Monday,05 December 2022   04:36 pm

दैनिक वेतन भोगी वन कर्मचारियों की हड़ताल स्थगित

22-Sep-2022

रायपुर। दैनिक वेतन भोगी वन कर्मचारियों की हड़ताल स्थगित हो गई है। विभागीय अधिकारियों से चर्चा के बाद हड़ताल स्थगित कर दी गई है।  मांगो पर चर्चा हुई जिसके बाद हड़ताल स्थगित कर दी गई है। 

आपको बता दें कि पिछले 34 दिनों से कर्मचारियों की ये अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी थी। सभी कर्मी नियमितीकरण और स्थायीकरण की मांग को लेकर हड़ताल चल रही थी।
वन कर्मियों का कहना है कि शासन से उनकी मांगों पर चर्चा हुई जिसके बाद हड़ताल स्थगित कर दी गई है। कर्मचारियों का कहना है कि तीन महीने में आश्वासन पर कार्रवाई नहीं हुई तो फिर से हड़ताल करेंगे।

ड़ताल पर डटे दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों के स्थान पर नई नियुक्ति का आदेश

22-Sep-2022

Raipur News : छत्तीसगढ़ शासन के वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग ने आदेश जारी किए हैं। वन विभाग के दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों के स्थान पर नए कर्मचारियों की नियुक्ति की जाएगी।

राज्य में करीब सवा लाख दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी हैं। इनमें से अधिकांश लोग काम पर लौट आए हैं। वन विभाग में इन कर्मचारियों की संख्या करीब 7 हजार है। इनमें से 2500 कर्मचारी काम पर नहीं लौट रहे हैं।

कहा गया है की वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के भी कतिपय दैनिक वेतन भोगी श्रमिक विभिन्न कारणों से लंबे समय से अनुपस्थित है। जिसके कारण शासकीय कार्यों एवं महत्वपूर्ण योजनाओं के क्रियान्वयन में विपरीत प्रभाव पड़ रहा है।

जनहित के कार्य और प्रभावित नहीं हो इसे दृष्टिगत रखते हुए तथा उन श्रमिकों के कार्य पर वापसी की प्रतिक्षा नही करते हुए उनके स्थान पर अन्य श्रमिकों से कार्य लिया जाये एवं जहाँ-जहाँ इस हेतु किसी स्वीकृति / सहमति की आवश्यकता हो, वहाँ पर उक्त संबंध में प्रक्रिया तत्काल प्रारंभ किया जाए।

कर्मचारियों के लिए आ गई खुशखबरी, सरकार ने क‍िया यह बड़ा ऐलान?

महिलाओं के लिए निकली बंपर भर्तियां, 22 सितंबर को वाक इन इंटरव्यू, जल्द करें आवेदन

 

ट्रेन में लग गई आग, यात्रियों ने धक्का लगाकर बाकी डिब्बों को किया अलग

21-Sep-2022

रायगढ़। रायगढ़ जिले में बुधवार को एक बड़ा हादसा हो गया. यहां रायगढ़-बिलासपुर मेमू लोकल ट्रेन में आग लगने से हड़कंप मच गया. घटना के बाद यात्रियों के बीच अफरा-तफरी मच गई।
जानकारी के मुताबिक, मेमू ट्रेन रायगढ़ से छूटकर आज सुबह करीब 9 बजे खरसिया पहुंची थी। यहां ट्रेन रुकते ही कुछ लोगों ने इंजन के ऊपर धुआं उठते देखा। वहां चिंगारी भी उठ रही थी। ये देखकर स्टेशन में हड़कंप मच गया। वहीं रेलयात्रियों के बीच भी अफरातफरी मच गई।
घटना की सूचना जीआरपी और आरपीएफ को दी गई। वे तुरंत मौके पर पहुंचे और आधे घंटे में आग पर काबू पाया गया। इसके बाद खरसिया स्टेशन में ट्रेन को करीब एक घंटे तक रुकना पड़ा. रेलवे के एआरएम एम. एम. लाल ने बताया कि इंजन में खराबी के कारण आग लगी थी। खरसिया में आग लगने की सूचना मिलते ही ट्रेन का इंजन बदल दिया गया।

  1. PayCM, आखिर कर्नाटक में क्यों लगे हैं सीएम बसवराज बोम्मई के ऐसे पोस्टर?

  2. CRPF में होगी 400 युवाओं की भर्ती, इस दिन से शुरू होगी प्रक्रिया…जानिए डिटेल 

  3. कर्मचारियों के लिए आ गई खुशखबरी, सरकार ने क‍िया यह बड़ा ऐलान?

छत्तीसगढ़ के सीएम बघेल के सीएम को गणेश की शादी की चिंता, छह फीट की दुल्हन खोजने में लोगों से मांगी मदद

20-Sep-2022

रायपुर. भेंट-मुलाकात में मालीघोरी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छोटी कद काठी के 26 वर्षीय गणेश को साथ लेकर पदयात्रा की। भेंट-मुलाकात स्थल पर गणेश को साथ में बिठाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि गणेश भरदा से हैं। 26 साल के हैं। खुद छोटे हैं पर दुल्हन 6 फ़ीट की चाहिए। आप लोग भी लड़की खोजने में मदद कीजिये।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को मालीघोरी में कोदो अन्न से तौला गया। कोदो छत्तीसगढ़ में फ़ूड हैबिट में शामिल रहा है। इसके औषधीय गुणों की वजह से इसकी डिमांड बढ़ रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की नीतियों से छत्तीसगढ़ के कोदो का बड़ा बाजार प्रदेश के बाहर भी बन गया है।

कका हे तो भरोसा हे : मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि जैसे समर्थन मूल्य बढ़ेगा तो, आपकी राशि भी बढ़ जाएगी। भीड़ से आवाज आई, आप रहु दाऊ जी तो धान के मूल्य 3100 हो जहि। मुख्यमंत्री ने कहा, अरे वाह। फिर आवाज आई, कका हे तो भरोसा हे। मुख्यमंत्री ने कहा, बिल्कुल आप सबके जीवन में समृद्धि आही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज बालोद जिले में भेंट-मुलाकात का दूसरा दिन है। कल सभी से मिले, आपसे जो जानकारी मिली, आपके सरोकारों से अवगत कराया। विकास के कार्य तेजी से होते रहेंगे। इस साल फसल अच्छी हुई। आज आपके पितर आये होंगे। क्या आप लोगों ने मेरे लिए भी बड़ा लाया है। अपने पितरों के पुण्य स्मरण का अद्भुत दिन है। फिर देवी आएंगी। इन सबके बीच आप लोगों के बीच आया हूं।

आप लोगों के सरोकारों से परिचित होने दुख बांटने। हमने कर्जमाफी की। न्याय योजना ले आए। कोरोना के कठिन समय में भी आपके लिए चलाई योजनाएं जारी रही। मैंने कहा कि हम रास्ता निकालेंगे। राजीव गांधी किसान न्याय योजना में 4 किश्त में पैसे दिए और ऐसे समय में दिए जब सबसे ज्यादा जरूरत होती है।

खैरागढ़ सोसायटी की एक घटना उन्होंने बताई कि एक युवक ने कहा कि एकमुश्त पैसा दीजिए दाऊ जी। मैंने कहा, आप चारों किश्त आखिर में निकाल लीजिए। वो मुस्कुराने लगा। मैंने कहा कि आपके जरूरतों के मुताबिक समय-समय पर किश्त की राशि दिया गया है। तीजा के पहले, ताकि बेटी अपने लिए खरीदी कर सके। दीवाली के समय ताकि त्योहार बढिय़ा हो जाये। मुख्यमंत्री ने कहा कि उहां के मन बर तो मैं भैया हंव। तुम्ही मन मोला कका बनाए। वैभव ने कहा कि न्याय योजना के किश्त ले बिहाव करहुं। मुख्यमंत्री ने कहा, तब गणेश बर भी लड़की खोज देबे।

IAS अफसरों के प्रभार में बड़ा फेरबदल, आदेश में देखें किसे मिली क्या जिम्मेदारी?

19-Sep-2022

रायपुर: राज्य शासन ने बड़ी प्रशासनिक सर्जरी की है. राज्य सरकार ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के प्रभार में बड़ा फेरबदल किया है. इस संबंध में छत्तीसगढ़ शासन के सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से आदेश जारी कर दिया गया है.

 

VIDEO: Raipur Airport में ऑटो चालक की पिटाई का सोशल मीडिया पर वायरल

19-Sep-2022

रविवार दोपहर 4 बजे के आस पास की घटना है। रायपुर एयरपोर्ट पर एक निजी ट्रेवल्स कंपनी का दफ्तर है। जहां ऑटो चालक अपना पुराना बकाया पैसा लेने के लिए पहुंचा था। तब लड़कियों ने दिनेश को दूसरे ऑफिस जाकर बात करने के लिए कहा लेकिन दिनेश कंपनी के संचालक का नंबर मांगने लगा। इसी पर दिनेश गुप्ता और लड़कियों के बीच विवाद हो गया। इसके बाद हुए हंगामे में जमकर मारपीट हुई है। दिनेश ने थाने शिकायत दर्ज करवाते हुए कहा है कि 5 से अधिक लड़कियों ने गाली गलौज करते हुए थप्पड़, लात, बेल्ट से जमकर मारपीट की है। इसके बाद अपनी जेब में रखे ज्वलनशील पदार्थ निकालकर दिनेश के चेहरे और आंख में स्प्रे कर दिया गया।

इस मामले में माना थाना में पीड़ित युवक ने शिकायत कर दी है। रविवार रात 8 बजे दिनेश गुप्ता का पुलिस ने मेडिकल करा कर एफआईआर दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मारपीट करने वाली सोनम, प्रीति और उनके अन्य साथियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है। पुलिस ने दिनेश गुप्ता के शिकायत पर आईपीसी की धारा 285, 294, 323, 34 के तहत अपराध दर्ज किया गया है।अब आगे की जांच की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

 

  1. अब आप अपनी मर्जी से बदल सकते हैं LIC सहित  पॉलिसियों  लागू होंगे कुछ  नियम जानिए ? 

  2. सरकारी नौकरियों में  Sports Persons को मिलेगा 2% आरक्षण 

  3. Chhattisgarh: महिलाओं के लिए निकली बंपर भर्तियां, 22 सितंबर को वाक इन इंटरव्यू, जल्द करें आवेदन

पालतू कुत्तों को Corona का टीका लगवाने पहुंचा ग्रामीण, फिर हुआ कुछ ऐसा कि..थाने में पहुंचा मामला

19-Sep-2022

ये सुनने में जरूर थोड़ी अजीब लग सकती है, लेकिन सच है।  छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक ग्रामीण अपने पालतू कुत्तों को कोरोना का टीका लगवाने वैक्सीनेशन सेंटर पहुंच गया। स्वास्थ्य कर्मियों से अपने कुत्ते को वैक्सीन लगाने का आग्रह करने लगा।  उसकी बात सुनकर मेडिकल स्टाफ भी हैरान रह गए। उन्होंने ग्रामीण को समझाय़ा, लेकिन यह बात उसे नागवार गुजरी और वह स्वास्थ्य कर्मियों से विवाद करते हुए हाथापाई पर उतारू हो गया।

रामायण सिंह ने अपने तीनों कुत्तों को कोरोना का टीका लगाने का आग्रह किया। उसकी बात सुनकर केंद्र के प्रभारी ने उसे समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माना। रामायण सिंह उनसे विवाद करने लगा। विवाद इतना बढ़ गया कि उसने केंद्र के लैब– टेक्नीशियन से अभद्रता की और हाथापाई पर उतारू हो गया। करीब आधे घंटे तक स्वास्थ्य केंद्र में ड्रामा चलता रहा। वहां मौजूद स्टाफ ने रामायण सिंह की सारी करतूत अपने मोबाइल के कैमरे में कैद कर लिया।

ग्रामीण की इस हरकत से नाराज मेडिकल स्टाफ अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर केंद्र के बाहर ही धरने पर बैठ गए। मामले की शिकायत बालको थाना में की गई है। बताया जा रहा है कि रामायण सिंह शराब के नशे में धुत था। वह लड़खड़ाते हुए अपने कुत्तों के साथ केंद्र पहुंचा था। मामूली बात को लेकर उसने लैब टेक्नीशियन से विवाद करना शुरू कर दिया, जबकि वहां पर महिला स्वास्थ्यकर्मी भी मौजूद थे। लेडी स्टाफ ने भी उसे समझाने का काफी प्रयास किया, मगर कोई फायदा नहीं हुआ। ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग में काम करने वाले कर्मचारी अब सुरक्षा की मांग कर रहे हैं।

  1. अब आप अपनी मर्जी से बदल सकते हैं LIC सहित  पॉलिसियों  लागू होंगे कुछ  नियम जानिए ? 

  2. सरकारी नौकरियों में  Sports Persons को मिलेगा 2% आरक्षण 

  3. Chhattisgarh: महिलाओं के लिए निकली बंपर भर्तियां, 22 सितंबर को वाक इन इंटरव्यू, जल्द करें आवेदन

Chhattisgarh: महिलाओं के लिए निकली बंपर भर्तियां, 22 सितंबर को वाक इन इंटरव्यू, जल्द करें आवेदन

17-Sep-2022

बलौदाबाजार। कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला बलौदाबाजार- भाटापारा अंतर्गत खनिज न्यास मद के तहत जिले के उप स्वास्थ्य केंद्र के लिए 55 ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक महिला के पद की पूर्ति के लिए वाक् इन इंटरव्यू का आयोजित किया गया है। इच्छुक पात्र उम्मीदवार आवेदन के निर्धारित प्रारूप में भर कर 22 सितंबर 2022 को सुबह 10.00 बजे कार्यालय परिसर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी,जिला बलौदाबाजार- भाटापारा में उपस्थित हो सकतें है। इसके अलावा अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट www.balodabazar.gov.in पर उपलब्ध है।

  1. पैसे लेन-देन के विवाद में हत्या करने की नीयत से रेलवे ट्रैक पर युवक को धकेला, बच गई जान पर कट गया पैर, अब आरोपी पहुँचा हवालात 

  2. सरकारी नौकरियों में  Sports Persons को मिलेगा 2% आरक्षण

कल रविवार को दो पाली में आयोजित होगी टी. ई. टी.परीक्षा , जिले के इन 11 परीक्षा केंद्रों मे होगी परीक्षा

17-Sep-2022

रायपुर। छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल रायपुर द्वारा शिक्षक पात्रता परीक्षा; टीईटीद्ध.2022 18 सितंबर 2022 दिन रविवार को दो पालियों मे आयोजित किया जाएगा। प्रथम पाली की परीक्षा पूर्वान्ह 9.30 से 12.15 बजे तक एवं द्वितीय पाली की परीक्षा अपरान्ह 2.00 से 4.45 बजे तक आयोजित की जावेगी। प्रथम पाली में 3362 अभ्यर्थी एवं द्वितीय पाली में 2516 अभ्यर्थी शामिल होंगे। जिला बीजापुर में परीक्षा के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर मनोज कुमार बंजारे के द्वारा बताया गया कि परीक्षा के लिए जिला बीजापुर में 11 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

1.शासकीय शहीद वेंकट राव पीजी कॉलेज बीजापुर,

2.शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बीजापुर,

3.स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल बीजापुर,

4.शासकीय गर्ल्स हाई स्कूल पोटा केबिन बीजापुर,

5. शा उ०मा०वि० धनोरा, 6.शासकीय कन्या शिक्षा परिसर एजुकेशन सिटी बीजापुर,

7. अंकुर पब्लिक स्कूल बीजापुर,

8. शासकीय आईटीआई बीजापुर,

9. शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज बीजापुर,

10. आदर्श आवासीय विद्यालय एजुकेशन सिटी बीजापुर,

11. डीण्एण्वीण् मुख्यमंत्री पब्लिक स्कुल माझीगुडा बीजापुर, परीक्षा के दौरान नकल एवं अनुचित साधनों के प्रयोग को रोकने के लिए दो उड़नदस्ता दल का गठन किया गया है। परीक्षार्थी को परीक्षा से 1 घंटे पूर्व परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा। परीक्षार्थी को प्रवेश पत्र एवं ओरिजनल पहचान पत्र साथ में लाना होगा।

पैसे लेन-देन के विवाद में हत्या करने की नीयत से रेलवे ट्रैक पर युवक को धकेला, बच गई जान पर कट गया पैर, अब आरोपी पहुँचा हवालात

17-Sep-2022

मामले की जानकारी देते हुए खम्हारडीह थाना प्रभारी विजय यादव ने बताया कि घटना 7 सितंबर की है जहां पीड़ित राहुल साहू पिता का नाम उदयनाथ साहू उम्र 23 साल निवासी- पार्वती नगर का ईश्वर सागर व अशोक मण्डल पैसो का लेन-देन था जहां रात्रि करिब 10:30 बजे इशवर सागर और अशोक मण्डल अपने पैसे की मांग करते हुए राहुल से विवाद करने लगे, इस दौरान दोनों आरोपियों ने राहुल को रैलवे ट्रैक की ओर धकेला जहां ट्रैन से राहुल का पैर कटकर अलग हो गया। थाना प्रभारी यादव ने बताया कि ईलाज के बाद पीड़ित ने थाना आकर घटना की रिपोर्ट दर्ज करवाई है जिसके बाद पुलिस टीम ने आरोपी ईश्वर सागर को गिरफ़्तार कर लिया है व अग्रिम कार्यवाही की जा रही है।

  1. WhatsApp यूजर्स के लिए बुरी खबर! अगले महीने से इन स्मार्टफोन्स में काम नहीं करेगा ऐप

  2. Raipur workers on strike : दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों ने निकाली मशाल रैल्ली 

  3. 2023 में होगा वर्ष भारत बाजरा प्रोडक्शन में सबसे आगे अफ्रीका से भारत पहुंचा था  बाजरा जानिए ? 

  4. GOOD NEWS: नियमित हो सकते हैं अनियमित कर्मचारी: सरकार ने पहली बार मांगी शैक्षणिक योग्यता-आरक्षण से जुड़ी विभागीय जानकारी 

  5. न्यूड फोटोशूट पर Ranveer Singh की सफाई- तस्वीर के साथ की गई छेड़छाड़

parvati nagar, raipur, train accident

 

 

 

छत्तीसगढ़ में 9वीं से 12वीं तक की तिमाही परीक्षा बोर्ड पैटर्न में होगी , हर पेपर 50 नंबर का

16-Sep-2022

स्कूल शिक्षा विभाग ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है, अब छत्तीसगढ़ के स्कूलों में बोर्ड पैटर्न पर तिमाही परीक्षाएं होंगी।। कोरोना के बाद फिर से उसी पैटर्न पर परीक्षाएं होंगी जो कोरोना से पहले हुआ करती थी। खास बात यह है कि तिमाही की परीक्षाएं बोर्ड पैटर्न में होगी, ये नवमी से 12वीं तक की क्लासेस लागू होगा। हालांकि कोरोना से पहले भी तिमाही परीक्षा होती थी लेकिन इस बार की तिमाही परीक्षा में प्रश्न पत्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से भेजे जाएंगे। ऐसा पहली बार हो रहा है जब माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से तिमाही परीक्षा में प्रश्न पत्र भेजे जाएंगे

वार्षिक परीक्षा में ना हो परेशानी इसलिए उठाया गया कदम शिक्षा विदों की माने तो 10वीं 12वीं की पढ़ाई करने वाले छात्र वार्षिक परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्र में प्रश्न पत्र को देखकर घबरा जाते हैं कुछ लोग उत्तर पुस्तिका में भी गलत जानकारियां अंकित कर देते हैं जिसकी वजह से उनको खासा नुकसान उठाना पड़ता है इन सारी चीजों को देखते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया है ताकि छात्रों मी परीक्षा के दौरान जो भय का वातावरण बना रहता है उसको दूर किया जा सके।क्या कहना है परिजनों कास्कूल शिक्षा विभाग द्वारा लिए गए इस निर्णय को लेकर परिजनों ने भी इस निर्णय का स्वागत किया है।

  1. रोड सेफ्टी वर्ल्ड क्रिकेट सीरीज का शेड्यूल तैयार, रायपुर स्टेडियम  में 27 सितंबर से मैच सुरु 

  2.  Video: यात्रियों ने चलती ट्रेन में मोबाइल चोर पकड़ा, 15 किलोमीटर तक खिड़की से लटकाया

रोड सेफ्टी वर्ल्ड क्रिकेट सीरीज का शेड्यूल तैयार, रायपुर स्टेडियम में 27 सितंबर से मैच सुरु

16-Sep-2022

Road Safety World Series 2022:  राजधानी रायपुर में रोड सेफ्टी क्रिकेट को लेकर पिछले कुछ दिनों से जोरो से तैयारी चल रही है। राजधानी में होने वाले रोड सेफ्टी वर्ल्ड क्रिकेट का शैड्यूटल जारी हो चुका है। मिली जानकारी के अनुसार राजधानी रायपुर में कुल 5 मैच खेलें जाएंगे। जिसमें 2 नॉकआउट मैच, 2 सेमीफाइनल और 1 फायनल मैच शामिल है। बता दें मैच राजधानी रायपुर स्थित शहीद वीर नारायण सिहं क्रिकेट स्टेडियम में होगा। सितबंर से एक अक्टूबर तक मैच लगातार रायपुर में ही खेला जाएगा।

27 सितंबर - श्रीलंका और बांग्लादेश फिर 
27 सितंबर - इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया 
28 सितंबर -  पहला सेमीफाइनल 
29 सितंबर - दूसरा सेमीफायनल 
1 अक्टूबर -  फायनल 

 

छत्तीसगढ़: जानें किन 3 गांवों में 17 साल बाद खुले स्‍कूल, पढ़ें इसके प‍ीछे की कहानी

16-Sep-2022

अनगिनत बाधाओं और चुनौतियों को पार कर नक्सलगढ़ के ग्रामीण अपने गांव में 17 साल बाद स्कूल खोलवाने में कामयाब हुए। साल 2005 के सलवा जुडूम के दौर में आतंक और दहशत की गिरफ्त में सरकार की पहुंच से दूर होकर मुख्यधारा से कट गए थे। इस दौरान जिले में 350 स्कूल बंद हो गए और हजारों बच्चों के भविष्य पर ग्रहण लग गया। मोसला कचिलवार और गुण्डापुर की चुनौतियों से पार नहीं पाया जा सका था। सरकार की पहल और शिक्षा विभाग के प्रयासों से जिले में बीते 3 साल में 160 से ज्यादा स्कूल खुले लेकिन मोसला, कचिलवार और गुण्डापुर की चुनौतियों से पार नहीं पाया जा सका था।  बीते 3 साल से ग्रामीणों से लगातार संपर्क कर विश्वास बहाली की मुहिम को अमली जामा पहनाने में शिक्षा विभाग की टीम अब जाकर सफल हुई जब ग्रामीणों की रज़ामन्दी के बाद एक झोपड़ी के स्कूल फिर से शुरू किए गए। इस दौरान गांव के मुखिया और पुजारी ने स्थानीय रीति रिवाज से पूजा अर्चना की और बच्चों के साथ राष्ट्रगान का गायन किया गया। रकार की विश्वास बढ़ाने और अंतिम छोर तक सरकार की योजनाओं को पहुंचाने की नीति ने एक बार फिर माओवाद प्रभावित इलाके में ग्रामीणो के दिल जीतने में कामयाबी पाई और मोसला कचिलवार गुण्डापुर जैसे नक्सलगढ़ में फिर अ, आ, इ, ई की गूंज सुनाई देने लगी है।

  1. शाहिद अफरीदी ने दी कोहली को संन्यास की सलाह, तो इस क्रिकेटर ने की बोलती बंद कर दी जानिए ? 

  2. RAIPUR SBI एटीएम में लगी भीषण आग, फायर ब्रिगेड की टीम ने बुझाया, आसपास की दुकानों को खाली कराया गया जानिए ? 

  3. पाकिस्तान की चेतावनी के बाद हरकत में आया रिमोट कंट्रोल बम से उड़ाया,तालिबान के खिलाफ उठाई थी बंदूक ?

हिंदी दिवस पर छत्‍तीसगढ़ हाईकोर्ट ने शुरू की नई परंपरा, अब हिंदी में जारी होगी आदेश की कॉपी

16-Sep-2022

Hindi Diwas 2022: हाई कोर्ट ने दो मामलों की सुनवाई के दौरान पाया कि अंग्रेजी में मिले कोर्ट के फैसले के कारण असमंजस की स्थिति बन रही है। इसे देखते हुए याचिकाकर्ता या पक्षकार की मांग पर आदेश की कापी हिंदी में दी जा रही है। याचिकाकर्ता या पक्षकार को इसके लिए 10 रूपया प्रति कापी शुल्क देना पड़ता है।

दरअसल सफदर अली स्टोर कीपर, एसई सोढ़ी एसडीओ और गुलाब सिंह वर्मा उपयंत्री के तौर पर जल संसाधन विभाग में पदस्थ थे। इन पर जलाशय निर्माण में भ्रष्टाचार का आरोप था। सीमेंट की बोरी के साथ निर्माण सामग्री की सप्लाई नहीं हुई और काम समय पर पूरा नहीं किया गया। शासन द्वारा दर्ज कराए गए मामले को जिला कोर्ट में आरोपियों ने चुनौती दी। कोर्ट ने आरोपियों को बरी कर दिया था। इसी के खिलाफ शासन ने हाईकोर्ट में अपील की थी। हाईकोर्ट में जस्टिस द्वारा आर्डर तो हिंदी में पहली बार किया गया है लेकिन फैसलों की कापी हिंदी में पहले से मिल रही है। हाईकोर्ट ने इससे पहले दो मामलों की सुनवाई के दौरान पाया था कि अंग्रेजी में मिले कोर्ट के फैसले के कारण पक्षकार को समझने में परेशानी होती है। इसे देखते हुए याचिकाकर्ता या पक्षकार की मांग पर आदेश की कापी हिंदी में दी जा रही है।

  1. WhatsApp यूजर्स के लिए बुरी खबर! अगले महीने से इन स्मार्टफोन्स में काम नहीं करेगा ऐप

  2. Raipur workers on strike : दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों ने निकाली मशाल रैल्ली 

  3. 2023 में होगा वर्ष भारत बाजरा प्रोडक्शन में सबसे आगे अफ्रीका से भारत पहुंचा था  बाजरा जानिए ?

छत्तीसगढ़ के पीयूष जायसवाल बने दुनिया के सबसे कम उम्र के वैज्ञानिक

15-Sep-2022

जिले के 13 वर्ष के पीयूष जायसवाल दुनिया के सबसे कम उम्र के साइंटिस्ट बन कर प्रदेश का नाम ऊंचा कर दिया है। इससे पहले यह उपलब्धि महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आईंस्टीन के नाम थी। अल्बर्ट आइंस्टीन को 17 साल की उम्र में सबसे कम उम्र के साइंटिस्ट होने का प्रमाणपत्र मिला था। दुनिया की सबसे बड़ी शोध संस्थाओं में से एक इंटरनेशनल जरनल्स ऑफ साइंटिफिक एंड इंजीनियरिंग ने अब पीयूष जायसवाल के नाम ये प्रमाणपत्र जारी किया है।

8वीं के छात्र पीयूष जायसवाल ने ब्रह्मांड के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी हासिल की है। 6 महीने की मेहनत से उन्होंने 20 पन्नों का शोध तैयार किया है, जिसमें में उन्होंने बताया कि ब्रम्हांड गुरुत्वाकर्षण बल पर टिका हुआ है और यह कैसे नष्ट हो सकता है।

IJSER  ने दी पीयूष के शोध को मान्यता

पीयूष ने अपने 20 पन्नों के शोध को मेल के जरिए वाशिंगटन डीसी के आईजीएसईआर (इंटरनेशनल जनरल्स आफ साइंटिफिक एंड इंजीनियरिंग रिसर्च ) को अक्टूबर में भेजा था। तब उन्हें बिल्कुल उम्मीद नहीं थी कि उनके शोध को मान्यता मिल जाएगी। 27 दिसंबर को संस्था ने पीयूष के शोध को मान्यता देते हुए सर्टिफिकेट मेल कर दिया। यह भी लिखा कि बहुत जल्द ही पीएचडी की स्कालर और साइंटिस्ट की उपाधि भी उन्हें दी जाएगी।

रायपुर में बाल वैज्ञानिक पीयूष जायसवाल की रिसर्च बुक 'वेलोसिटी मिस्ट्री' का विमोचन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया। गरियाबंद के रहने वाले पीयूष की किताब को सीएम आवास में लॉन्च किया गया। 'वेलोसिटी मिस्ट्री' करीब 3 महीने पहले मार्च में प्रकाशित हुई थी। गरियाबंद के रहने वाले 13 साल के बाल वैज्ञानिक पीयूष जायसवाल पर पूरे प्रदेश को गर्व है। उसकी किताब एस्ट्रोफिजिक्स विषय पर है। सीएम भूपेश बघेल ने प्रतिभावान छात्र की उपलब्धियों की सराहना कर उसे प्रदेश का गौरव बताया। उन्होंने पीयूष के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उसे आशीर्वाद भी दिया। इस अवसर पर कांग्रेस नेता विनोद तिवारी, पीयूष के दादा केआर जायसवाल, पिता पीएल जायसवाल, मां सुनीता जायसवाल, बहन साक्षी के अलावा इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड की अथॉरिटी की सदस्य सोनल वर्मा भी मौजूद थीं।

 

  1. GOOD NEWS: नियमित हो सकते हैं अनियमित कर्मचारी: सरकार ने पहली बार मांगी शैक्षणिक योग्यता-आरक्षण से जुड़ी विभागीय जानकारी 

  2. Engineer’s day 2022: जानें क्यों आज मनाया जाता है इंजीनियर्स डे, पीएम मोदी ने भी दिया संदेश 

  3. अब भारत इलेक्ट्रिक हाइवे का शुरू, दौड़ती गाड़ियां हो जाएंगी चार्ज, जानिए पूरी डिटे

Raipur workers on strike : दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों ने निकाली मशाल रैल्ली

15-Sep-2022

14 SEPTEMBER 2022: छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 20 अगस्त से प्रदेश भर के वन विभाग में काम करने वाले दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी हड़ताल पर हैं। बुधवार को दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों ने मशाल रैली निकालकर अपनी आवाज बुलंद किया। ये कर्मचारी 20 अगस्त से नियमितीकरण और स्थायीकरण को लेकर अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

बता दें कि पूरे प्रदेश में वन विभाग में काम करने वाले दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों की संख्या लगभग 6500 है। जिसमें से 500 ऐसे दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी हैं, जो युवावस्था में वन विभाग में अपनी सेवाएं देनी शुरू की थी। आज इन दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों की उम्र 55 के पार हो चुकी है। बावजूद इसके आज भी वन विभाग ने अपनी सेवाएं दे रहे हैं। वन विभाग में रिटायरमेंट की उम्र 62 वर्ष है। ऐसे में जो दैनिक वेतन भोगी जो उम्र के अंतिम पड़ाव पर हैं। उनके रिटायरमेंट में महज 5 से 7 साल ही रह गए हैं।

उनका कहना है कि सरकार जब तक स्थाई और नियमितीकरण का तोहफा उन्हें नहीं दे देती तब तक दैनिक वेतन भोगी वन कर्मचारी संघ के द्वारा प्रदर्शन लगातार जारी रहेगा। इसके बाद भी सरकार इनकी मांगों पर विचार नहीं करती है, तो आने वाले दिनों में छत्तीसगढ़ वन कर्मचारी संघ के द्वारा उग्र प्रदर्शन भी किया जाएगा। अपनी मांगों को लेकर इसके पहले भी दैनिक वेतन भोगी वन कर्मचारी अलग अलग तरीके से सरकार को जगाने के लिए प्रदर्शन कर चुके हैं।

  1. GOOD NEWS: नियमित हो सकते हैं अनियमित कर्मचारी: सरकार ने पहली बार मांगी शैक्षणिक योग्यता-आरक्षण से जुड़ी विभागीय जानकारी

  2. अब भारत इलेक्ट्रिक हाइवे का शुरू, दौड़ती गाड़ियां हो जाएंगी चार्ज, जानिए पूरी डिटेल 

  3. WhatsApp यूजर्स के लिए बुरी खबर! अगले महीने से इन स्मार्टफोन्स में काम नहीं करेगा ऐप

सड़क पर घूमते दिखे मवेशी तो जनपद CEO और नगर पालिका CMO होंगे जिम्मेदार, जिला कलेक्टर ने जारी किए निर्देश

15-Sep-2022

मवेशी  इस दौरान यह बात ध्यान में आया कि सड़कों पर मवेशी बैठे रहने से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। हाल ही में पड़ोसी जिले कबीरधाम के एक युवा पशुचिकित्सक की सहसपुर-लोहारा के पास महाराजपुर में सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई। इसका कारण सड़क पर मवेशी बैठे होने के कारण उनका वाहन अनियंत्रित होकर पुलिया से जा टकराया। प्रदेश सरकार द्वारा सुराजी गांव योजना अन्तर्गत गौठान संचालित किया जा रहा है।

सड़कों पर खुले में विचरण करने वाले मवेशी बैठे या घूमते पाये जाने पर संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं नगरीय निकाय के अन्तर्गत नगर पालिका एवं नगर पंचायतों के मुख्य नगर पालिका अधिकारी को जिम्मेदार मानते हुए उनके विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी। यह चेतावनी कलेक्टर जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने कल समय-सीमा की बैठक लेकर विभागीय काम-काज की समीक्षा के दौरान दी। कलेक्टर ने ग्रामीणों से भी अपील किया है कि वे अपने पशुओं को खुले में न छोड़कर गौठान में भेजें, जिससे फसलों की सुरक्षा हो सके और सड़क दुर्घटना में कमी लायी जा सके। 

  1. अब भारत इलेक्ट्रिक हाइवे का शुरू, दौड़ती गाड़ियां हो जाएंगी चार्ज, जानिए पूरी डिटेल 

  2. WhatsApp यूजर्स के लिए बुरी खबर! अगले महीने से इन स्मार्टफोन्स में काम नहीं करेगा ऐप

  3. GOOD NEWS: नियमित हो सकते हैं अनियमित कर्मचारी: सरकार ने पहली बार मांगी शैक्षणिक योग्यता-आरक्षण से जुड़ी विभागीय जानकारी

नियमित हो सकते हैं अनियमित कर्मचारी: सरकार ने पहली बार मांगी शैक्षणिक योग्यता-आरक्षण से जुड़ी विभागीय जानकारी

15-Sep-2022

दरअसल छत्तीसगढ़ में 1 लाख 80 हजार अनियमित कर्मचारियों को नियमित कर लिया जा सकता है। इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग के अवर सचिव एसके सिंह द्वारा सभी विभाग को दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा अपने पत्र में कहा गया है कि सभी विभाग के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और विशेष सचिव अपने-अपने विभागों के कर्मचारियों की जानकारी उपलब्ध कराएं। इसके अलावा निगम मंडल आयोग संस्था कार्यालय में काम कर रहे अनियमित, दैनिक भोगी और संविदा कर्मचारियों को भी इसमें शामिल किया गया है।

इस वजह से शुभ संकेत

छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी संगठन से जुड़े रवि गढ़पाले ने बताया कि इससे पहले सरकार संख्यात्मक रूप से जानकारियां लेती रही है , मगर यह पहली बार है जब भर्ती के नियमों, आरक्षण, वेतन से संबंधित जानकारी मांगी गई है। हो सकता है कि अभी सरकार जल्द ही नियमितीकरण का नियम बनाकर कर्मचारियों को नियमित करें। ये हमने जो पिछने दिनों आंदोलन किया उसका असर है।

रवि ने आगे कहा कि ऐसे में हम कर्मचारी संगठन से जुड़े लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका है। हम पूरा प्रयास कर रहे हैं कि सभी कर्मचारियों की सही जानकारी शासन तक भेजी जाए । कोई भी कर्मचारी छूटे ना ताकि उसे नियमितीकरण का अधिकार मिल सके। प्रदेश में सभी विभागों में काम करने वाले 1 लाख 80000 अनियमित कर्मचारियों से जुड़ा हुआ मामला है । रवि ने बताया कि अनियमित कर्मचारी के तहत दैनिक वेतन भोगी, मानदेयकर्मी, संविदा, ठेका और अंशकालीन कर्मचारी आते हैं।

यह जानकारियां मांगी गईं

विभाग में पदस्थ अनियमित, दैनिक वेतन भोगी, संविदा पर कार्यरत कर्मचारी क्या खुले विज्ञापन भर्ती प्रक्रिया के माध्यम से नियुक्त हुए हैं।

क्या कार्यरत कर्मचारी उक्त पद की निर्धारित शैक्षणिक तकनीकी योग्यता रखते हैं।

कार्यरत कर्मचारी जिस पद पर कार्य कर रहा है क्या वह पद संबंधित विभाग के पद संरचना भर्ती नियम में स्वीकृत है।

क्या उक्त नियुक्ति में शासन द्वारा जारी आरक्षण नियमों में अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग का पालन किया गया है।

विभागामें अनियमित, दैनिक वेतन भोगी, संविदा पर कार्यरत उन्हें वर्तमान में क्या मानदेय भुगतान किया जा रहा है तथा नियमित पदों का क्या वेतनमान है।