Thursday,28 October 2021   11:37 pm
Previous123456789...1819Next

67th National Film Awards: रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के और कंगना को बेस्ट एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड, देखें विजेताओं की लिस्ट

25-Oct-2021

भारतीय सिनेमा में शानदार प्रदर्शन के लिए सुपरस्टार रजनीकांत को 51वां दादा साहब फाल्के अवॉर्ड दिया जाएगा। घोषणा अप्रैल में ही हो चुकी थी। अब डायरेक्टोरेट ऑफ फिल्म फेस्टिवल इंडिया ने जानकारी दी कि अवॉर्ड 25 अक्टूबर को यानि आज दिया जा रहा है। इस बीच रजनीकांत ने ट्वीट किया कि मेरी बेटी सौंदर्या विशगन ने अपनी कोशिशों से "हूट" ऐप्प बनाने का बीड़ा उठाया है और वह इसे दुनिया के सामने पेश करने जा रही है।

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में 67वां राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार (67th National Film Awards Ceremony) सम्‍मान समारोह शुरू हो गया है। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू (Venkaiah Naidu) विजेताओं को पुरस्कार दे रहे हैं। सुपरस्‍टार रजनीकांत को दादा साहब फाल्‍के पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया जाना है। हिंदी सिनेमा कैटेगरी में इस बार एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म 'छिछोरे' बेस्ट हिंदी फिल्म चुनी गई है। कंगना रनौत (Kangana Ranaut) को भी दो फिल्मों के लिए बेस्ट एक्ट्रेस के अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा। रजनीकांत (Rajinikanth) के साथ ही मनोज बाजपेयी (Banoj Bajpayee) कंगना रनौत और विजय सेतुपथी जैसे सितारे समारोह में मौजूद हैं। सोमवार सुबह 11 बजे विज्ञान भवन में पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया जा रहा है।

 

देखें लिस्ट

 

बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर- विजय सेतुपति (सुपर डीलक्स- तमिल)

 

बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस- पल्लवी जोशी (द ताशकंद फाइल्स- हिंदी)

 

बेस्ट चाइल्ड आर्टिस्ट- नागा विशाल, करुप्पु दुराई (तमिल)

 

बेल्ट चिल्ड्रेन फ़िल्म- कस्तूरी (हिंदी), निर्माता- इनसाइट फ़िल्म्स, निर्देशक- विनोद उत्तरेश्वर काम्बले

 

बेस्ट फ़िल्म ऑन एनवायरनमेंट कंजरवेशन- वॉटर बरियल (मोनपा), निर्माता- फारूख़ इफ़्तिखार लस्कर, निर्देशक शांतनु सेन

 

बेस्ट फ़िल्म ऑन सोशल इशू- आनंदी गोपाल (मराठी), निर्माता- एस्सेल विज़न प्रोडक्शंस, निर्देशक- समीर विधवंस

 

नर्गिस दत्त अवॉर्ड फॉर फिल्म ऑन नेशनल इंटीग्रेशन- ताजमल (मराठी), निर्माता- टियूलाइन स्टूडियोज़, निर्देशक- नियाज़ मुजावर

 

बेस्ट फ़िल्म प्रोवाइडिंग होलसम एंटरटेनमेंट- महर्षि (तेलुगु), निर्माता- श्री वेंकटेश्वर क्रिएशंस, निर्देशक- पेडिपल्ली वंशीधर राव

 

बेस्ट मेल प्लेबैक सिंगर- बी प्राक, गाना- तेरी मिट्टी (केसरी- हिंदी)

 

बेस्ट फीमेल प्लेबैक सिंगर- सावनी रवींद्र, गाना- रान पीटला, (मराठी फ़िल्म- बार्दो)

 

बेस्ट लिरिक्स- प्रभा वर्मा, अरादुम परायुक्का वाय्या- कोलम्बी (मलयालम)

 

बेस्ट म्यूज़िक डायरेक्शन (सॉन्ग्स)- डी. इमान, विश्वासम (तमिल)

 

बेस्ट म्यूज़िक डायरेक्शन (बैकग्राउंड स्कोर)- प्रबुद्ध बनर्जी, ज्येष्ठपुत्रो (बंगाली) बेस्ट स्क्रीनप्ले (ओरिजिनल)- कौशिक गांगुली, ज्येष्ठपुत्रो (बंगाली)

 

बेस्ट स्क्रीनप्ले (अडेप्टेड)- श्रीजीत मुखर्जी, गुमनामी (बंगाली)

 

बेस्ट स्क्रीनप्ले (डायलॉग राइटर)- विवेक अग्निहोत्री, द ताशकंद फाइल्स (हिंदी)

 

बेस्ट सिनेमैटोग्राफी- गिरीश गंगाधरन, जलीकट्टू (मलयालम) बेस्ट मेकअप आर्टिस्ट- रंजीत, हेलन (मलयालम)

 

बेस्ट कॉस्ट्यूम डिज़ाइनर- सुजीत सुधाकरन और वी साई, मरक्कड़ अरबीकड़ालिंते सिम्हम (मलयालम)

 

बेस्ट प्रोडक्शन डिज़ाइन- सुनील निगवेकर और नीलेश वाघ, आनंदी गोपाल (मराठी)

 

बेस्ट बंगाली फ़िल्म- गुमनामी, निर्देशक- श्रीजीत मुखर्जी

 

बेस्ट असमी फ़िल्म- रोनुआ- हू नेवर सरेंडर्स, निर्देशक- चंद्र मुडोई

 

बेस्ट एक्शन डायरेक्शन (स्टंट)- विक्रम मोर, अवने श्रीमन्नारायण (कन्नड़)

 

बेस्ट कोरियोग्राफी- राजू सुंदरम, महर्षि (तेलुगु)

 

बेस्ट स्पेशल इफेक्ट्स- सिद्धार्थ प्रियदर्शन, मरक्कड़ अरबिक्काडालिंते सिंघम (मलयालम)

 

बेस्ट एडिटिंग- नवीन नूली, जर्सी (तेलुगु)

 

बेस्ट ऑडियोग्राफी (लोकेशन साउंड रिकॉर्डिंग)- देबजीत गयन, Lewduh (खासी)

 

बेस्ट आडियोग्राफी (साउंड डिज़ाइनर)- मंदार कमलापुरकर, त्रिज्या (मराठी)

 

बेस्ट ऑडियोग्राफी (री-रिकॉर्डिस्ट ऑफ़ द फाइनल मिक्स्ड ट्रैक)- रेसुल पुकुट्टी, उत्ता सेरुप्पु साइज़-7 (तमिल)

 

स्पेशल ज्यूरी अवॉर्ड- राधाकृष्ण पार्थिबन उत्ता सेरुप्पु साइज़-7 (तमिल)

 

बेस्ट फ़िल्म क्रिटिक- सोहिनी चट्टोपाध्याय इंदिरा गांधी अवॉर्ड फॉर बेस्ट डेब्यू फ़िल्म ऑफ़ अ डायरेक्टर- हेलेन (मलयालम), निर्देशक- मुथुकुट्टी ज़ेवियर

 

बेस्ट नैरेशन (नॉन फीचर फ़िल्म)- वाइल्ड कर्नाटक (अंग्रेज़ी)- सर डेविड एटनबरो

 

बेस्ट म्यूज़िक डायरेक्शन (नॉन फीचर फ़िल्म)- क्रांति दर्शी गुरुजी, अहेड ऑफ़ टाइम्स (हिंदी)- बिशाखज्योति

 

बेस्ट बुक ऑन सिनेमा- अ गांधियन अफेयर: इंडियाज़ क्यूरियस पोर्ट्रेयल ऑफ़ लव इन सिनेमा, लेखक- संजय सूरी

 

मोस्ट फ़िल्म फ्रेंडली स्टेट- सिक्किम

 

केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को दिवाली का तोहफा मिला, 3 % बढ़ा महंगाई भत्ता

22-Oct-2021

दिवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा मिला है। ये तोहफा महंगाई भत्ता यानी डीए का है। सूत्रों के मुताबिक सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3 % का इजाफा किया है। इसके अलावा पेंशनभोगियों के महंगाई राहत यानी डीआर में भी 3 %  की बढ़ोतरी हुई है। डीए और डीआर की ये बढ़ोतरी 1 जुलाई से दिसंबर 2021 तक के लिए लागू होगी।

क्यों हो रही बढ़त 

असल में लेबर मिनिस्ट्री ने AICPI (All India Consumer Price Index) के पिछले तीन महीनों के आंकड़े जारी किए थे। इनमें जून, जुलाई और अगस्त का नंबर शामिल था। AICPI इंडेक्स अगस्त में 123 अंक पर पहुंच चुका है। इससे ही यह संकेत मिल गया कि महंगाई भत्ते में सरकार आगे और बढ़त कर सकती है। इसके आधार पर ही केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता तय होता है।

बढ़त का असर दूसरे अलाउंस में भी

महंगाई भत्ता बढ़ने से दूसरे अलाउंस में भी इजाफा होगा। इसमें ट्रैवल अलाउंस (Travel Allowance) और सिटी अलाउंस (City Allowance) शामिल हैं। वहीं, रिटायरमेंट के लिए प्रोविडेंट फंड (Provident Fund) और ग्रेच्युटी (Gratuity) में भी बढ़ोतरी होगी।

MRP से आधे दामों पर मिलेंगी दवाइयां और सर्जिकल इंस्ट्रुमेंट, CM भूपेश बघेल ने किया इस योजना का शुभारंभ

21-Oct-2021

रायपुर। केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की तर्ज पर अब छत्तीसगढ़ सरकार भी श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल योजना शुरू करने जा रही है। इस योजना से कम कीमत पर सभी वर्गों को आसानी से दवा मिल सकेगी और मेडिकल का खर्चा भी कम होगा।मुख्यमंत्री आज यहां अपने निवास कार्यलय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए श्री धन्वन्तरी जेनरिक मेडिकल स्टोर योजना का शुभारंभ करने के बाद कार्यक्रम को सम्बोधित किया। इस योजना के तहत पहले चरण में प्रदेशभर में 59 दुकानों की शुरुआत की जा रही है।

इस योजना के अंतर्गत राज्य में 84 दुकानों का शुभारंभ मुख्यमंत्री  बघेल ने किया। श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स से उपभोक्ताओं को सस्ती दर पर गुणवत्तापूर्ण दवाईयां उपलब्ध होगी। उपभोक्ताओं को दवाइयों की एमआरपी पर न्यूनतम 50.09 प्रतिशत और अधिकतम 71 प्रतिशत छूट का लाभ मिलेगा।

इन मेडिकल स्टोर्स में 251 प्रकार की जेनरिक दवाइयां तथा 27 सर्जिकल उत्पाद की बिक्री अनिवार्य होगी। इसके अलावा वन विभाग के संजीवनी के उत्पाद, सौंदर्य प्रसाधन उत्पाद और शिशु आहार आदि का भी विक्रय किया जाएगा। इन मेडिकल स्टोरों से मिलने वाली जेनेरिक दवाईयां सिपला, एलेम्बिक, रेनबैक्सी, केडिला, फाईजर जैसी 20 ब्रांडेड प्रतिष्ठित कंपनी की होंगी, जो सस्ती होने के साथ-साथ गुणवत्तापूर्ण भी होंगी। इन मेडिकल स्टोर्स में दर्द और ज्वर नाशक, मांसपेशियों को आराम देने वाली दवाई, महिलाओं के मासिक धर्म, गर्भावस्था की दवाई, एलर्जी, आंख, कान, नाक, गला रोग, हृदय रोग, सर्दी-खाँसी- बुखार, लोकल एवं जनरल अनेसथेसिया, थायराइड की दवाइयां, एंटीफंगल दवा, विटामिन की गोलियां एवं त्वचा संबंधी रोगों की दवाई उपलब्ध रहेंगी।

मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने इस अवसर पर कहा कि पूरी दुनिया में महंगी होती स्वास्थ्य सेवाएं चिंता का कारण है। अनेक लोग इलाज के खर्च के कारण कर्ज और महंगाई का शिकार हो जाते हैं। राज्य सरकार द्वारा यूनिवर्सल हेल्थ कव्हरेज के लक्ष्य के साथ दुर्गम स्थानों में बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना, शहरी क्षेत्रों में मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना प्रारंभ की गई हैं, जिनमें मोबाइल मेडिकल यूनिट के जरिए अधिक से अधिक जरूरतमंद लोगों तक स्वास्थ्य सेवाएं पहुंच रही हैं। महिलाओं और किशोरी बालिकाओं के लिए दाई-दीदी क्लिनिक योजना प्रारंभ की गई है।

धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना के अंतर्गत दुर्ग जिले में 15, जांजगीर-चांपा जिले में 15, धमतरी, कोरबा और रायगढ़ जिले में 6-6, राजनांदगांव में 5, बिलासपुर, कोण्डागांव, सुकमा और बीजापुर जिले में 3-3, रायपुर, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, सूरजपुर और जशपुर जिले में 2-2, महासमुंद, बलौदाबाजार-भाटापारा, गरियाबंद, बेमेतरा, कबीरधाम, सरगुजा, बलरामपुर-रामानुजगंज, बस्तर, नारायणपुर, कांकेर और दंतेवाड़ा जिले में 1-1 मेडिकल स्टोर का  शुभारंभ हुआ।

 

Jobs in Raipur: शिक्षित बेरोजगारों के लिए सुनहरा अवसर,100 पदों पर होगी भर्ती, 21अक्टूबर को प्लेसमेंट कैम्प

19-Oct-2021

रायपुर। प्रवर्तन कक्ष जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र रायपुर के तत्वाधान में 21 अक्टूबर को प्लेसमेंट कैम्प लगाया जाएगा। उप संचालक रोजगार ने बताया कि सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक पुराना पुलिस मुख्यालय परिसर जिला रोजगार कार्यालय रायपुर में प्लेसमेंट कैम्प लगेगा। इस प्लेसमेंट कैम्प के माध्यम से निजी क्षेत्र (First Accurate Home Care Raipur) की ओर से 100 पदों पर भर्तियां की जाएगी। इन पदों के लिए ऐसे आवेदक जिनकी वांछित योग्यता 10वीं या उससे अधिक हो वो इस प्लेसमेंट कैम्प की साक्षात्कार प्रक्रिया में सम्मिलित हो सकते हैं। उक्त पदों के लिए वेतन 7 से 10 हजार तक देय होगा। प्लेसमेंट कैम्प में सम्मिलित होने के लिए आवेदक अपने साथ समस्त शैक्षणिक/तकनीकी योग्यता के प्रमाण-पत्र के साथ निवास-जाति/रोजगार कार्यालय का पंजीयन प्रमाण-पत्र/ आधार कार्ड तथा बायोडाटा एवं दो पासपोर्ट साइज फोटो के साथ प्लेसमेंट के लिए निर्धारित तिथि और स्थान पर उपस्थित हो सकते हैं।

Kerala Rains Updates: केरल में नहीं थम रही आफत की 'बारिश' 22 की मौत,ओडिशा और बंगाल में भी अलर्ट

18-Oct-2021

देशभर के कई इलाकों में रविवार को हुई जोरदार बारिश ने अफरा-तफरी का माहौल पैदा कर दिया है। केरल में भारी बारिश(Heavy rain) ने तबाही मचा दी है। बाढ़ में कई मकान बह गए, जबकि 22 से अधिक लोगों की मौत हो गई। इनमें से 13 शव कोट्टायम और 9 इडुक्की जिले से मिले। हालांकि मीडिया रिपोर्ट यह संख्या 26 बता रही है। यहां 15 अक्टूबर से बारिश का दौर चल रहा है। 

भारतीय मौसम विभाग(IMD) ने बताया कि उत्तरी तेलंगाना के ऊपर निम्न दबाव का क्षेत्र बनने और बंगाल की खाड़ी से तेज दक्षिण-पूर्वी हवा चलने के कारण पश्चिम बंगाल और ओडिशा में 20 अक्टूबर तक भारी बारिश होने के आसार हैं, मौसम विभाग ने मछुआरों को मंगलवार तक समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है, मौसम विभाग ने बारिश के कारण नदियों में जलस्तर बढ़ने, निचले इलाकों में जलभराव होने और दार्जिलिंग, कलीमपोंग जिलों में भूस्खलन की चेतावनी दी है।
केरल में तीनों सेनाओं को रेस्क्यू में लगाया गया है। खासकर यहां के पांच जिलों में हालत अधिक खराब है। इनमें से भी कोट्टायम का बुरा हाल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह नजर बनाए हुए हैं। उन्होंने केरल के मुख्यमंत्री से हालात पर चर्चा भी की।

छत्तीसगढ़ः रायपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में धमाका, सीआरपीएफ के 6 जवान घायल

16-Oct-2021

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन में धमाका होने से सीआरपीएफ के 6 जवान घायल हो गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार यह धमाका सुबह साढ़े 6 के आस पास हुआ। रायपुर के रेलवे स्टेशन पर खड़ी ट्रेन में आज सुबह हुए विस्फोट में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स के छह जवान घायल हो गए हैं। रेलवे और सीआरपीएफ के अफसरों से मिली जानकारी अनुसार, एक स्पेशल ट्रेन सीआरपीएफ की 211 बटालियन के जवानों को लेकर जम्मू जा रही थी। सीआरपीएफ की 211वीं बटालियन के जवान स्पेशल ट्रेन से जम्मू जा रहे थे तभी ग्रेनेड (जो डमी कारतूस बॉक्स में रखा था) ट्रेन की बोगी में रखते ही फट गया। सीआरपीएफ के एक हवालदार की हालात गंभीर है जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मौके पर सीआरपीएफ के आला अधिकारी पहुंच गए हैं।

ये ब्लास्ट सुबह करीब साढ़े 6 बजे प्लेटफॉर्म नंबर-2 पर हुआ है। इस हादसे में हुए 6 घायलों में एक जवान की हालत गंभीर बताई गई थी। खबर मिलते ही पुलिस प्रशासन ने घायल जवानों का रेस्क्यू किया गया। घटना के बाद रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वहीं इस दौरान किसी आम नागरिक या दूसरे शख्स को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। अधिकारियों के मुताबिक इस मामले की जांच जारी है। ब्लास्ट होने के बाद स्टेशन पर अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजने के बाद ट्रेन को सुबह करीब 7:15 बजे रवाना कर दिया गया। ब्लास्ट की चपेट में किसी आम नागरिक के आने की सूचना नहीं है। पुलिस और सुरक्षा बलों की टीमें राहत कार्य में जुट गई हैं।

 

 

 

 

Chennai Super Kings चौथी बार बना IPL चैंपियन, Kolkata Knight Riders नाइट राइडर्स को 27 रन से हराया

16-Oct-2021

Chennai Super Kings became IPL champions for the fourth time, defeating Kolkata Knight Riders by 27 runs

महेंद्र सिंह धोनी का चेन्नई सुपर किंग्स चौथी बार आईपीएल का चैंपियन बन गया है।  पिछली बार जो चेन्नई प्ले ऑफ में जगह नहीं बना पायी थी।  उसने कोलकाता नाइट राइडर्स का 27 रनों से हराकर आईपीएल 2021 के खिताब पर कब्जा कर लिया है।  टॉस जीतकर कोलकाता ने चेन्नई को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया था।  सलामी बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ और फाफ डु प्लेसिस ने टीम को शानदार शुरुआत दी।

डु प्लेसिस ने 59 गेंद पर धमाकेदार 86 रन की पारी खेली।  चेन्नई का पहला विकेट गायकवाड़ के रूप में गिरा।  गायकवाड़ नौवें ओवर की पहली गेंद पर आउट हुए उस समय चेन्नई का स्कोर 61 रन था।  उसके बाद रोबिन उथप्पा क्रीज पर आए और डु प्लेसिस का भरपूर साथ दिया।  उथप्पा ने ताबड़तोड़ शॉट लगाए और महज 15 गेंद में 31 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली।  उथाप्पा 14वें ओवर की तीसरी गेंद पर आउट हुए।  जिस समय उथप्पा आउट हुए उस समय टीम का स्कोर 124 रन था।  उसके बाद मोइन अली ने कई शानदार शॉट दिखाए।  उन्होंने भी टीम के लिए 37 रन बनाए।  पारी की आखिरी गेंद पर डु प्लेसिस आउट हुए, उस समय तक उन्होंने 86 रन बना लिए थे।  193 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता की शुरुआत भी शानदार रही।  शुभमन गिल और वेंकटेश अय्यर ने काफी तेज खेला।

दोनों ने 10 ओवर तक चेन्नई के गेंदबाजों को काफी परेशान किया।  गिल और अय्यर दोनों ने अर्धशतक जड़ा।  टीम का पहला विकेट 11वें ओवर की चौथी गेंद पर वेंकटेश अय्यर के रूप में गिरा।  अय्यर ने टीम के लिए 50 रन बनाए।  दूसरा विकेट भी 11वें ओवर की आखिरी गेंद पर गिर गया।  जब नितीश राणा बिना खाता खोले आउट हो गये।  उसके बाद विकेट गिरने का सिलसिला जारी रहा।  

कोई भी बल्लेबाज बड़ी सांझेदारी नहीं निभा पाया।  सुनील नरेन, दिनेश कार्तिक, शकिल अल हसन, कप्तान इयोन मोर्गन एक बाद एक आउट होते चले गये।  मोर्गन के आउट होने के साथ ही कोलकाता की उम्मीदों को झटका लगा।  अंत में शिवम मावी और फर्गुसन ने तेजी से रन बनाने की कोशिश की।  लेकिन तब तक मैच कोलकाता के हाथ से निकल चुकी थी और अंत में चेन्नई ने 27 रन से मैच जीत लिया।

इस साल छत्तीसगढ़ में दशहरा और दीपावली पर कितने दिन का छुट्टियों है अवकाश, स्कूल शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश,

12-Oct-2021

रायपुर।  छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश भर के सरकारी, प्राइवेट, अनुदान और गैर अनुदान प्राप्त स्कूलों सहित डी एड, बी एड, एम एड कॉलेजों में दशहरा, दिवाली समेत शीतकालीन और ग्रीष्मकालीन छुट्टियों की घोषणा कर दी है। शासन के स्कूल शिक्षा विभाग ने मंगलवार को इसका आदेश जारी कर दिया है। आदेश के मुताबिक, प्रदेश सरकार ने कुल 60 दिन की छुट्टियां देने का ऐलान किया है।

आदेश के अनुसार दशहरा में 13 से 16 अक्टूबर तक कुल 4 दिन, दिवाली में 2नवंबर से 6 नवंबर तक कुल 5 दिन छुट्टी होगी। ऐसे की शीतकालीन छुट्टी 24 से 28 दिसंबर तक 5 दिन की होगी और ग्रीष्मकालीन के दौरान 1 मई से 15 जून तक कुल 46 दिन छुट्टियां होगी।

 

छत्तीसगढ़ स्क्वैश एसोसिएशन ने मनाया विश्व स्क्वैश दिवस

10-Oct-2021

रायपुर। हर जीव जन्म से ही उछल-कूद शुरू कर देता है। हम कह सकते हैं कि खेलना हर जीव का शगल है। दुनिया पर नजर डालें तो हम पाते हैं कि आम इंसान जब काम पर नहीं होता तो उसके जेहन में खेलने की लालसा बलवती हो जाती है। खेल बिना जीवन के कोई मायने भी नहीं हैं। जीत-हार हमारे लिए किसी प्रेरणा-पुंज से कम नहीं होती। असफलता ही हमें सफलता की राह दिखाती है। 9 अक्टूबर को हम विश्व स्क्वैश दिवस मनाते हैं। विश्व में हर साल स्क्वैश को बढ़ावा देने के लिए 9 अक्टूबर को विश्व स्क्वैश दिवस के तौर पर मनाया जाता है। विश्व स्क्वैश दिवस के मौके पर छत्तीसगढ़ स्क्वैश एसोसिएशन सचिव डॉ. विष्णु कुमार श्रीवास्तव, रायपुर जिला स्क्वैश संघ के अध्यक्ष मनोज कुमार अग्रवाल ने दी शुभकामनाएं। इस अवसर पर सभी खिलाडियों को छत्तीसगढ़ स्टेट क्लोज्ड टूर्नामेंट 23 और 24 अक्टूबर को होने की जानकारी दी । 

SBI की YONO, UPI or INTERNET BANKING दो दिन तक इतने वक्त तक रहेंगी बंद

09-Oct-2021

एसबीआई की डिजिटल सेवा दो दिनों तक 120-120 मिनट तक बंद रहेंगी। क्योंकि शनिवार और रविवार को सिस्टम मेंटिनेंस का काम होगा। इन सेवाओं में इंटरनेट बैंकिंग, योनो, योनो लाइट, योनो बिजनेस और यूपीआई शामिल हैं। ये सेवाएं तीनों दिन दो-दो घंटे के लिए बंद रहेंगी।

 सभी एसबीआई ग्राहक ये जान लें कि मेंटिनेंस का काम 9 अक्टूबर को रात 12 बजकर 20 मिनट से 2 बजकर 20 मिनट तक होगा। जबकि 10 अक्टूबर को रात 11 बजकर 20 मिनट से 1 बजकर 20 मिनट तक काम होगा। इस दौरान मेंटिनेंस का काम होगा।

मेंटनेंस के चलते हो रहा व्यवधान

बैंक ने कहा कि यह रुकावट मेंटनेंस के कारण हो रही है। सभी बैंक ग्राहकों को मिलने वाली सर्विस बेहतर और सुरक्षित बनाने के लिए अपनी टेक्नोलॉजी को समय-समय पर अपग्रेड करते रहते हैं। यह नियमित मेंटनेंस बैंक और उसके ग्राहकों को साइबर रिस्क से भी बचाता है। एसबीआई इस मेंटनेंस में यूपीआई सर्विस को भी बेहतर बना रहा है, ताकि उसके ग्राहक आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकें।

पहले भी कई बार बंद हो चुकी हैं SBI की डिजिटल सर्विस

यह पहली बार नहीं है जब एसबीआई की कोई सर्विस कुछ समय के लिए बंद हो रही है। बैंक पहले भी मेंटनेंस के चलते ऐसा करते रहा है। एसबीआई लगभग हर महीने मेंटनेंस के चलते कुछ समय के लिए डिजिटल सेवाओं को बंद करता है। सितंबर महीने में मेंटनेंस के काारण एसबीआई की ये सेवाएं दो बार बंद हुई थीं। इससे पहले जुलाई और अगस्त में भी एसबीआई का योनो ऐप और अन्य डिजिटल सेवाएं बाधित हुई थीं।

शांति का नोबेल: अमेरिका-रूस के पत्रकारों को मिला सम्मान

08-Oct-2021

नोबेल कमेटी ने इस बार सम्मान के लिए दो पत्रकारों को चुना। इनमें एक पत्रकार रैप्लर मीडिया ग्रुप की संस्थापक अमेरिकी पत्रकार मारिया रेसा हैं और दूसरे रूस के पत्रकार दिमित्री मुरातोव हैं। नोबेल कमेटी ने कहा है कि इन दोनों को अभिव्यक्ति की आजादी की रक्षा के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है, क्योंकि बोलने की आजादी ही लोकतंत्र और स्थायी शांति की पहली शर्त है। नोबेल कमेटी ने कहा कि आजाद, स्वायत्त और तथ्य आधारित पत्रकारिता सत्ता की ताकत, झूठ और युद्ध के प्रोपेगंडा से रक्षा करने में अहम है। अभिव्यक्ति की आजादी और प्रेस की स्वतंत्रता के बिना देशों के बीच सौहार्द और विश्व व्यवस्था को सफल बनाना काफी मुश्किल हो जाएगा।  

कौन हैं मारिया रेसा और दिमित्री मुराटोव

मारिया रेसा न्यूज साइट रैप्लर (Rappler) की को-फाउंडर हैं। फिलिपींस में सत्तावादी ताकतों के बढ़ते अत्याचार, हिंसा के खिलाफ उन्होंने आवाज उठाई थी। वहीं दिमित्री मुराटोव ने स्वतंत्र समाचार पत्र नोवाजा गजेता (Novaja Gazeta) निकाला था। उन्होंने रूस में फ्रीडम ऑफ स्पीच की रक्षा के लिए दशकों तक काम किया है।

Shardiya Navratri 2021: नवरात्रि कल से, कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त रहेगा बस एक घंटे, जानें पूजन की सामग्री लिस्ट

06-Oct-2021

Shardiya Navratri 2021: नवरात्रि में देवी पूजन और नौ दिन के व्रत का बहुत महत्व है। इन नौ दिनों में भक्तों को कई तरह के नियमों के पालन करने होते हैं। शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) की शुरुआत पहले दिन मां शैलपुत्री के पूजन के साथ होती है। इससे पूर्व विधि विधान के साथ कलश स्थापना की जाएगी। नवरात्रि में कलश स्थापना का विशेष महत्व होता है। ज्योतिषाचार्य डॉ। अरविंद मिश्र ने बताया कि कलश स्थापना के लिए शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजकर 17 मिनट से 7 बजकर 7 मिनट तक है। इस शुभ मुहूर्त में ही कलश स्थापित करना फलदायी रहेगा। व्रती को इस शुभ मुहूर्त में ही कलश स्थापित कर लेना चाहिए।

नवरात्रि में माता रानी की पूजा में लगने वाली पूजन सामग्री

शारदीय नवरात्रि में माता रानी की पूजा के लिए- मां दुर्गा की प्रतिमा या फोटो, दुर्गा चालीसा व आरती की किताब, दीपक, घी/ तेल, फूल, फूलों का हार, पान, सुपारी, लाल झंडा, इलायची, बताशे या मिसरी, असली कपूर, उपले, फल व मिठाई, कलावा, मेवे, हवन के लिए आम की लकड़ी, जौ, वस्त्र, दर्पण, कंघी, कंगन-चूड़ी, सिंदूर, केसर, कपूर, हल्दी की गांठ और पिसी हुई हल्दी, पटरा, सुगंधित तेल, चौकी, आम के पत्ते, नारियल, दूर्वा, आसन, पांच मेवा, कमल गट्टा, लोबान, गुग्गुल, लौंग, हवन कुंड, चौकी, रोली, मौली, पुष्पहार, बेलपत्र,  दीपबत्ती, नैवेद्य, शहद, शक्कर, पंचमेवा, जायफल, लाल रंग की गोटेदार रेशमी चुनरी, लाल चूड़ियां, माचिस, कलश, साफ चावल, कुमकुम,मौली, श्रृंगार का सामान आदि की जरूरत होती है।

लखनऊ Airport पर रोके जाने से धरने पर बैठे छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल

05-Oct-2021

किसानो से हुए समझौते के बाद हिंसा प्रभावित लखीमपुर में हालात तेजी से सामान्य हो रहे हैं। लखीमपुर खीरी में प्रभावित किसान परिवारों से मिलने जाने के लिये अड़ी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और आम आदमी पार्टी सांसद संजय को पुलिस निगरानी में सीतापुर में रखा है। इस बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंगलवार को लखनऊ पहुंचे जहां उन्हें रोक लिया गया। जिससे वह धरने पर बैठ गए।
प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के ठीक बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे। यहां सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक दिया। बघेल ने बताया कि उन्हें लखीमपुर नहीं जाना है, उनका लखनऊ में ही कार्यक्रम है। इसके बाद भी अधिकारियों ने उन्हें एयरपोर्ट से बाहर जाने नहीं दिया। इसके बाद भूपेश बघेल लखनऊ एयरपोर्ट के अंदर ही जमीन पर बैठकर धरना देने लगे। वहीं कांग्रेस के पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी और पीएल पुनिया को एयरपोर्ट परिसर से बाहर कर दिया गया है। दोनों पूर्व सांसद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए लखनऊ एयरपोर्ट पर पहुंचे थे। एयरपोर्ट परिसर में बाहर ही दोनों नेता मौजूद हैं। उन्हें एयरपोर्ट पर प्रवेश की इजाजत नहीं दी जा रही है। 
उधर लखीमपुर खीरी में प्रियंका गांधी को लेकर चल रहे कांग्रेसियों के आंदोलन को देखते हुए पुलिस ने जिले की सीमाओं पर तो नाकेबंदी कर ही रखी है, अब शहर को भी चारों तरफ से बैरिकेडिंग कर दिया गया है। शहर के नवीन चौक, वैदेही वाटिका, नैपालापुर, काशीराम कॉलोनी, श्याम नाथ सहित बाहरी क्षेत्रों के अलावा शहर के अंदर भी जगह-जगह बैरियर लगाए गए हैं, ताकि धरनास्थल पर कम से कम भीड़ जुट सके और कानून व्यवस्था दुरुस्त रहे। सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह ने बताया कि एहतियात के तौर पर शहर में बैरियर लगाए गए हैं। सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए भारी पुलिस बल भी लगा दिया गया है।

 

साउथ एक्ट्रेस सामंथा और नागा चैतन्य ने किया तलाक लेने का फैसला

03-Oct-2021

साउथ की सुपरस्टार एक्टर्स  सामंथा अक्किनेनी और नागा चैतन्य ने अलग होने का फैसला कर लिया है। दोनों सुपरस्टार्स ने खुद इसकी जानकारी सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पर अपने फॉलोअर्स के साथ शेयर किया है। दोनों ने एक नोट शेयर किया है जिसमें तलाक की घोषणा की गई है। पोस्ट पर लिखा है कि, हमारे सभी शुभचिंतकों, बहुत विचार-विमर्श और विचार के बाद चाई और मैंने अपने रास्ते पर चलने के लिए पति-पत्नी के रूप में अलग होने का फैसला किया है। हम भाग्यशाली हैं कि एक दशक से अधिक की दोस्ती हमारे रिश्ते का मूल हिस्सा थी और हमें विश्वास है कि हमारे बीच हमेशा एक विशेष बंधन रहेगा। हम अपने प्रशंसकों, शुभचिंतकों और मीडिया से अनुरोध करते हैं कि इस कठिन समय में हमारा समर्थन करें और हमें प्राइवेसी दें। आपके समर्थन के लिए धन्यवाद”।

तेलुगू सिनेमा की इस फेमस जोड़ी को लोगों ने बहुत पसंद किया है। दोनों कई फिल्मों में साथ काम कर चुके हैं जिसमें सबसे खास थी साल 2010 की रिलीज हुई फिल्म "ये माया चेसावे"। साल 2019 में दोनों मजिली फिल्म में साथ नजर आए थे। हाल ही में सामंथा ने मनोज बाजपेयी की वेब सीरीज द फैमिली मैन 2 में गजब की परफॉर्मेंस से सभी को इंप्रेस किया था। उत्तर भारत में भी उनके काफी फैंस हैं। हाल ही में ये भी खबरें सामने आई थीं कि सामंथा और नागा चैतन्य बच्चे की प्लानिंग कर रहे हैं। दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा था कि ‘सामंथा और नागा चैतन्य (Samantha And Naga Chaitanya) अपने परिवार को बढ़ाने के बारे में सोच रहे हैं। इसके लिए एक्ट्रेस ने नए प्रोजेक्ट्स साइन करना बंद कर दिया है।’ इसके साथ ही उन्होंने लाइव आकर मुंबई शिफ्ट होने की खबरों पर भी विराम लगा दिया है। उन्होंने कहा कि ‘वो हैदराबाद में ही रहेंगी और यही उनका घर है।’ मगर अब दोनों की ओर से खुलकर तलाक की घोषणा करने से इन सारी अफवाहों पर विराम लग गया है।

 

Bharat Bandh Today: फिर से भारत बंद क्‍यों? किसानों को मनाने में कहां चूक रही सरकार, 10 पॉइंट्स में समझें

27-Sep-2021

नई दिल्ली (इंडिया)। आज किसानों का भारत बंद है। तीन कृषि कानूनों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा ने भारत बंद का आह्वान किया है। बंद को कई राजनीतिक दलों का भी समर्थन हासिल है। बंद सुबह छह बजे से ही शुरू हो चुका है और कई शहरों में इसका असर भी दिखने लगा है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी अब भारत बंद के समर्थन में उतर आये हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट कर किसानों को अपना समर्थन दिया। राहुल ने किसानों के आंदोलन को अहिंसक सत्याग्रह बताते हुए कहा कि सरकार को किसानों का सत्याग्रह भी पसंद नहीं है। देखें पूरी खबर।

किसान संगठन लंबे समय से आज के भारत बंद की तैयारी कर रहे थे। आज सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक पूरे देश में भारत बंद रहेगा।

संयुक्‍त किसान मोर्चा के नेतृत्‍व में आंदोलनकारी किसानों ने कई योजनाएं बनाई हैं कि आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर, देश भर में बाकी काम बंद रहें। SKM ने बंद के दौरान विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर पूर्ण शांति का आह्वान किया है।

किसान नेताओं का दावा है कि पूरे भारत से लोगों का भारी समर्थन मिला है, भारत बंद सफल रहेगा। इसके साथ ही लोगों से अपील की है कि शांति बनाए रखे, कानून के दायरे में रहकर बंद को सफल बनाएं।

किसानों के मुताबिक, भारत बंद के दौरान सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक सभी जरूरी सेवाएं पूर्ण रूप से चालू रहेंगी। एसकेएम के अनुसार, भारत बंद में श्रमिक संघों, ट्रेड यूनियनों, कर्मचारियों और छात्र संघों, महिला संगठनों और ट्रांसपोर्टरों के संघों को शामिल किया गया है।

आज दिल्ली की सीमाओं से सफर करने वाले लोगों को आवाजाही करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी और अन्य शिक्षण संस्थानों के संचालन पर भी असर पड़ेगा। वहीं कुछ बैंकों की सेवाओं पर भी असर पड़ने की आशंकाएं हैं।

किसान पहले ही इस बात को साफ कर चुकें है कि किसी भी तरह का सरकारी या गैर सरकारी सार्वजनिक कार्यक्रम भी नहीं होने दिए जाएंगे। एसकेएम के बयान के मुताबिक, भारत बंद पूरी तरह से शांतिपूर्ण रहेगा। भारत बंद के दौरान केंद्र और राज्य सरकार के कार्यालयों, बाजारों, दुकानों, कारखानों, स्कूल कालेजों एवं अन्य शैक्षणिक संस्थानों को काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

सार्वजनिक और निजी परिवहन को भी अनुमति नहीं होगी। हालांकि इस भारत बंद में आपात सेवाएं जैसे एंबुलेंस, दमकल सेवा दवाओं की दुकान व अस्पताल सहित मेडिकल से जुड़ी सेवाओं को संचालन की इजाजत होगी। साथ ही परीक्षा या इंटरव्यू में जाने वाले छात्रों को नहीं रोका जाएगा। कोरोना से जुड़ी और इमरजेंसी सेवाओं को भी बाधित नहीं किया जाएगा। (PTI)

 

भारत बंद का असर दिल्ली खासकर गाजीपुर बॉर्डर से सटे इलाकों में एनएच-9 और एनएच-24 पर हो सकता है।

अक्षरधाम, नोएडा लिंक रोड, डीएनडी, गाजीपुर रोड, जीटी रोड, वजीराबाद रोड, एनएच-1 और दिल्ली-गुड़गांव एक्सप्रेस वे पर ट्रैफिक जाम मिल सकता है।

मेट्रो के मूवमेंट को डिस्टर्ब होने से रोकने के लिए सीआईएसएफ, मेट्रो पुलिस और डीएमआरसी के स्टाफ को भी हाई अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है।

किसान दिल्ली-आगरा नैशनल हाइवे, केएमपी और केजीपी एक्सप्रेसवे भी बंद कर सकते हैं।

दिल्ली-आगरा नैशनल हाइवे के अटोहां मोड़ पर बड़ी संख्या में किसान शामिल होंगे।

एडीजी मेरठ जोन और आईजी मेरठ और सहारनपुर, मुरादाबाद, अलीगढ़ ने बंद के मद्देनजर शांति बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।

सभी जिलों को सुरक्षा के मद्देनजर जोन और सेक्टर में बांटकर अफसरों की तैनाती की गई है।

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी, तेलगू देशम पार्टी, बहुजन समाज पार्टी सहित कई राजनीतिक दलों ने समर्थन दिया है।

किसान नेताओं ने कहा कि आंध्र प्रदेश सरकार ने किसानों के आंदोलन को फिर से समर्थन दिया। केरल में सत्तारूढ़ एलडीएफ ने पहले ही समर्थन में बयान जारी किया था।

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व वाली आंध्र प्रदेश सरकार ने एसकेएम के बंद के आह्वान पर अपना समर्थन व्यक्त किया और घोषणा की राज्य सड़क परिवहन की बसों को 26 तारीख की रात से 27 तारीख की दोपहर तक सड़कों से दूर रखा जाएगा।

आंध्र प्रदेश सरकार ने पहले भी किसान आंदोलन को ऐसा समर्थन दिया था। केरल में सत्ताधारी एलडीएफ ने भी 27 तारीख को हड़ताल का समर्थन किया है।

पंजाब के नए मुख्यमंत्री ने अपना समर्थन दिया, और झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और राजद संयुक्त रूप से भारत बंद की सफलता की योजना बना रहे हैं।

Covid-19 से मृत लोगो के परिजनों को 50 हजार रूपए की मिलेगी अनुदान सहायता

25-Sep-2021

रायपुर।  राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा कोविड-19 से मृत प्रति व्यक्ति के लिए निर्धारित 50 हजार रूपए की अनुदान सहायता राशि छत्तीसगढ़ में राज्य आपदा मोचन निधि के अंतर्गत प्रदान की जाएगी। राज्य की राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग की सचिव तथा राहत आयुक्त सुश्री रीता शांडिल्य ने प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को पत्र प्रेषित कर कोविड-19 के कारण जिलों में मृत व्यक्तियों के परिजनों, आश्रितों को अनुदान सहायता प्रदान करने उच्चतम न्यायालय के गत 30 जून के निर्णय अनुसार राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देशों के अनुसार शीघ्र आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं।

पिछले डेढ़ वर्षों से वायरस के नए वेरिएंट के प्रभाव से मृतकों की संख्या में वृद्घि जारी है। यह महत्वपूर्ण है कि राज्य में विशिष्ट आपदाओं के लिए समय पर और प्रभावी प्रतिक्रिया के लिए राज्य आपदा मोचन निधि के तहत पर्याप्त निधि उपलब्ध हो। यद्यपि कोरोना से मृत व्यक्ति यों के परिजनों को अनुदान सहायता राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 में निहित प्रावधान के अनुसार नहीं दी जाएगी। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा कोरोना से मृत प्रति व्यक्ति के लिए 50 पचास हजार रूपए निर्धारित किए गए हैं जो अनुदान सहायता राशि राज्य आपदा मोचन निधि के अंतर्गत दी जाएगी। कोरोना से 22 सितंबर तक जिले में 1060 व्यक्तियों की मृत्यु दर्ज की गई है।

संबंधित परिवार द्वारा निर्धारित आवेदन पत्र के माध्यम से अपने दावे प्रस्तुत करेंगे। आवेदक के पास सीडीएसी द्वारा जारी कोविड-19 से मृत्यु के संबंधित आधिकारिक प्रमाण-पत्र होना अनिवार्य है। जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण तथा जिला प्रशासन की जिम्मेदारी है कि वे मृत व्यक्तियों के निकटतम संबंधी, आवेदक को अनुदान राशि आधार लिंक प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) की प्रक्रिया के माध्यम से भुगतान करें। अनुदान सहायता प्रदान करने की प्रक्रिया सरल तथा आवश्यक दस्तावेज जमा करने के 30 दिनों के भीतर पूरी की जानी चाहिए।

कलेक्टरों से कहा गया है कि अपने जिले में इसका प्रचार-प्रसार के माध्यम से नागरिकों को इस सहायता के बारे में जागरूक करें तथा दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए आवश्यक कार्रवाई की जाए। यह उपयुक्त होगा कि प्रत्येक तहसील कार्यालय तथा जिला कार्यालय में कार्यालयीन समय, सहित नगर निगम क्षेत्र के जोन मुख्यालय में भी आवेदन प्राप्त करने के लिए समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। प्राप्त सभी आवेदनों को कलेक्टर स्वयं की निगरानी में जांच एवं सत्यापन करना सुनिश्चित करेंगे। कलेक्टरों को निर्देश दिए गए कि कोविड-19 से मृत व्यक्तियों से प्राप्त आवेदन पत्र के आधार पर मृत व्यक्तियों के स्वजनों को अनुदान सहायता उपलब्ध कराने की कार्रवाई करें तथा आबंटन के लिए मांग पत्र राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग को शीघ्र भेजना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं।

Chhattisgarh : रायगढ़ में कांग्रेस नेता और उनकी पत्नी की हत्या, इलाके में फैली सनसनी

23-Sep-2021

रायगढ़। लैलूंगा में आरोपियों ने कांग्रेस के एल्डरमैन और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मदन मित्तल के साथ उनकी पत्नी अंजू देवी की गला घोंटकर हत्या कर दी है । सूचना मिलने पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गए हैं । माना जा रहा है कि चोरी की फिराक में घर में घुसे चोरों ने पहचान न हो इस वजह से घर के नीचे फ्लोर में सो रहे मदन मित्तल व उसकी पत्नी अंजू देवी की गला घोंटकर हत्या कर दी । घटना को बीती रात लगभग 12 से 1 बजे के बीच अंजाम दिया गया है ।

घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के साथ पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं । इसके साथ ही जांच के लिए रायगढ़ से डॉग स्कॉड के साथ एफएसएल की टीम रवाना हो गई है घटना से पूरे लैलूंगा में शोक की लहर फैल गई है । घटना की जानकारी मिलने पर लैलूंगा विधायक चक्रधर सिदार भी मौके पर पहुंच गए हैं । इसके साथ ही अग्रवाल समाज ने घटना को देखते हुए श्री अग्रसेन जयंती के सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं ।

Quad summit: PM मोदी अमेरिका रवाना, जानें क्या है समिट, क्यों है ये हमारे लिए अहम

22-Sep-2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बुधवार को अमेरिका दौरे के लिए रवाना (PM Narendra Modi US Visit) हो गए।  तीन दिन के इस कार्यक्रम में पीएम मोदी कई अहम कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे।  इसमें जो बाइडेन संग द्विपक्षीय बातचीत, क्वाड सम्मेलन में हिस्सा लेना और UNGA में उनका संबोधन शामिल है।

यहां 24 सितंबर को क्वाड समिट (Quad Summit ) है, जहां क्वाड देशों के नेता यानी पीएम मोदी, ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मोरिसन, जापानी पीएम योशिहिदे सुगा और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन पहली बार आमने-सामने होंगे।  इससे पहले क्वाड समिट वर्चुअली ही जाती रही है।  आइए जानते हैं क्वाड क्या है? ये क्या काम करता है और हिंद-प्रशांत महासागर के परिपेक्ष्य में इसकी जरूरत क्यों अहम हैं? इसके अलावा इसे चीन की बढ़ती ताकत के मुकाबले में नया विकल्प क्यों देखा जा रहा है?

प्रधानमंत्री उसी दिन ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापानी समकक्ष योशीहिदे सुगा से भी मुलाकात करेंगे।  इस मुलाकात के दौरान पीएम मोदी एक खुले, मुक्त, समृद्ध और नियम-आधारित हिंद-प्रशांत क्षेत्र के साझा उद्देश्य को आगे बढ़ाएंगे क्योंकि भारत विभिन्न पहलों के माध्यम से अपनी भागीदारी बढ़ा रहा है।  विदेश मंत्रालय की जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री 24 सितंबर को वॉशिंगटन में क्वाड समूह के नेताओं के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।  इस मुलाकात के बाद ही व्हाइट हाउस में QUAD नेताओं की बैठक होगी, जिसमें अफगानिस्तान, इंडो-पैसिफिक, कोविड -19 महामारी और जलवाायु संकट जैसे संवेदनशील मामलों पर बात की जाएगी।  प्रधानमंत्री 24 सितंबर की शाम वाशिंगटन से न्यूयॉर्क जाएंगे जहां 25 सितंबर को वह UN महासभा को संबोधित करेंगे।

– क्वाड आधिकारिक तौर पर क्वाड्रिलेटरल सिक्युरिटी डायलॉग्स (QSD) है।  भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया इसके मेंबर हैं।  इसका मकसद इन देशों के समुद्री सीमाओं के हितों का ध्यान रखना, जलवायु परिवर्तन, कोविड-19 महामारी से लड़ना है।  दक्षिण चीन सागर में चीन की बढ़ती ताकत से मुकाबला करना भी इसका अहम उद्देश्य है।

– क्वाड की शुरुआत 2004 में हिंद महासागर में आई सूनामी से मानी जा सकती है।  तब भारत, जापान, ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका ने मिलकर राहत और बचाव कार्य किए थे और रीजन में बड़े पैमाने पर राहत-सामग्री भेजी थीं।  लेकिन इस ऑपरेशन के बाद ये ग्रुप खत्म कर दिया गया।  लेकिन 2006 में तत्कालीन जापान के तत्कालीन प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने इस ग्रुप को दोबारा से शुरू करने का प्रस्ताव रखा।  उन्होंने कहा कि इस ग्रुप में समान सोच वाले देश जुड़ें और हिंद-प्रशांत महासागर की सुरक्षा में सहयोग दें।

– 2007 में शिंजो आबे ने पीएम पद से इस्तीफा दे दिया।  वहीं, ऑस्ट्रेलिया में केविड रड पीएम बन गए, जो क्वाड के आलोचक माने जाते थे।  उन्होंने चीन के दबाव में क्वाड से अपने हाथ पीछे खींच लिए।  2008 तक ग्रुप खत्म हो गया।

– 2017 में जापान ने फिर से क्वाड के शुरू करने का प्रस्ताव रखा।  मनीला में पहली वर्किंग लेवल मीटिंग रखी गई।  2020 में भारत-यूएस-जापान मालाबार नेवल एक्सरसाइज में ऑस्ट्रेलिया भी जुड़ गया।

– 24 सितंबर को पहली क्वाड नेता आमने-सामने होंगे।

– क्वाड एक औपचारिक गठबंधन के बजाय सॉफ्ट ग्रुप है।  इसके पास फैसला लेने का अधिकार नहीं है।  जैसे फैसले नाटो देश या यूएन में लिए जाते हैं।  ये ग्रुप समिट, मीटिंग, जानकारी साझा करने और सैन्य अभ्यास के जरिए काम करता है।  इस गठबंधन का कोई जटिल ढांचा नहीं है।  कोई भी देश इस ग्रुप को कभी भी छोड़ सकता है।


Previous123456789...1819Next