को मिल पाती है तो आप समझ सकते है ऐसे में यहां के बच्चे कंपटीशन में क्या मुकाबला कर सकेंगे। लेकिन आईटीबीपी के जवान नक्सलवादियों से लड़ने के अलावा भारत-तिब्बत सीमा पुलिस ने छत्तीसगढ़ में स्कूली छात्रों के लिए कोचिंग की शुरुआत की  है। 

29वीं बटालियन ITBP के जवान कोंडागांव के दूरदराज के इलाकों जैसे मुंजमेता, फरसागांव, झारा और धौदई गांवों में कई जगहों पर करीब 200 छात्रों के लिए कोचिंग कक्षाएं चला रहे हैं। इन कोचिंग के जरिए छात्रों को एकलव्य और नवोदय स्कूलों में प्रवेश परीक्षा पास करने में मदद मिल रही है।
जवानों द्वारा पिछले कुछ हफ्तों से लगभग 200 स्थानीय आदिवासी छात्रों को कोचिंग दी गई है। इन क्षेत्रों के लोग अपने बच्चों को इन कोचिंग कक्षाओं में बड़े उत्साह के साथ भेज रहे हैं। 
आईटीबीपी के जवान न केवल छात्रों को कोचिंग दे रहे हैं बल्कि उन्हें स्टडी मैटेरियल भी उपलब्ध करा रहे हैं। बता दें कि आईटीबीपी को वामपंथी उग्रवाद से लड़ने के लिए साल 2009 में छत्तीसगढ़ में तैनात किया गया था। 
तब से लेकर अब तक इन जवानों ने स्थानीय लेवल पर कई कार्यक्रम किए हैं। इसमें सैकड़ों स्थानीय स्कूली बच्चों को हॉकी, तीरंदाजी, जूडो और एथलेटिक्स आदि जैसे कई खेलों में प्रशिक्षित किया गया है।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस का मिशन-2023: सीएम भूपेश के दौरे के बीच नक्सल इलाकों में बुलेट प्रूफ गाड़ियों से होगी वीआइपी सुरक्षा

07-May-2022

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस मिशन-2023 के लिए तैयारियां कर रही है। बताया जाता है कि नक्सल प्रभावित इलाकों में हमले से बचाने के लिए सरकार इन गाड़ियों का इस्तेमाल करेगी। गृह विभाग के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि यह सुरक्षा का मामला है। नक्सल इलाकों में वीआइपी मूवमेंट में किसी भी तरह की अनहोनी से बचने के लिए और सुरक्षा के लिए इन गाड़ियों को तैयार कराने का निर्णय लिया गया है।
पुलिस महकमे ने चार टोयोटो फार्चूनर गाड़ियों को बुलेट प्रूफिंग के लिए चुना है। गाड़ियों को बुलेट प्रूफ करने के लिए पहली बार पुलिस विभाग ने विभिन्न एजेंसियों से प्रस्ताव मंगाए हैं। अधिकारियों का कहना है कि कौन सी गाड़ी बुलेट प्रूफ है यह जानकारी तो नहीं दी जा सकती है पर नक्सली इलाकों में हमले से पूरी सुरक्षा के लिए सरकार ने अपनी तैयारी कर रखी है।
इन गाड़ियों में स्टील प्लेट, शीट और बीआर ग्लास सैंपल की बैलिस्टिक टेस्टिंग भी की जाएगी। गाड़ियों के गुणवत्ता के लिए सर्टिफिकेट भी देना होगा। इस गाड़ी के टायर फटने के बाद भी यह 60 किलो मीटर की रफ्तार से दौड़ सकेगी। साथ ही आइआइडी और एके 47 के हमले से भी बचाया जा सकेगा। आइईडी ब्लास्ट के साथ ही हैंड ग्रेनेड के हमले से भी इन गाड़ियों पर कोई असर नहीं होगा।
छत्तीसगढ़ में लगातार नक्सली हमले के कारण सुरक्षा एक बड़ी चुनौती है। इसके अलावा प्रदेश में नौ साल पहले हुए झीरम नक्सली हमले में कांग्रेस ने प्रदेश के शीर्ष नेताओं को खो दिया है। ऐसे में राज्य सरकार की ओर से सुरक्षा के लिए करोड़ों रुपये खर्च करके उच्च गुणवत्ता वाली बुलेट प्रूफ गाड़ियां तैयार करवा रही है।

छत्तीसगढ़ः आबकारी मंत्री लखमा के भगवा पहनने पर नक्सलियों को ऐतराज, बोले-आदिवासी संस्कृति का हिंदुकरण करने में लगे मंत्री, उनके कार्यक्रम के बहिष्कार की चेतावनी

07-May-2022

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा के भगवा वस्त्र पहनने पर अब माओवादियों को ऐतराज होने लगा है। 
माओवादियों ने कवासी लखमा पर आदिवासी संस्कृति को हिंदुकरण करने का आरोप लगाया है। 
दक्षिण बस्तर सब जोनल प्रवक्ता और हार्डकोर इनामी नक्सली समता ने कहा कि छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा बस्तर के मेला-मड़ई में शामिल होकर आदिवासी संस्कृति का हिंदुकरण करने में लगे हुए हैं। 
जो भी आयोजन किए जा रहे हैं उसमें वे भगवा वस्त्र पहनकर शिरकत कर रहे हैं। आयोजनों के तौर-तरीकों को हिन्दू रीति-रिवाज के अनुरूप बदलने की कोशिश में लगे हुए हैं।
माओवादियों ने कवासी लखमा को चेतावनी दी है कि वे अपनी इन हरकतों को बंद कर दें, अन्यथा माओवाद संगठन, सर्वआदिवासी समाज, समेत समस्त आदिवासी संगठन के लोग मंत्री के सभी आयोजनों और कार्यक्रमों का बहिष्कार करेंगे। भाजपा और उसकी सरकारें आदिवासी संस्कृति के हिन्दुकरण करने की कोशिशों में तेजी ला रही हैं।
प्रेस नोट में कहा गया है कि आदिवासियों, दलितों और मुसलमानों को घर वापसी के नाम पर जबरन हिन्दू बनाया जा रहा हैं। जनगणना और एनपीआर से संबंधित पंजियों में आदिवासियों को अपनी धर्मिक स्थित स्पष्ट करने का कोई कॉलम नहीं दिया गया है। जो गैर-संवैधानिक है।

छत्तीसगढ़ में भेंट-मुलाकात अभियान : प्रोटोकॉल तोड़ जनता के बीच पहुंचे CM भूपेश बघेल, हालचाल जाना, आशीर्वाद लिया

06-May-2022

रायपुर : छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने 'भेंट-मुलाकात' अभियान के पहले दिन कुसमी थाना क्षेत्र पहुंचे। उन्होंने शासकीय उचित मूल्य की दुकान और नगर पंचायत दफ्तर का निरीक्षण किया। सीएम ने शासकीय उचित मूल्य दुकान पर मौजूद हितग्राहियों से मुलाकात की और अपने हाथों से राशन तौलकर उन्हें वितरित किया। सीएम ने पीडीएस दुकान का निरीक्षण करते हुए कार्डधारकों की संख्या और हर महीने मिलने वाले राशन की जानकारी ली। इस दौरान मुख्यमंत्री को अपने हाथों से राशन बांटने पर 64 साल की एक बुजुर्ग महिला ने आशीर्वाद भी दिया।

शिकायत मिली तो एक्शन भी
इस दौरान शशिकला नाम की महिला ने मुख्यमंत्री से शिकायत करते हुए कहा कि उसका नाम गरीबी रेखा सूची से काट दिया गया है और उसके पास राशन कार्ड नहीं है। महिला की शिकायत सीएम बघेल ने कलेक्टर बलरामपुर से बात की और नगर पंचायत सीएमओ को निलंबित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि लगातार निर्देशित करने और हिदायत के बावजूद भी अगर जनता को परेशान होना पड़ेगा, तो कार्रवाई निश्चित ही की जाएगी। इस दौरान मुख्यमंत्री ने हितग्राहियों से चर्चा कर राशन वितरण की जानकारी भी ली। 

समस्याएं सुनीं, दर्द बांटा, निवारण भी किया
मुख्यमंत्री ने वहां मौजूद महिलाओं से पूछा कि सबको बराबर राशन मिल रहा है या नहीं? उन्होंने महिलाओं से राशन की दर के बारे में भी पूछा। मुख्यमंत्री ने उचित मूल्य दुकानदार से स्टाक पंजी मांग कर देखी और राशन कार्ड के संबंध में जानकारी ली। बता दें कि शासकीय उचित मूल्य दुकान कुसमी में दर्ज कार्डधारकों की संख्या 1246 है। इस दुकान का संचालन कुसमी वन समिति करती है। सीएम भूपेश बघेल ने अपने निरीक्षण में ये पाया कि मई महीने के वितरण के लिए चावल, शक्कर, चना और नमक का स्टाक रखा हुआ है।

प्रोटोकॉल तोड़ जनता के बीच पहुंचे सीएम
कुसमी के भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री प्रोटोकॉल तोड़कर गाड़ी से उतरे और लोगों के बीच जा पहुंचे। सीएम ने जनता की समस्याओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने यह भी पूछा कि पुलिस से संबंधित कोई समस्या तो नहीं है। इस दौरान वे कुसमी थाने का औचक निरीक्षण करने भी पहुंचे। मुख्यमंत्री ने थाने की रोज नामचा का अवलोकन किया। साथ ही उन्होंने मालखाने का निरीक्षण किया। इस दौरान नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया और संसदीय सचिव श्री चिंतामणि महाराज भी मुख्यमंत्री के साथ थे।

90 विधानसभा क्षेत्रों के दौरे पर CM Bhupesh Baghel का ट्वीट | क्या कहा देखिए

06-May-2022

Chhattisgarh Politics: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने 90 विधानसभा क्षेत्रों के दौरे की शुरुआत कर दी है। सीएम सबसे पहले सरगुजा संभाग के बलरामपुर (Balrampur) गए हैं। पहले दिन मुख्यमंत्री ने जिले के कुसमी, शंकरगढ का दौरा किया। इस दौरान सीएम बघेल अलग-अलग रूप में नजर आए। एक महिला की शिकायत पर नगर पंचायत के सीएमओ (CMO) सस्पेंड कर दिया तो दूसरे ही पहल वो एक बच्ची को गोद में लेकर खेलते नजर आए।

ऑपरेशन में शासन ने की मदद : बलरामपुर के सामरी विधानसभा के कुसमी पहुंचे सीएम भूपेश बघेल ने लोगों से भेंट मुलाकात कर रहे थे। तो उन्हें वहीं एक छोटी बच्ची के दिल के ऑपरेशन की जानकारी स्थानीय लोगों ने दी। फिर क्या था। मुख्यमंत्री ने प्रिया यादव नाम की उस छोटी बच्ची को अपने पास बुलाया और उसे गोद में ले लिया। जिसके बाद वो बच्ची के साथ कई मिनट तक खेलते खेलते उसके परिजनों से उसके स्वास्थ्य की जानकारी लेते रहे। बच्ची की मां से जब सीएम ने बच्ची के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि, दिल के ऑपरेशन के बाद बच्ची का स्वास्थ्य अच्छा हो गया है। साथ ही प्रिया की मां ने मुख्यमंत्री को ये जानकारी दी कि शासन के सहयोग से बच्ची का ऑपरेशन हो सका है। इसके लिए मां ने सीएम का आभार भी जताया।

सीएम ने बच्ची को गोद में उठाया : कुसमी के लिए सीएम बघेल ने कई घोषणाएं भी की हैं। आत्मानंद स्कूल में बच्चों और उनके परिजनों से मुलाकात भी की। साथ ही बिजली सड़क जैसी मूलभूत समस्या को जल्द सुधारने के लिए अधिकारियों को निर्देश भी दिए। लेकिन, बचपन से ही दिल की बीमारी से ग्रसित मासूम को जब सीएम ने गोद में उठाया तो बच्ची और सीएम देर तक एक दूसरे को निहारते रहे। सीएम के इस रूप की लोगों ने प्रशंसा भी की।

प्रदेश में कॉलेजों में देरी से शुरू होगा एडमिशन, सामने आई ये बड़ी वजह

06-May-2022

भोपाल। : मध्यप्रदेश में इस बार भी कॉलेजों में एडमिशन देरी से शुरू होंगे। दरअसल माध्यमिक शिक्षा मंडल की बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट तो आ गया है लेकिन अभी तक सीबीएसई की कक्षा 12वीं के पेपर चल रहे है जो कि 15 जून तक चलेंगे

ऐसे में जब तक सीबीएसई का रिजल्ट नहीं आ जाता तब तक उच्च शिक्षा विभाग के तहत आने वाले कॉलेजों में एडमिशन प्रक्रिया शुरू नहीं होगी। रिजल्ट आते ही प्रक्रिया और गाइडलाइन जारी कर दी जाएंगी।

1.RBI ने Repo Rate में अचानक किया बदलाव, आम आदमी को महंगाई का एक और झटका। Home Loan। EMI

इस साल स्वतंत्रता दिवस हर रेलकर्मी के घर तिरंगा फहरेगा, रेलवे बोर्ड ने सभी रेलवे जोन को दिए निर्देश

Allahabad High-court का फैसला: मौलिक अधिकार नहीं है मस्जिद में अजान के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल

06-May-2022

उत्तर प्रदेश में धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकरों को उतारे जाने के फैसले पर हाई कोर्ट से भी मुहर लग गई है। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कहा है कि लाउडस्पीकर पर अजान मौलिक अधिकार नहीं है। इस अहम टिप्पणी के साथ कोर्ट ने बदायूं के एक मौलवी की ओर से दाखिल याचिका को खारिज कर दिया है। कोर्ट का यह फैसला ऐसे समय पर आया है जब योगी सरकार के आदेश पर यूपी में धार्मिक स्थलों से एक लाख से अधिक लाउस्पीकर उतारे गए हैं और इससे कहीं अधिक की आवाज को कम कर दिया गया है।

प्रयागराज।  देशभर में लाउडस्पीकर विवाद पर इलाहबाद हाईकोर्ट ने शुक्रवार को बड़ा फैसला सुनाते हुए कहा है कि मस्जिदों में अजान के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल मौलिक अधिकार नहीं हैं। हाईकोर्ट ने अपना यह फैसला सुनाते हुए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किए जाने की इजाजत दिए जाने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया। 

इलाहबाद हाईकोर्ट ने बदायूं की नूरी मस्जिद के मुतवल्ली की याचिका को खारिज कर दिया और अजान के लिए लाउडस्पीकर की इजाजत दिए जाने से इनकार किया। इस मामले में बदायूं के बिसौली तहसील के धोरनपुर गांव की नूरी मस्जिद के मुतवल्ली इरफान की तरफ से याचिका दाखिल की गई थी। 

याचिका में एसडीएम समेत तीन लोगों को पक्षकार बनाया गया था। एसडीएम द्वारा लाउडस्पीकर के इस्तेमाल की इजाजत वाली याचिका को खारिज किए जाने को चुनौती दी गई थी। अदालत ने इस मामले में दखल देने से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने याचिका में की गई मांग को गलत बताया और याचिका को खारिज कर दिया।

याचिका में हाईकोर्ट से कहा गया था कि मौलिक अधिकार के तहत लाउडस्पीकर बजाने की इजाजत मिलनी चाहिए। जस्टिस विवेक कुमार बिड़ला और जस्टिस विकास बुधवार की डिवीजन बेंच में हुई सुनवाई। अदालत ने याचिका को खारिज कर दिया और कहा कि मस्जिद में अजान के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करना मौलिक अधिकार में कतई नहीं आता। लाउडस्पीकर की इजाजत के लिए कोई अन्य ठोस आधार नहीं दिए गए हैं। अदालत ने इस मामले में दखल देने से इनकार कर दिया। इसके साथ ही अदालत ने याचिका में की गई मांग को गलत बताया और अजीज़् को खारिज किया।