Saturday,28 May 2022   05:56 am
Previous123456789...5253Next

Chhattisgarh: अब स्कूल शिक्षा विभाग ने छुड़ाएगी बच्चों के मोबाइल की लत

27-May-2022

Raipur: आजकल बच्चों के हाथ में स्कूल की किताबें कम मोबाइल अधिक नज़र आता है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि बच्‍चे के हाथ में, जो स्‍मार्टफोन आपने थमाया है वो बच्चे कितना खतरनाक है? एक्सपर्ट  कहतीं हैं कि मोबाइल यूज करने से बच्चों में डिप्रेशन, अनिद्रा व चिड़चिड़ापन जैसी मानिसक समस्याएं बढ़ रही हैं। सिर्फ इतना ही सिर दर्द, भूख न लगना, आंखों की रोशनी कम होना, आंखों में दर्द, आदि जैसी बीमारियां भी बच्चों में देखने को मिल रहीं हैं।

अब इस राज्य में मस्जिद के नीचे मिला मंदिर का ढांचा, स्थानीय प्रशासन ने लागू की धारा 144

अगर माता पिता ने अभी से बच्चों पर ध्यान नहीं दिया तो वो दिन दूर नहीं, जब बच्चा कम उम्र में बड़ी बीमारियों से ग्रस्त हो जाएगा। ऐसे में नए सत्र से स्कूल शिक्षा विभाग बच्चों को अनुशासित करने और उनकी मोबाइल की लत छुड़ाने के लिए पठन-पाठन के माड्यूल में बड़ा बदलाव करने की तैयारी में है। छत्तीसगढ़ में दो हजार शिक्षकों ने बच्चों के अभिभावकों से फीडबैक में पाया है कि यहां लगभग 50% बच्चों में मोबाइल की लत हावी हो गई है। बच्चे घर में भी किसी का कहना-सुनना नहीं मान रहे हैं। उनमें अनुशासन की कमी दिख रही है।

शिक्षक-अभिभावक इन बच्चों को कैसे संयमित करें, इसे लेकर राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (SCERT) ने काम करना शुरू कर दिया है। एससीईआरटी के अतिरिक्ति संचालक Dr. Yogesh Shivhare ने बताया कि बच्चों को अनुशासित करने और उन्हें मोबाइल की लत से बाहर निकालने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग नए सिरे से शिक्षण माड्यूल बना रहा है।

Chhattisgarh की इस योजना में बेटियों को शादी के लिए मिलेंगे 25 हजार रुपए, जानिए कैसे करें आवेदन

अच्‍छी खबर : सीमेंट, सरिया की कीमतें गिरी, 10 हजार रुपये की आई गिरावट, जानें-और कितना कम हो सकता है दाम

27-May-2022

भवन निर्माण सामग्री की मांग में आई सुस्ती के चलते इन दिनों सरिया और सीमेंट की कीमतों में गिरावट आ गई है। यदि माह भर पहले की तुलना की जाए तो सरिया आठ हजार रुपये प्रति टन सस्ता हुआ है और सीमेंट के दाम 20 दिनों में ही 60 रुपये तक गिरा है।

कारोबारियों का कहना है कि बाजार का हाल ऐसा ही रहा तो आने वाले दिनों में इनकी कीमतों में और गिरावट आ सकती है। उपभोक्ताओं को भी इनकी कीमतों में गिरावट का इंतजार है।

इस वर्ष गर्मियों के सीजन में सरिया और सीमेंट के भाव सातवें आसमान पर पहुंच चुकी थी। प्रति टन सरिया 75 से 80 हजार रुपए में बिक्री हो रही थी। इसके अलावा सीमेंट 350 रुपए प्रति बोरे में बिक्री हो रही थी। जो की अब तक सर्वाधिक भाव है। जिसके चलते बिल्डरों और निजी का मकान बना रहे लोगों ने बढ़ते दाम के कारण मकान बनाना बीच में ही छोड़ दिया। जिससे पिछले एक महीने से सीमेंट और सरिया का डिमांड घट गया है। यही वजह है सीमेंट और सरिया कंपनी वालों ने दाम घटा दिया है।

छत्तीसगढ़ मिनी स्टील प्लांट एसोसिएशन के महामंत्री मनीष धुप्पड़ ने कहा, बाजार में जब तक डिमांड शुरू नहीं होगी, बाजार ऐसा ही रहेगा। रा मटेरियल की कीमत में तो अभी ज्यादा गिरावट नहीं है,लेकिन उनके फिनिश उत्पादों के दाम काफी गिरते जा रहे है। इसकी वजह से उद्योगों का उत्पादन भी प्रभावित हुआ है।

3 माह में सीमेंट में उतार-चढ़ाव

  • 20 मार्च 290-300 रुपये प्रति बोरी
  • 20 अप्रैल 300-310 रुपये प्रति बोरी
  • 01 मई 340 रुपये प्रति बोरी
  • 20 मई 280 रुपये प्रति बोरी
  • सरिया की कीमत में 11 और सीमेंट में 18 फीसद गिरावट आई है।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के पहले फीफा एप्रूव्ह सिंथेटिक फ़ुटबाल ग्राउंड विथ रनिंग ट्रैक का उद्गघाटन कर खिलाड़ियों को सौगात दी

26-May-2022

आज संभागीय मुख्यालय जगदलपुर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इंदिरा प्रियदर्शिनी स्टेडियम का शुभारंभ किया है। प्रदेश के पहले फीफा अप्रूव सिंथेटिक फुटबॉल ग्राउंड विथ रनिंग ट्रैक का उद्घाटन कर खिलाड़ियों को बड़ी सौगात दी है। मुख्यमंत्री (CM BHUPESH BAGHEL) ने यहां धावकों के साथ दौड़ भी लगाई। साथ ही खिलाड़ियों के साथ बास्केटबॉल और फुटबॉल भी खेला है। खिलाड़ियों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दीं।

मुख्यमंत्री (CM BHUPESH BAGHEL)  ने प्रियदर्शिनी स्टेडियम में 56 करोड़ 42 लाख रुपए के 27 विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया गया है। इनमें 44 करोड़ 54 लाख रुपए के 17 कार्यों का लोकार्पण और 11 करोड़ 88 लाख से अधिक राशि के 8 विकास कार्यों का भूमि पूजन शामिल हैं। इसके अलावा बस्तर में ग्रास रूट लेबल पर सामुदायिक फुटबॉल को और अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए ओडिशा भुवनेश्वर की आर्डोर फुटबॉल अकादमी, बस्तर जिला फुटबॉल संघ और बस्तर जिला प्रशासन के बीच MOU किया गया है। इससे बस्तर के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक उपलब्ध हो सकेंगे।

अब इस राज्य में मस्जिद के नीचे मिला मंदिर का ढांचा, स्थानीय प्रशासन ने लागू की धारा 144

Chhattisgarh की इस योजना में बेटियों को शादी के लिए मिलेंगे 25 हजार रुपए, जानिए कैसे करें आवेदन

Chhattisgarh की इस योजना में बेटियों को शादी के लिए मिलेंगे 25 हजार रुपए, जानिए कैसे करें आवेदन

26-May-2022

जानिए योजना की पात्रता :

  • योजना का लाभ लेनी वाली कन्या छत्तीसगढ़ की स्थाई निवासी होनी चाहिए।
  • कन्या की उम्र 18 या उससे ज्यादा हो।
  • इस योजना का लाभ लेने वाली कन्या आर्थिक रूप से कमजोर परिवार से होनी चाहिए।

जना के लिए जरूरी दस्तावेज :

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • विवाह प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

ये है इस के लाभ और विशेषताएं :

इस योजना के तहत सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर परिवार की बेटियों को शादी के दौरान 25000 रुपए की आर्थिक मदद करेगी।

इस योजना का संचालन छत्तीसगढ़ के महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया जाता है।

इस योजना का लाभ वो ही बेटियां उठा सकती है जिनकी उम्र 18 साल या फिर उससे ज्यादा की हो।

इसके अलावा एक परिवार से सिर्फ दो बेटियां इस योजना का लाभ ले सकती हैं।

योजना की खासियत ये है कि इसमें विधवा, अनाथ एवं निरीक्षक कन्याएं को भी लाभ मिलेगा।

इसके अलावा इस योजना के माध्यम से सामूहिक विवाह को प्रोत्साहन मिलेगा एवं दहेज के लेनदेन पर भी रोकथाम लगेगी।

ऐसे करें योजना के लिए आवेदन :

  • इसके आवेदन के लिए सबसे पहले आपको आंगनवाड़ी कार्यकर्ता/ पर्यवक्षेक/ बाल विकास परियोजना अधिकारी/ जिला कार्यक्रम अधिकारी/जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी के पास जाना होगा।
  • फिर वहां से आप छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना का आवेदन पत्र ले लें।
  • फिर आपको इस फार्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी को सावधानीपूर्वक भरना होगा।
  • फिर आप इस फार्म के साथ सभी जरूरी दस्तावेजों को अटैच कर दें।
  • इसके बाद आप ये आवेदन पत्र संबंधित कार्यालय में जमा करवा दें।

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का नया फॉर्मूला, इन नेताओं को छोड़ना पड़ेगा पद

26-May-2022

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि एक और 2 जून को प्रदेश स्तरीय कार्यशाला का आयोजन होगा। इस कार्यशाला में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, सभी विधायक, सांसद और मोर्चा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शामिल होंगे। बैठक में उदयपुर चिंतन शिविर के निर्णयों को छत्तीसगढ़ में क्रियान्वित करने पर चर्चा होगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि हम उन निर्णयों को अमल करेंगे। सभी जिलों में भी इसके बाद कार्यशाला होगी।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी सचिव सप्तगिरि शंकर उल्का ने कहा कि उदयपुर में जो भी डिसीजन लिया है। उसे यहां कैसे लागू करें इसे लेकर 1 और 2 जून को कार्यशाला में निर्णय लेंगे। 2023 की तैयारी हमने शुरू कर दिया है। हमारी कुछ कमजोरी भी है जिसे हम कैसे ठीक कर सके ये भी देखना है। युवाओं को ज्यादा से ज्यादा जोड़ना है। इसलिए जरूरी चेंजेस पर विचार किया जा रहा है।

लंबे समय से जमें लोगों को छोड़ना होगा पद : सप्तगिरि शंकर उल्का ने कहा कि 50-50 फॉर्मूला जरूरी भी है। संगठन में ब्लॉक, जिला अध्यक्ष जैसे पदों पर ये लागू करने की फिलहाल कवायद है। 5 साल से ज्यादा कोई एक पद पर है तो उसे भी पद छोड़ना होगा। 13 और 14 जून को जिलों में कार्यशाला होगी। 75 किलोमीटर हर जिले में पदयात्रा कांग्रेस नेता करेंगे। ये आजादी गौरव यात्रा होगी। एक व्यक्ति एक पद सहित चिंतन शिविर के तमाम फैसलों को लेकर चर्चा होगी।

Indian Railway इंडियन रेलवे के लिए आफत बना ‘रसगुल्ला! ट्रेनें हुईं रद्द, यात्री हुए परेशान

इंडियन रेलवे के लिए आफत बना ‘रसगुल्ला! ट्रेनें हुईं रद्द, यात्री हुए परेशान

Good News: खाने के तेल जल्द होंगे सस्ते, सरकार ने दो साल के लिए शुल्क-मुक्त आयात की अनुमति दी

Chhattisgarh Weather Report: मौसम का मिजाज:मानसून 16 साल में 13 बार लेट, अब कम झड़ी नौतपा आज से, लेकिन कम पड़ सकती है गर्मी

25-May-2022

Chhattisgarh Weather Update: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में पश्चिमी विक्षोभ का असर दिखने लगा है. छत्तीसगढ़ में मानसून आने की तारीख 10 जून है, लेकिन पिछले 16 साल में यह 13 बार लेट रहा है। पिछले साल 11 जून को यानी केवल एक दिन की देरी से मानसून ने दस्तक दी थी। विशेषज्ञों के अनुसार लगातार लेट मानसून के अलावा बड़ा बदलाव यह भी दिख रहा है कि छत्तीसगढ़ में बारिश के मौसम में लगनेवाली झड़ी के दिन काफी कम हो गए हैं।

भारतीय मौसम विभाग(India Meteorological Department) के अनुसार, पश्चिमी हिमालय, उत्तर प्रदेश, झारखंड, बिहार और मध्य प्रदेश में बारिश की गतिविधियां कम हो जाएंगी। जबकि 25 मई को दक्षिण छत्तीसगढ़, तटीय आंध्र प्रदेश, केरल, दक्षिण कर्नाटक, लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है और तेलंगाना, कोंकण और गोवा और पूर्वी राजस्थान और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है।

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा उत्तर झारखंड और उसके आसपास 3.1 किमी ऊंचाई तक है। इसके प्रभाव से ही बुधवार को प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में हल्की वर्षा होने के आसार हैं। साथ ही गरज-चमक के साथ छींटे भी पड़ेंगे। प्रदेश के अधिकतम तापमान में विशेष बदलाव की संभावना नहीं है।

Chhattisgarh: राष्ट्रपति से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को गोली मारने का आदेश मांगने वाला युवक गिरफ्तार

25-May-2022

छत्तीसगढ़ पुलिस ने राज्य के मुख्यमंत्री की हत्या का आदेश जारी करने की मांग करने वाले एक युवक को गिरफ्तार किया है। युवक का नाम महर्षि गौतम बताया जा रहा है।
जानकारी के मुताबिक, गौतम ने फेसबुक पर धमकी भरी पोस्ट लिखते हुए राष्ट्रपति से छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को चौराहे पर गोली मारने की अनुमति मांगी थी। इसकी सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया और तुरंत गौतम को गिरफ्तार कर लिया गया। आइये पूरी खबर जानते हैं।

शुक्रवार को आरोपी ने की थी विवादित पोस्ट :
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह मामला गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले का है। यहां के पतगवां गांव के रहने वाले गौतम खुद को राष्ट्रीय स्वाभिमान पार्टी छत्तीसगढ़ का उपाध्यक्ष बताते हैं।
उन्होंने शुक्रवार को फेसबुक पर पोस्ट कर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से गुहार लगाई कि वो भूपेश बघेल को चौराहे पर गोली मारने का आदेश दें।
एक स्थानीय नेता ने इस पोस्ट को लेकर गौतम के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी थी। इसके बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पोस्ट में क्या आरोप लगाए गए थे?
आरोपी युवक ने अपनी फेसबुक पोस्ट में आरोप लगाए थे कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार की शिकायतों पर कोई कार्रवाई नहीं करती है। मनरेगा कर्मियों की मांगे पूरी नहीं की जा रही हैं और हड़ताल के बावजूद सरकार बात सुनने को तैयार नहीं है।
गौतम ने लिखा कि भूपेश बघेल ने भरोसा दिया था कि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने पर अनियमित कर्मियों को नियमित किया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और बेरोजगार युवकों को भत्ता नहीं दिया जा रहा।

राष्ट्रपति से लगाई आदेश देने की गुहार :
राज्य सरकार पर एक के बाद एक आरोप लगाते हुए गौतम ने लिखा कि हसदेव आरण्य में पेड़ों की लगातार कटाई जारी है। राज्य में गोठान बनाने के नाम पर करोड़ों की वसूली के बाद काम ठप्प कर दिया गया है।
उन्होंने राष्ट्रपति से गुहार लगाई कि मुख्यमंत्री के शासन में राजस्व और संविधान को खतरा है। ऐसे में आप बिना देरी किए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बीच चौराहे में गोली मारने का आदेश दें।

आरोपी के खिलाफ लगी गैर जमानती धारा :
यह पोस्ट सामने आने के बाद गौरेला नगर पंचायत से जुड़े एक घनश्याम ठाकुर ने पुलिस में शिकायत दी थी। इसके बाद पुलिस ने गौतम के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (02) के तहत मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। गैर जमानती धारा होने के कारण आरोपी को जेल भेजा जा चुका है।
पुलिस ने बताया कि आपत्तिजनक पोस्ट की शिकायत मिलने के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

मुख्यमंत्री बघेल बस्तर दौरे पर, कहा- दंतेवाड़ा में बदल रहा है लोगों का जीवन, आवर्ती चराई को लेकर अधिकारियों को दिए निर्देश…

24-May-2022

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री अपने भेंट मुलाकात कार्यक्रम के तहत सोमवार को दंतेवाड़ा जिले के कटेकल्याण गांव पहुंचे। यहां कई सारे विकास कार्यों की सौगात कटेकल्याण वासियों को दी। 
दरअसल घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने की वजह से यहां नक्सली किसी ना किसी वारदात को अंजाम देते थे, लेकिन पिछले कुछ सालों से नक्सलियों के बैकफुट पर आने से पहली बार राज्य गठन के 22 सालों बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री यहां पहुंचे।

इस मौके पर सीएम बघेल ने कहा कि दंतेवाड़ा में एनीमिया के खिलाफ अभियान चलाने की जरूरत है ताकि इसे जड़ से मिटाया जा सके। इसके लिए अधिकारियों को विशेष रूप से निर्देश दिया गया। सीएम बघेल ने कहा कि गौठानों का क्रियान्वयन पूरी शक्ति से करना होगा, इसके लिए वन विभाग को विशेष प्रयास करना होगा। आवर्ती चराई को लेकर कहा कि इसके लिए छोटे नहीं बड़े रकबे में व्यवस्था की योजना बनाई जाए। उन्होंने कहा कि अगली बार आऊंगा तो बस्तर में केवल आवर्ती चराई के फील्ड देखने जाऊंगा।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि क्षेत्र की नक्सल समस्या अकेले पुलिस की समस्या नहीं है बल्कि यह सभी के जीवन को प्रभावित कर रहा है। इसलिए पुलिस के साथ हम सबके सम्मिलित प्रयास से ही नक्सल समस्या का समाधान किया जा सकता है। समीक्षा बैठक के दौरान सीएम बघेल ने गोठानों में लापरवाही के लिए अधिकारियों पर नाराजगी जताई।
सीएम बघेल ने कहा है कि अंधरूनी इलाकों तक शासन की योजनाएं पहुंच रही हैं और प्रशासन भी गांव गांव तक पहुंच रहा है। लोगो को यहां रोजगार मिल है। उन्होंने कहा कि हमें गांव को यूनिट मान कर युवाओं को रोजगार से जोड़ना है। आदिवासियों के बीच शिक्षा के प्रति रुझान बढ़ रहा है जो कि सकारात्मक नजरिया है। सीएम बघेल ने कहा कि बस्तर प्राकृतिक सौंदर्य और अपनी जीवन शैली के लिए प्रसिद्ध है। सरकार का प्रयास है कि बस्तर में पर्यटन की सुविधाओं को बढ़ाना है ताकि देश विदेश से पर्यटक यहां आए।

Raipur: अब यहां होगी नि:शुल्क स्पाईन एवं ऑथोपैडिक सर्जरी, शरीर से जुड़ी कई समस्याओं का होगा समाधान | FESN NEWS

25-May-2022

अगर आप में से किसी को भी हडि्डयों, जोडों या रीढ़ से जुड़ी कोई भी समस्या है तो घबराए नहीं हम आपके लिए बहुत काम की खबर लाए है। रायपुर में ऐसा कैंप (Medical camp) लगाया जा रहा है, जहां इन रोगों का इलाज बिलकुल मुफ्त होगा। शरीर से जुडी हुई इन समस्याओं का समाधान सर्जरी के ज़रिये किया जाएगा वो भी पूरी तरह से नि:शुल्क।

यह निशुल्क इलाज रायपुर के देवेंद्र नगर स्थित श्री नारायणा हॉस्पिटल में किया जाएगा। इसके लिए एक कैंप भी लगाया जा रहा है। इस कैंप का आयोजन Sri Narayana Hospital, ASSI ( Association of Spine Surgeons of India ), Bombay Spine Society and Kaushalya Kundnani Health Foundation की तरफ से किया जा रहा है। यहाँ आप अपना नि:शुल्क स्पाईन एवं ऑथोपैडिक सर्जरी करवा सकेंगे।

डॉ सुनील खेमखा ने बताया कि इस साल 11 जुलाई को हमारे अस्पताल के 11 साल पूरे हो रहे है, इसलिए हमने इस शुभ अवसर पर इस नि:शुल्क मेगा स्पाइन एवं ऑर्थोपेडिक सर्जरी कैंप का आयोजन करने की सोची। साथ ही इस कैंप में देश भर से जाने-माने स्पाइन सर्जन, जॉइंट रिप्लेसमेंट सर्जन और आर्थोपेडिक सर्जन आएंगे और अपनी सेवाएं देंगे।

ऐसे ले सकेंगे आप इसका फ़ायदा :- यह कैंप कुल पन्द्रह दिनों का होगा। इसकी शुरुआत सोमवार 23 मई से होगी और शनिवार 4 जून तक चलेगी। इस कैंप का आयोजन हर दिन दोपहर 2 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक “श्री नारायणा हॉस्पिटल परिसर” में होगा जहां मरीज अपनी नि:शुल्क जांच करवा सकते हैं। 
साथ ही विशेष आयोजन होने की वजह से यह सर्जरी आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के मरीजों के लिए फ्री में होगी। इसके साथ ही यहाँ मरीज पंजीयन करवाकर, फ्री सर्जरी की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

निःशुल्क कैंप में ये एक्सपर्ट आएंगे रायपुर :- तीन दिनों के सर्जरी कैंप में मुंबई हॉस्पिटल और लीलावती हॉस्पिटल के स्पाइन सर्जन डॉक्टर विशाल कुंदनानी, साकारा वर्ल्ड हॉस्पिटल बेंगलुरु के स्पाइन सर्जन डॉ रामचंद्र गोस्वामी,सर गंगा राम हॉस्पिटल दिल्ली के डॉक्टर शंकर आचार्य, ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल मुंबई के डॉक्टर प्रदीप मूड्त, हिंदूजा हॉस्पिटल मुंबई के डॉक्टर अभिषेक किनी,बाँबे हॉस्पिटल, के ई एम हॉस्पिटल, एवं जे जे हॉस्पिटल, मुंबई के डॉ तुषार अग्रवाल डॉक्टर प्रीतम अग्रवाल, स्पाइन सर्जन डॉक्टर मनिंद्र भूषण,न्यूरो सर्जन डॉक्टर रूपेश वर्मा एवं ट्रॉमा सर्जन डॉक्टर अम्बरीश वर्मा, जसलोक हॉस्पिटल के डॉ गौतम झावेरी, गंगा मेडिकल सेंटर एवं हॉस्पिटल कोयंबटूर के डॉक्टर अजय शेट्टी,एवं डॉक्टर राम खेमका रायपुर आएंगे।

Tags:- free orthopaedic surgery raipur, shri narayan hospital,

टीचर से पूछती थी सवाल, इसलिए कर दिया फेल,शिक्षा मंडल के सचिव बोले, बच्ची शिकायत करे, तो देखेंगे मार्कशीट

24-May-2022

कोटा विकासखंड के सेमरा नामक एक गांव की रहने वाली जयंती साहू ने यह शिकायत दर्ज करवाई है। यह छात्रा शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चपोरा में 11वीं में पढ़ती है।उसके पिता गुलाब साहू स्वयं भी शासकीय हाई स्कूल बछालीखुर्द में व्याख्यता और प्रभारी प्राचार्य के पद पर हैं। जयंती ने इस साल 10वीं की परीक्षा दी थी, लेकिन जब बोर्ड परीक्षा के नतीजे आये,तो वह भौंचक रह गई।जयंती को परीक्षा में 68 प्रतिशत मिले थे,लेकिन उसे गणित के प्रैक्टिकल में अनुपस्थित बता गया था,जिसके कारण उसे पूरक परीक्षा देनी होगी।

छात्रा ने पुलिस को की गई अपनी शिकायत में बताया है कि उसने वह 6 विषयों की प्रायोगिक परीक्षा में शमिल हुई थी,इस दौरान उसने उपस्थिति पत्रक में दस्तखत भी किए थे, फिर भी उसे अनुत्तीर्ण कर दिया गया। इस संबंध में जब जयंती के पिता ने गणित की टीचर प्रिया वासिंग को फोन किया ,तो उसने बताया कि छात्रा ने कक्षा में पूरे साल साल सवाल पूछकर उसे परेशान कर दिया था, इस कारण उसने छात्रा को सबक सिखाने के लिए उसे प्रायोगिक परीक्षा में अनुपस्थित बता दिया।
बच्ची के परिजनों का कहना है कि उन्होंने इस संबंध में शिक्षिका से पूछताछ की , उन्हें समझ आया कि उनकी बच्ची को क्यों फेल किया गया है। नाराज परिजनों और छात्रा नेटीचर के खिलाफ थाने में शिकायत दी है। हालांकि रतनपुर पुलिस ने इस प्रकरण में एफआईआर दर्ज नहीं की है।

  1. Pan Masala Ad: अमिताभ, रणवीर, अजय और शाहरुख़ पर FIR दर्ज, पान मसाला विज्ञापन से बढ़ीं मुश्किलें
  2. लॉज में फंदे पर लटक रहा था Assistant Sub Inspector का शव, मचा हड़कंप

CM Baghel in Bollywood Movie : हिंदी फिल्म में किरदार निभाएंगे CM भूपेश बघेल, जानें कैसे

23-May-2022

 CM Baghel in Bollywood Movie : संकेत सरजन और काशी फिल्म प्रोडक्शन मुंबई के बैनर तले बनने वाली हिंदी फिल्म-मेरा संघर्ष की शूटिंग बालोद जिले में शुरू हुई है। जिसका एक सीन रविवार को डौंडी ब्लॉक के ग्राम घोटिया में भी फिल्माया गया। इसकी खास बात यह थी कि इस सीन में राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी मुख्यमंत्री के ही रूप में नजर आएंगे। सीएम से फिल्म में जाल डलवाया गया है। सीएम के तालाब में जाल डालते हुए इसकी शूटिंग हुई है।

फिल्मी कहानी में असली सीएम :- दरअसल फिल्म की कहानी (CM Baghel in Bollywood Movie) में हीरो जब मछली पालन करके एक बड़ा आदमी बनता है तो उनके सम्मान में खुद मुख्यमंत्री उस गांव में आते हैं और फिर हीरो के कहने पर मुख्यमंत्री तालाब में जाल डालकर उसके मछली उद्योग की शुरुआत करते हैं। ये सीन उसी पर आधारित था। रोचक बात यह है कि घोटिया में निषाद समाज के अधिवेशन में मुख्यमंत्री का आगमन हुआ था। कार्यक्रम स्थल से लगभग 500 मीटर दूर मुख्यमंत्री को एक तालाब में ले जाया गया। जहां उन्होंने फिल्म का हिस्सा बनते हुए तलाब में जाल फेंक कर इसमें अभिनय किया।

पिता को नक्सलियों ने गांव से भगाया, बेटा 12 की उम्र में बना मल्लखंभ का नेशनल चैंपियन, इंडिया बुक ऑफ रेकॉर्ड में नाम शामिल

23-May-2022

छत्तीसगढ़ के सुदूर गांव अबूझमाड़ के रहने वाले 12 साल के राकेश वर्दा को चार साल पहले अपने पिता के साथ ओरछा गांव छोड़ना पड़ा था। 

बेटे की खेल में रूचि को देखते हुए नक्सलियों ने पिता को धमकी दी थी। साथ ही कहा था कि बेटे को खेलना बंद करा दो। इसके बाद नक्सलियों के डर से पिता ने गांव छोड़ दिया था। 
पिता ने बेटे की रुचि को प्राथमिकता दी और उसे कुतुलगरपा गांव ले आए। यहां 8 साल के राकेश वर्दा को छत्तीसगढ़ स्पेशल टास्क फोर्स में काम करने वाले मनोज प्रसाद मिले जो मल्लखंभ के प्रशिक्षक हैं।
कुतुलगरपा गांव में राकेश के जज्बे को एक नई रोशनी मिली और महज 12 वर्ष की उम्र में उसने ने महाराष्ट्र के गोरेगांव में आयोजित राष्ट्रीय मल्लखंभ हैंडस्टैंड प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम कर लिया। 
राकेश ने एक मिनट छह सेकेंड तक हैंडस्टैंड करते हुए न सिर्फ विजेता का खिताब जीता बल्कि भारत और विश्व के लिए एक नया कीर्तिमान भी स्थापित कर दिया। इससे पहले भारत का बेस्ट रेकॉर्ड 30 सेकेंड का था।
मल्लखंभ हैंडस्टैंड प्रतियोगिता के लिए देश भर के 1000 खिलाड़ी शामिल हुए थे। खास बात ये है कि दूसरा स्थान भी अबूझमाड़ के रहने वाले 11 साल के राजेश कोर्राम ने प्राप्त किया। इस प्रदर्शन के साथ ही राकेश का नाम इंडिया बुक आफ रेकॉर्ड्स में दर्ज हो गया है। राकेश ने इस प्रदर्शन के लिए गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भी आवेदन किया है, जिसे स्वीकार कर लिया गया है। लेकिन इस आवेदन के लिए जरूरी 80 हजार रुपए की फीस भर पाने में राकेश समर्थ नहीं है।
राकेश की इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री ने हाथ मिलाकर उसे बधाई दी और गिनीज बुक ऑफ रेकॉर्ड्स के नामांकन में राकेश की मदद के लिए मुख्यमंत्री ने कलेक्टर नारायणपुर को निर्देश दिए हैं।
दरअसल, राष्ट्रीय मल्लखंभ हैंडस्टैंड प्रतियोगिता जीतने वाले राकेश वर्दा समेत छत्तीसगढ़ के 10 खिलाड़ियों का चयन हरियाणा में आयोजित होने वाले खेलो इंडिया प्रोग्राम के लिए किया गया है। अबूझमाड़ के जंगलों से निकलकर देश में पहचान बनाने वाले 12 साल के राकेश वर्दा के प्रदर्शन से पूरा छत्तीसगढ़ गौरवांवित है।

Raipur में शुरू हुआ ‘दवाई का लंगर’, मुख्यमंत्री ने किया उद्घाटन | 'Dawai ka Langar' started in Raipur

23-May-2022

'Dawai ka Langar' started in Raipur : अब तक लंगर हमेशा खाने का लगाई जाती है लेकिन छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पहली बार ‘दवाई का लंगर’ शुरू हुआ है, जिसका विधिवत उद्घाटन रविवार रात को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया।

नाम के अनुरूप ‘दवाई का लंगर’ नि:शुल्क दवाखाना है। यहां से मरीजों को निशुल्क जेनेरिक दवाइयां उपलब्ध कराई जा रही हैं।

पता : यह रायपुर स्तिथ देवेंद्र नगर चौक  पर खोला गया है।

इस लंगर संचालन क्षेत्रीय विधायक कुलदीप जुनेजा (MLA Kuldeep Juneja) और छत्तीसगढ़ सिख संगठन व छत्तीसगढ़ हाऊसिंग बोर्ड के अध्यक्ष  की ओर से किया जाएगा।   

वे बताते हैं कि उन्होंने जब दवाई का लंगर की योजना बनाई तो कई चिकित्सक सहर्ष इस बात के लिए तैयार हो गए कि वे नि:शुल्क अपनी सेवाएं देंगे और पहले दिन से ही यहां चिकित्सकों के आने का सिलसिला हो शुरू हो गया है।

जब इस तरह के काम शुरू होते हैं तो आम लोगों के सामने बजट का संकट आता है मगर जुनेजा कहते हैं कि उन्हें लोगों का इतना सहयोग मिलता है कि वे जिस काम को भी हाथ में लेते हैं उसे पूरा कराने में उन्हें दिक्कत नहीं जाती, क्योंकि लोगों का भरपूर सहयोग मिलता है। सहयोग करने की भी वजह होती है, क्योंकि उन्हें पता होता है कि मेरा लक्ष्य जनता और गरीबों की सेवा के साथ बेहतर सुविधाएं दिलाना ही होता है।

मुख्यमंत्री ने दी शुभकामनाएं: मुख्यमंत्री बघेल ने कार्यक्रम में नागरिकों से भेंट-मुलाकात और चर्चा करते हुए कहा कि प्रदेश के समग्र विकास के लिए हर अंचल के साथ-साथ नगरों के सुव्यवस्थित सुनियोजित विकास के लिए लगातार काम हो रहे हैं। इस कड़ी में नगरीय निकायों में नागरिकों की सुविधाओं का तेजी से विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने सौन्दर्यीकरण कार्य और ‘दवाई का लंगर‘ निःशुल्क दवाखाना के संचालन के लिए विधायक जुनेजा और महापौर ढेबर की पहल की सराहना करते हुए उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी।

बिलासपुर में स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट, सीएम ने वर्चुअल किया शिलान्यास, एक ही छत के नीचे होगा सभी प्रकार के कैंसर का इलाज

23-May-2022

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने  यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में बिलासपुर में 120 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले अत्याधुनिक ‘राज्य कैंसर संस्थान‘ का भूमि-पूजन किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि राज्य कैंसर संस्थान कैंसर के इलाज के लिए आवश्यक अत्याधुनिक उपकरणों से लैस होगा और आगामी एक वर्ष में इसका निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सहित आसपास के कैंसर मरीजों को इस संस्थान के माध्यम से कैंसर के इलाज की अच्छी सुविधा मिलेगी।
सीएम भूपेश बघेल ने वर्चुवल शिलान्यास करते हुए यह भी कहा कि यह इंस्टीट्यूट प्रदेश के ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्यों के मरीजों का भी उपचार कर सकेगा। उन्होंने कहा कि बिलासपुर संभाग के लोग इससे सबसे ज्यादा लाभान्वित होंगे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि बीते साढ़े तीन वर्षों के दौरान छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार की दिशा में लगातार किए जा रहे प्रयासों के क्रम में आज राज्य कैंसर संस्थान के भूमिपूजन के साथ एक और महत्वपूर्ण पहल की जा रही है। यह संस्थान निश्चित रूप से कैंसर के मरीजों के इलाज के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण साबित होगा। हम मरीजों को कैंसर से मुक्ति दिलाने और जीवन को बचाने के लिए और भी प्रभावी तरीके से काम कर पाएंगे।

 

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट, सीएम ने वर्चुअल किया शिलान्यास, सभी प्रकार के कैंसर का होगा इलाज

23-May-2022

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार की सुबह कोनी में 120 करोड़ की लागत से बन रहे स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट का वचुर्वल शिलान्यास किया. शिलान्यास करते हुए सीएम बघेल ने कहा कि यह प्रदेश के लिए बड़ी सौगात साबित होने वाला है. इस इंस्टीट्यूट के बन जाने के बाद सभी प्रकार के कैंसर का उपचार इस इंस्टीट्यूट में हो सकेगा, जो बड़ी चिकित्सकीय सुविधा साबित होगा.

सीएम भूपेश बघेल ने वर्चुवल शिलान्यास करते हुए यह भी कहा कि यह इंस्टीट्यूट प्रदेश के ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्यों के मरीजों का भी उपचार कर सकेगा. उन्होंने कहा कि बिलासपुर संभाग के लोग इससे सबसे ज्यादा लाभान्वित होंगे. अब कैंसर के इलाज के लिए किसी को बाहर नहीं जाना पड़ेगा. इस दौरान दौरान सासंद अरुण साव, कलेक्टर डा. सारांश मित्तर, डीन डा. केके सहारे, एमएस डा. नीरज शिंडे, डा. पुनित भारद्वाज, डा. चंद्रहास ध्रुव के साथ बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि और सिम्स के स्टाफ उपस्थित रहे.

सीजीएमएससी करेगा निर्माण

तय समय पर सेंट्रल पीडब्यूडी ने सिम्स सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल भवन का निर्माण किया है. वहीं अब स्टेट कैंसर इस्टीट्यूट के निर्माण की जिम्मेदारी सीजीएमएससी को सौंपी गई है. अब आने वाले दिनों में भवन निर्माण का काम शुरू कर दिया जाएगा, जिसे एक साल के भीतर तैयार करना होगा.

मिलेगी यह चिकित्सा सुविधा

- 100 बिस्तरों का अत्याधुनिक कैंसर वार्ड
- 20 बिस्तरों का अत्याधुनिक कैंसर आईसीयू
- सभी प्रकार की नि:शुल्क कीमोथेरेपी (टार्गेटेड, इम्मुनो, मालिक्यूलर, मेट्रोनोमिक)
- अत्याधुनिक रेडियोथेरेपी मशीन से इलाज
- दो लीनियर एक्सेलरेटर
- एक कोबाल्ट ब्रेकीथेरेपी यूनिट
- एक पीईटी स्कैन मशीन
- एक सीटी सिमुलेटर
- एमआरआई जांच
- कैंसर अनुसंधान के लिए सभी अत्याधुनिक प्रसाधन

इन कैंसर रोगों का हो सकेगा उपचार

स्तन कैंसर, सवाईकल कैंसर, मुख एवं गले का कैंसर, फेफड़े का कैंसर, बड़ी आंत एवं गुदा के कैंसर, पेट के कैंसर, यकृत कैंसर, पित्त के थैली का कैंसर, हड्डी के कैंसर, ब्लड कैंसर

आठ साल बाद शुरू हो रहा निर्माण

27 फरवरी 2014 को स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट के लिए केंद्र सरकार ने घोषणा की थी. लेकिन इसे मंजूर होने में पांच साल का समय लग गया. 2019 में इसको अंतिम स्वीकृति दी गई. इसके बाद 2020 में केंद्र ने पहली किस्त के रूप में 51 करोड़ रूपये जारी किया है. वही इसमे की लगने वाली 40 प्रतिशत राशि राज्य सरकार को देना था, लेकिन तय समय पर राशि जारी नहीं किया जा सका. ऐसे में लगभग तीन साल की देरी हो गई.

नक्सल प्रभावित Rajnandgaon में मध्य भारत का सबसे बड़ा Call Center बन रहा, युवा सपनों को लगे पंख

23-May-2022

राजनांदगांव। नक्सल प्रभावित इलाके राजनांदगांव की पहचान बदल रही है. वहां पर मध्य भारत का सबसे बड़ा कॉल सेंटर बन रहा है. यह 2 हजार सीटों के साथ मध्य भारत का सबसे बड़ा कॉल सेंटर बना है।  वर्तमान में देश की मल्टीनेशनल कंपनियों के कस्टमर के कॉल यहीं से लिए जा रहे हैं। उनका समाधान इसी सेंटर से हो रहा है। 

 कोरोना काल में जब रोजगार घर रहे थे तब यहां आदिवासी अंचल के युवाओं के लिए एक बीपीओ सेंटर खुला. यह उनके लिए एक नई उम्मीद बन गया. 
इस सेंटर में कभी 60 युवाओं ने काम शुरू किया था। अब तक दो हजार युवाओं को रोजगार दिया जा चुका है। जबकि एक समय में काम करने वालों की संख्या वर्तमान में एक हजार 87 तक जा पहुंची है। इस सेंटर की वजह से ही टेड़ेसरा और आसपास के गांवों में आर्थिक लाभ भी मिला है। ये मीशो, एनीमॉल, एजीयो, स्वीगी, पशुपल जैसी कंपनियों का कॉल सेंटर है। यहां वॉइस, कैटलॉग और ईमेल के माध्यम से आम लोगों के साथ जुड़कर उनकी सभी शंकाओं का समाधान किया जाता है। लगातार इससे युवा जुड़ते जा रहे हैं।

10 दिनों तक मां के शव के साथ रही बेटी, पुलिस ने आकर खुलवाया दरवाजा

रायपुर एम्स में अब रोबोटिक सर्जरी | Robotic Surgery in Raipur AIIMS

भारत में हालात ठीक नहीं, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा है..कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी

Tags:- Central India's biggest call center is being built in Naxal-affected Rajnandgaon, young dreams got wings

 

 

लॉज में फंदे पर लटक रहा था एएसआई का शव, मचा हड़कंप

21-May-2022

ASI  ने एक होटल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मामला दुर्ग के छावनी थाना क्षेत्र का है। ASI का नाम फारूख शेख है। मामले की जानकारी मिलने के बाद दुर्ग पुलिस की टीम मौके पर पहुंची हुई है और मामले की जांच कर रही है। जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले ही दुर्ग एसएसपी ने ASI को लाइन अटैच किया था ।
भिलाई के छावनी थाना में ASI फारूख शेख दो दिन पहले तक पदस्थ था। शिकायतें मिलने के बाद दुर्ग एसएसपी ने अभिषेक पल्लव ने ASI को लाइन अटैच कर दिया था। खबर है कि लाइन अटैच होने के बाद से ही एएसआई डिप्रेशन में था। कल शाम वो भिलाई के बसंत टाकिज के पास स्थित सुविधा होटल में पहुंचा था। होटल में ही एक कमरे में वो रूका हुआ था। 
फिलहाल होटल में पुलिस की टीम पहुंची हुई है और जांच कर रही है। पुलिस की टीम इस मामले में अलग-अलग एंगल  से जांच कर रही है।  

10 दिनों तक मां के शव के साथ रही बेटी, पुलिस ने आकर खुलवाया दरवाजा

रायपुर एम्स में अब रोबोटिक सर्जरी | Robotic Surgery in Raipur AIIMS

भारत में हालात ठीक नहीं, BJP ने चारों तरफ केरोसिन छिड़क रखा है..कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में बोले राहुल गांधी

रायपुर एम्स में अब रोबोटिक सर्जरी | Robotic Surgery in Raipur AIIMS

21-May-2022

Robotic surgery in Raipur AIIMS : छत्तीसगढ़ राजधानी के रायपुर एम्स में मरीजों की संख्या में जैसे-जैसे बढ़ोतरी हो रही है, वैसे-वैसे नई-नई तकनीक से इलाज का विस्तार भी किया जा रहा है। एम्स में एक साल के भीतर रोबोटिक सर्जरी शुरू होने की उम्मीद है। एम्स प्रबंधन ने इसके लिए सभी कागजी प्रक्रियाएं पूरी कर ली है। केंद्रीय मंत्रालय से मंजूरी भी मिल चुकी है। 

अत्याधुनिक माड्यूलर आपरेशन थियेटर तैयार हैं। सर्वप्रथम न्यूरो में रोबोटिक सर्जरी शुरू करने की योजना है। इसके बाद आर्थों और फिर गायनिक, ईएनटी और आप्थोमालाजी व अन्य में होगा। हालांकि, यह सर्जरी कार्निया और रीनल ट्रांसप्लांट शुरू होने के बाद ही होगा।

वर्तमान में राज्य के किसी भी शासकीय अस्पताल में रोबोटिक सर्जरी की सुविधा नहीं है। एम्स रायपुर प्रदेश का पहला अस्पताल होगा, जहां सर्जरी होगी। वर्तमान में दिल्ली, मुंबई और कुछ अन्य मेट्रो सिटी में ही रोबोटिक सर्जरी शुरू हो पाई है। 
डाक्टरों का कहना है कि बड़े शहरों में सर्जरी कराने पर निजी अस्पतालों में मरीज को तीन से चार लाख रुपए खर्च करने पड़ते हैं। एम्स में इससे काफी कम राशि लगेगी।

स्पेस-X फ्लाइट अटेंडेंट ने एलन मस्क पर लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, मस्क ने दी सफाई

प्रदेश में ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी को लेकर बदले नियम, जानें डिटेल

शराब के शौकीनों को सरकार का झटका, राजस्व के लिए 20-25 % बढ़ाए दाम


Previous123456789...5253Next