Friday,03 December 2021   09:40 pm
Previous12Next

बंगाल में मतदान जारी, पीएम मोदी ने वोटर्स से की रिकॉर्ड मतदान की अपील

10-Apr-2021

बंगाल।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi ) ने पश्चिम बंगाल (West Bengal Assembly Election 2021) के चौथे चरण के तहत शनिवार को हो रहे मतदान में लोगों से रिकॉर्ड संख्या में भागीदारी सुनिश्चित करने की अपील की। खासकर युवाओं और महिलाओं से रिकॉर्ड संख्या में मतदान करने की अपील की। पीएम ने ट्वीट किया- आज पश्चिम बंगाल चुनावों के चौथे चरण की शुरुआत हुई, लोगों से आग्रह है कि वे रिकॉर्ड संख्या में मतदान करें। मैं विशेष रूप से युवाओं और महिलाओं से बड़ी संख्या में मतदान करने का अनुरोध करूंगा

अधिकारियों ने बताया कि हावड़ा जिले में 9 सीटों, दक्षिण 24 परगना में 11, अलीपुरद्वार में 5, कूचबिहार में 9 और हुगली में 10 सीटों पर कोविड-19 संबंधी नियमों का सख्ती से पालन करते हुए मतदान हो रहा है। मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं की लंबी कतारें देखी गई। मतदान शाम साढ़े छह बजे तक चलेगा। पश्चिम बंगाल में 294 विधानसभा सीटों के लिए आठ चरणों में चुनाव हो रहा है। मतगणना दो मई को होगी।

पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में कब होंगे विधानसभा चुनाव? आयोग की महत्वपूर्ण बैठक आज

24-Feb-2021

नई दिल्ली,इंडिया। पश्चिम बंगाल और असम समेत 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Election 2021) की तारीखों पर चर्चा के लिए आज (24 फरवरी) दिल्ली में चुनाव आयोग (Election Commission) की बैठक होगी। चुनाव आयोग ने बताया कि बैठक में आगामी विधान सभा चुनावों की तैयारी को अंतिम रूप देने पर चर्चा होगी। बता दें कि पश्चिम बंगाल के अलावा असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में इस साल मई-जून में विधान सभा चुनाव होने वाले हैं।

चुनाव आयोग (Election Commission) के उप चुनाव आयुक्त और प्रभारी सुदीप जैन तैयारियों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को कोलकाता का दौरा करेंगे। अपनी यात्रा के दौरान सुदीप जैन तैयारियों को लेकर जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस अधीक्षकों के साथ कई बैठकें करेंगे। इससे पहले चुनाव आयोग ने एक बयान में बताया था कि केंद्रीय पुलिस बलों (CPF) की 12 कंपनियों को पश्चिम बंगाल भेजा जाएगा। आयोग ने कहा था कि सभी राज्यों या केंद्र शासित प्रदेशों में चुनाव के लिए केंद्रीय बलों की तैनाती की जाती है, ऐसा सिर्फ पश्चिम बंगाल के लिए नहीं है।

पश्चिम बंगाल- पश्चिम बंगाल में विधानसभा की कुल 294 सीटें हैं। राज्य में फिलहाल तृणमूल कांग्रेस की सरकार है जिसकी अगुवाई ममता बनर्जी कर रही हैं। राज्य में चुनावी सभाएं जोर शोर से चल रही हैं। टीएमसी का दावा है कि एक बार फिर वो सत्ता पर काबिज होगी। वहीं बीजेपी टीएमसी को सत्ता से बेदखल करने का दावा कर रही है। टीएमसी और बीजेपी अकेले मैदान में उतरी हुई है। वहीं कांग्रेस और लेफ्ट गठबंधन में चुनाव लड़ेंगे।

तमिलनाडु- तमिलनाडु में विधानसभा की कुल 234 सीटे हैं। मुख्यमंत्री के। पलानीस्वामी के नेतृत्व में सत्ताधारी एआईएडीएमके लगातार धुआंधार कैंपेन कर पांच साल की अपनी उपब्धियां गिना रही है। दूसरी तरफ, विपक्षी डीएमके-कांग्रेस गठबंधन आक्रामक तेवर अपनाकर सत्ताधारी एआईएडीएमके पर हमला बोल रही है। ऐसा पहली बार है जब राज्य की सत्ता में वर्षों तक राज करने वाले करूणानिधि और जे। जयललिता के बिना यह चुनाव लड़ा जाएगा। बीजेपी, एआईएडीएमके के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ेगी

पुदुचेरी- पुदुचेरी में विधानसभा की कुल 30 सीटे हैं। सोमवार को ही पुदुचेरी में बड़ी सियासी घटना देखने को मिली। सोमवार को पुदुचेरी के मुख्यमंत्री ने सदन में विस्वासमत खो दिया। विश्वास प्रस्ताव पर मतदान से पहले मुख्यमंत्री नारायणसामी के इस्तीफे के कारण सोमवार को पुदुचेरी में कांग्रेस सरकार गिर गई। हाल ही में कई कांग्रेस विधायकों और बाहर से समर्थन दे रहे डीएमके के एक विधायक के इस्तीफे के कारण केन्द्रशासित प्रदेश की सरकार अल्पमत में आ गई थी।

असम- असम में विधानसभा की कुल 126 सीटे हैं। फिलहाल यहां बीजेपी की सरकार है, जिसका नेतृत्व सर्बानंद सोनेवाल कर रहे हैं। कांग्रेस इस चुनाव में ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ), सीपीआई, सीपीआईएम, सीपीआईएमएल और आंचलिक गण मोर्चा के साथ गठबंधन करेगी।

केरल- केरल में विधानसभा की 140 सीटे हैं। पिछले विधानसबा चुनाव में एलडीएफ ने 83 सीटों पर जीत दर्ज की थी। यूडीएफ ने 47 सीटों पर जीतने में कामयाबी हासिल की थी। वहीं बीजेपी भी एक सीट पर जीतन में कामयाब हुई थी। चुनाव आयोग के मुताबिक, बीजेपी ने 98 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे

कोरोना संकट के बीच बिहार चुनाव में प्रत्याशी कैसे करेंगे प्रचार, क्या है गाइडलाइंस

22-Aug-2020

बिहार,इंडिया। बता दे कि इस साल के अंत तक बिहार में चुनाव हो सकते हैं। आयोग के द्वारा जारी गाइडलाइन को बिहार चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है। बिहार विधानसभा का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त होगा और अक्तूबर-नवंबर में किसी समय चुनाव कराये जाने की संभावना है। कोरोना वायरस और बारिश के कारण हाल में कई उपचुनावों को टाल दिया गया था। अब तक चुनाव के किसी नये कार्यक्रम की घोषणा नहीं की गयी है।

कोरोना काल में होने जा रहे सभी आम चुनाव और उपचुनावों के लिए निर्वाचन आयोग ने नियम कायदे जारी कर दिए हैं। इसमें साफ किया गया है कि चुनाव संबंधी सभी कामकाज कोरोना से बचाव के उपायों को अपनाना होगा। चुनाव संबंधित हर गतिविधि के दौरान मास्क पहनने के साथ सोशल डिस्टेंशिंग के नियमों का पालन करना होगा। चुनाव प्रचार से लेकर मतदान तक काफी अलग होगा। चुनाव आयोग ने सभी गतिविधियों के लिए खास नियम जारी किए हैं आयोग ने कोरोना के चलते उम्मीदवारों को ऑनलाइन नॉमिनेशन भरने की सुविधा दे दी है। हालांकि, इसका प्रिंट निकालकर उम्मीदवार को चुनाव अधिकारी को सौंपना होगा। इसके अलावा चुनाव के लिए इस्तेमाल किए जा रहे किसी भी कमरे, हॉल या परिसर में थर्मल स्कैनर होना जरूरी है।

नयी गाइडलाइन

चुनाव आयोग ने कोरोना के समय चुनाव के आवश्यक दिशानिर्देश जारी किए हैं। अब ऑनलाइन नॉमिनेशन फाइल किया जा सकेगा। चुनाव संबंधी गतिविधियों के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य होगा। आयोग ने गाइडलाइन जारी कर बताया कि इस बार उम्मीदवार सिक्योरिटी मनी ऑनलाइन जमा कर सकेंगे। वहीं ऐसा पहली बार होगा जब चुनाव में कोई उम्मीदवार सिक्योरिटी मनी ऑनलाइन जमा करेगा।

वहीं चुनाव आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक डोर टू डोर कैंपेनिंग के लिए उम्मीदवार के साथ ज्यादा से ज्यादा पांच लोग साथ हो सकते हैं। निर्वाचन आयोग 11 सितंबर को एक रिक्त स्थान (राज्यसभा सांसद अमर सिंह के निधन के बाद) को भरने के लिए उत्तर प्रदेश से राज्यों की परिषद के लिए उपचुनाव आयोजित करेगा।

चुनाव आयोग ने की नई पहल, अब ई-वोटिंग से मतदाता कर सकेंगे कहीं से भी मतदान

17-Feb-2020

नई दिल्ली, इंडिया। चुनाव आयोग IIT मद्रास के साथ मिलकर एक ऐसी नई प्रौद्योगिकी विकसित करने पर काम कर रहा है, जिसमें अपने निर्वाचन क्षेत्र से दूर किसी अन्य शहर या राज्य में होने पर भी मतदाता मतदान कर पाएगा। चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि प्रॉजेक्ट फिलहाल शोध और विकास के चरण में है और इसका मकसद ‘प्रोटोटाइप’ विकसित करना है।

वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त संदीप सक्सेना ने स्पष्ट किया कि मतदाता को इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए पहले से तय वक्त पर नियत स्थल पर पहुंचना होगा।  इस व्यवस्था का मतलब घर से मतदान करना नहीं है।  घर से मतदान के लिए और वक्त व उन्नत प्रौद्योगिकी की जरूरत है।  सक्सेना ने कहा, ‘‘मानिए कि लोकसभा चुनाव है और चेन्नई का मतदाता दिल्ली में है।  तो मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र जाने के बजाय या मतदान नहीं करने के बजाय वह चुनाव आयोग द्वारा बनाए गए स्थान पर खास समय पर आ सकता है और अपना वोट दे सकता है।  ऐसे मतदाताओं को यह सुविधा लेने के लिए अपने चुनाव अधिकारी के यहां पहले से आवेदन देना होगा।’’

एक अनुमान के मुताबिक, देश में लगभग 45 करोड़ प्रवासी लोग हैं जो रोजगार आदि के कारण अपने मूल निवास से अन्यत्र निवास करते हैं। इनमें से कई मतदाता विभिन्न विवशताओं के कारण मतदान वाले दिन अपने उस चुनाव क्षेत्र में नहीं पहुंच पाते हैं जहां के वे पंजीकृत मतदाता हैं। इस परियोजना से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि दूरस्थ मतदान का प्रयोग ई-वोटिंग के रूप में सबसे पहले 2010 में गुजरात के स्थानीय निकाय चुनाव में किया गया था। इसमें राज्य के प्रत्येक स्थानीय निकाय के एक एक वार्ड में ई-वोटिंग का विकल्प मतदाताओं को दिया गया था।

अब चुनाव में QR Code से डाल सकेंगे वोट, Mobile पर मिलेगी पर्ची

07-Jan-2020

नई दिल्ली, इंडिया।  इस साल होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव कई मायनों में खास होंगे। साथ ही मोबाइल पर जेनरेट हुई क्यूआर कोड वाली पर्ची दिखाकर वोट डाल सकेंगे। इस तरह दिल्ली देश का पहला शहर होगा, जहां हर मतदान केंद्र में बूथ एप का उपयोग किया जाएगा। भले ही अब तक मोबाइल फोन मतदान केंद्र के अंदर लेकर जाने की इजाजत ना हो लेकिन अब मोबाइल से वोटर की पहचान होगी। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने खास इंतजाम किए हैं। चुनाव आयोग के मुताबिक दिल्ली विधानसभा चुनाव में इस बार वोटर स्लिप पर क्यूआर कोड की तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। वोटर अब मतदान केंद्र पर मोबाइल फोन भी लेकर जा सकेंगे।

चुनाव आयोग ने सोमवार को दिल्ली विधानसभा चुनाव के तारीख का ऐलान कर दिया है। दिल्ली में चुनाव 8 फरवरी 2020 को चुआव होगा। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि मतगणना 11 फरवरी को होगी। दिल्ली चुनाव का नोटफिकेशन 14 जनवरी को जारी होगा, जबकि नामांकन भरने की अंतिम तिथि 22 जनवरी है। उम्मीदवारों के नाम वापस लेने की अंतिम तिथि 24 जनवरी है। यह पूरी चुनावी कवायद 12 फरवरी 2020 तक पूरी हो जाएगी।

मतदाता वोटर स्लिप ले जाने के लिए मतदाता हेल्पलाइन ऐप से क्यूआर कोड डाउनलोड कर सकेंगे। फिर क्यूआर कोड को स्कैन किया जा सकता है। हालांकि उनके मोबाइल फोन को QR कोड की स्कैनिंग के बाद जमा किया जाएगा। CEC अरोड़ा ने सोमवार को कहा कि मतदान केंद्रों पर फोन के लिए लॉकर की सुविधा दी जाएगी।

दिल्ली में सोमवार को प्रकाशित अंतिम चुनावी सूची के अनुसार, कुल 1.46 करोड़ मतदाता आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। चुनाव आयोग ने कहा कि चुनावों के सफल समापन के लिए 90,000 अधिकारियों को तैनात किया जाएगा। अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली AAP दूसरे कार्यकाल पर नजर गड़ाए हुए है और DTC और क्लस्टर बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त सवारी, 200 यूनिट तक बिजली की मुफ्त बिजली को अपनी उपलब्धियां गिना रहा है।

महापौर व सभापति के लिए अधिसूचना जारी, पार्षदों के शपथ के बाद 6 जनवरी को होगा चुनाव

30-Dec-2019

रायपुर,छत्तीसगढ़,इंडिया।  रायपुर नगर निगम के महापौर चुनाव के लिए निगम प्रशासन ने अधिसूचना जारी कर दी है। राज्य निर्वाचन कार्यालय ने आज महापौर चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी कर दी है।  राजधानी में 6 जनवरी को महापौर और सभापति का चुनाव होगा।  इससे पहले पार्षदों का शपथग्रहण होगा।  इसके बाद नामांकन की प्रक्रिया शुरू होगी।  नामांकन के बाद मतदान और मतगणना होगी।

महापौर अध्यक्ष के लिए निर्धारित समय सारणी

पार्षदों का शपथ ग्रहण- सुबह 11 बजे

महापौर व अध्यक्ष के अभ्यर्थी के लिए नाम निर्देशन-11.30 से 12.30 बजे

महापौर व अध्यक्ष के अभ्यर्थी के लिए बैठक-12.30 से 1 बजे तक

नाम निर्देश पत्र की जांच व आपत्ती निराकरण-12.35 से 1 बजे

नाम वापसी-2 बजे, आवश्यकता पडऩे पर मतदान-2 से 3.30

मतगणना और निर्वाचन परिणाम-मदतान के तत्काल बाद- अपील समिति सदस्य के लिए

नाम निर्देशन-11.30 से 12.30, आपत्ती निराकरण-12.35 से 1 बजे तक, नाम वापसी-2 बजे तक

नगरीय निकाय चुनाव परिणाम रिजल्ट : 34 सीटों पर कांग्रेस जीती, 29 पर भाजपा और निर्दलीय 7

26-Dec-2019

रायपुर,छत्तीसगढ़,इंडिया। छत्तीसगढ़ के 151 नगरीय निकायों में से ज्यादातर में कांग्रेस ने निर्णायक बढ़त बना ली है। नगर निगम के साथ नगर पालिका और नगर पंचायत में बड़ी संख्या में कांग्रेस के पार्षदों ने जीत दर्ज की है। बस्तर से लेकर सरगुजा तक कांग्रेस को बड़ी जीत मिली है। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, प्रदेश के 1985 पार्षद पद में से 901 पर कांग्रेस, 791 पर भाजपा, 17 पर जकांछ और 276 पर निर्दलीय पार्षदों ने जीत दर्ज की है। प्रदेश में कांग्रेस 34 सीटों के साथ शहर की सत्ता में काबिज होने के करीब पहुंच गई है। जबकि भाजपा के 29 पार्षद जीतने में सफल रहे। हालांकि सात वार्डों में निर्दलीय प्रत्याशियों ने बाजी मारी है। विधानसभावार आंकड़ों पर जाएं तो रायपुर की चारों विधानसभाआें में कांग्रेस आैर भाजपा के बीच कड़ी टक्कर रही है। रायपुर उत्तर में ही किसी भी निर्दलीय ने जीत हासिल नहीं की जबकि तीनों विधानसभा में निर्दलीय पार्षद चुनाव जीतकर आए हैं।

भाजपा की विधानसभा में इतनी जीत :- भाजपा नेताओं ने विधान सभावार आंकलन कर जीतने वाले वार्डों की सूची तैयार की है। इसमें दक्षिण विधानसभा में 19 में वे 5 सीटों पर जीत मानकर चल रहे हैं। पश्चिम में 20 वार्डों में 14 में उन्हें जीत का अनुमान है। उत्तर में भी 17 में 8 सीटें वे अपने खाते में आने की उम्मीद लगाए हुए हैं। इसी तरह ग्रामीण विधानसभा में 14 में से 5 सीट जीतने का दावा किया जा रहा है। भाजपा के नेता 38 सीट के साथ रायपुर में भाजपा का महापौर बना रहे हैं। इसी तरह ग्रामीण विधानसभा में दो, पश्चिम विधानसभा में दो तथा दक्षिण विधानसभा में तीन निर्दलीय प्रत्याशियों ने बाजी मारी है।

रायपुर के चारों विधानसभा में कांग्रेस की इन वार्डों में हुई जीत :- ग्रामीण के 14 वार्डों में कांग्रेस ने 7 में जीत हासिल की है। इसी तरह दक्षिण विधानसभा में 19 वार्डों में 11 वार्डों में कांग्रेस के पार्षद जीतकर आए हैं। इसी तरह उत्तर विधानसभा के 17 वार्डों में 9 वार्ड कांग्रेस ने जीते हैं। वहीं रायपुर पश्चिम विधानसभा के 20 वार्डों में कांग्रेस के खाते में 8 वार्ड आए हैं जबकि यहां से दो निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव जीते हैं। यानि भाजपा के 10 पार्षद यहां से जीते हैं।

नगर निगमों के ताजा रुझान / नतीजे

नगर निगम

कुल वार्ड

बीजेपी

कांग्रेस

जोगी कांग्रेस

अन्य

बिलासपुर

70

30

35

0

5

रायपुर

70

29

34

0

7

अंबिकापुर

48

20

27

0

1

धमतरी

40

17

18

0

5

राजनंदगांव

51

21

22

0

8

कोरबा

67

31

26

2

9

दुर्ग

60

16

30

1

13

चिरमिरी

40

13

24

0

3

जगदलपुर

48

19

28

0

1

रायगढ़

48

19

24

0

5

 

Jharkhand Election Results 2019: झारखंड भी भाजपा के हाथ से फिसला , PM मोदी ने हेमंत सोरेन को दी बधाई

25-Dec-2019

झारखंड, इंडिया। झारखंड चुनाव (Jharkhand Election Results) में बीजेपी (BJP) को जेएमएम-कांग्रेस-राजद गठबंधन (JMM-Congress-RJD Alliance) से हार मिली है।

चुनाव आयोग के अनुसार कुल 81 सीटों के नतीजे आ चुके हैं, जिनमें भारतीय जनता पार्टी को 25 और जेएमएम-कांग्रेस गठबंधन को 47 सीटें मिली हैं। जेएमएम को 30 मिलीं, जबकि कांग्रेस के खाते में 16 सीटें गईं, वहीं, राजद को 1 सीट मिली है। इसके अलावा झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) को तीन, आजसू को 2, सीपीआई को 1, एनसीपी को एक और निर्दलीय को एक सीटें मिली हैं।

झारखंड में मिले जनादेश को लेकर कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि यह जीत विशेष है और वर्तमान दौर में इसका काफी महत्व है। झारखंड के लोगों का भाजपा और उसके विभाजन के एजेंडे को नकारने के लिए बधाई के पात्र हैं, उनका विशेष्ज्ञ आभार। उन्होंने कहा कि इस जनादेश के साथ, लोगों ने जाति और धार्मिक आधार पर समाज को विभाजित करने के भाजपा के प्रयासों को हराया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर हेमंत सोरेन को बधाई दी। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'मैं हेमंत सोरेन जी और जेएमएम गठबंधन को राज्य में जीत के लिए बधाई देता हूं। उन्होंने एक अन्य ट्वीट में झारखंड की जनता का भी शुक्रिया अदा किया है। उन्होंने कहा है कि मैं राज्य की जनता को भी धन्यवाद देता हूं जिन्होंने हमें इतने सालों तक सेवा करने का मौका दिया। वहीं, अमित शाह ने ट्वीट किया, 'हम झारखंड की जनता द्वारा दिए गए जनादेश का सम्मान करते हैं। भाजपा को 5 वर्षों तक प्रदेश की सेवा करने का जो मौका दिया था उसके लिए हम जनता का हृदय से आभार व्यक्त करते हैं। भाजपा निरंतर प्रदेश के विकास के लिए कटिबद्ध रहेगी।सभी कार्यकर्ताओं का उनके अथक परिश्रम के लिए अभिनंदन।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर नगर निगम चुनाव परिणाम ,मतगणना जारी

24-Dec-2019

रायपुर,छत्तीसगढ़,इंडिया।  नगरीय निकाय चुनाव 2019 के लिए मतगणना सुबह 9 से शुरू हो चुका है। जारी रुझान में देखा जा सकता है कि निर्दली उम्मीदवार भाजपा-कांग्रेस के प्रत्याशियों को कड़ी टक्कर दे रहे हैं। वहीं, कुछ निकायों में नतीजे सामने आने लगे हैं। इसी बीच बिलासपुर नगर निगम चुनाव के परिणाम इस प्रकार है

01 – बजरंग नगर – कांग्रेस अमित भारते आगे

02 – अब्दुल कलाम नगर – भाजपा आगे

03 – सांई नगर – निर्दलीय आगे

04 – गोकुल नगर-

05 – डाॅ खूबचंद बघेल नगर – कांग्रेस, गायत्री लक्ष्मी साहू आगे

06 – यदुनंदन नगद नगर – भाजपा , सीमा सिंह आगे

07 – कालिका नगर – कांग्रेस आशा संजय सूर्यवंशी आगे

08 – चित्रकांत नगर- भाजपा आगे

09 – यातायात नगर –

10 – गुरू गोविंद सिंह नगर – कांग्रेस पुष्पेद्र साहू आगे

11 – संत कबीर नगर – कांग्रेस रवि साहू आगे

12 – बूढादेव नगर – कांग्रेस रवि मरकाम आगे

13 – पं दीनदयाल नगर –

14 – मिनीमाता नगर – भाजपा – आगे

15 – विकास नगर – भाजपा – सुनीता माणिकपुरी आगे

16 – विष्णु नगर – भाजपा – निधि कमल जैन आगे

17 – नेहरू नगर – कांग्रेस भास्कर नम्रता यादव आगे

18 – तिलक नगर – भाजपा राजेश सिंह आगे

19 – कस्तूरबा नगर – कांग्रेस भरत कुमार कश्यप आगे, भाजपा के रमेश जायसवाल 204 वोट से पीछे

20 – भक्त कंवरराम नगर – भाजपा आगे

21 – गुरू घासीदास नगर – भाजपा आगे

22 – राजेंद्र नगर – अनारक्षित (महिला) कांग्रेस – संगीता राजकुमार तिवारी 157 वोट से आगे

23 – मदर टेरिसा नगर – कांग्रेस के सीताराम जायसवाल आगे

24 – गायत्री नगर – भाजपा आगे , कांग्रेस के रामशरण यादव पीछे

25 – क्रांति कुमार भारतीय नगर – कांग्रेस के रामा बघेल आगे

26 – महारानी लक्ष्मी बाई नगर – पिछडा वर्ग

27 – विनोबा नगर – कांग्रेस रविंद्र सिंह

28 – प्रियदर्शिनी नगर – भाजपा के संजय गुप्ता आगे, कांग्रेस के रामशरण यादव पीछे

29 – संजय गांधी नगर – कांग्रेस शेख गफफार आगे

30 – पंडित मुन्नू लाल शुक्ला नगर – भाजपा के विनोद सोनी आगे, कांग्रेस के पुष्पा दुबे पीछे

31 – लाला लाजपतराय नगर – भाजपा राजेश मिश्रा 40 वोट से आगे शहजादी दूसरे और कांग्रेस के तैयब हुसैन तीसरे नंबर पर

32 – शहीद विनोद चैबे नगर – भाजपा आगे कांग्रेस की स्वर्णा शुक्ला पीछे

33 – गांधीनगर – अनारक्षित – भाजपा – रंगा नादम आगे

34 – संत रविदास नगर – भाजपा के दुर्गा सोनी आगे, कांग्रेस के शैलेंद जायसवाल पीछे

35 – नागोराव शेष नगर – कांग्रेस की प्रियंका उत्तम यादव आगे

36 – बसंत भाई पटेल नगर – भाजपा आगे

37 – इंदिरा नगर – भाजपा 802 वोट से आगे

38 – तात्याटोपे नगर –

39 – शहीद भगत सिंह नगर – भाजपा के उदय मजूमदार आगे, कांग्रेस के देवाशीष घोष लटटू पीछे

40 – महाराणा प्रताप नगर – उमेश कुमार आगे

41 – विवेकानंद नगर – भाजपा के मोती लाल गंगवानी आगे

42 – शहीद असफाक उल्लाह नगर – भाजपा आगे

43 – बंशीलाल नगर –

44 – शंकर नगर –

45 – शहीद हेमू नगर – भाजपा अशोक विधानी 1000 वोट से आगे

46 – गणेश नगर –

47 – पंडित रामगोपाल नगर –

48 – बिसाहू दास मंहत नगर – भाजपा आगे

49 – बीआर यादव नगर – कांग्रेस आगे

50 – बैरिस्टर छेदीलाल नगर –

51 – राजकिशोर नगर – निर्दलीय संध्या तिवारी आगे

52 – रविन्द्र नाथ टेगौर नगर – कांग्रेस के विजय केशरवानी आगे

53 – कमला नेहरू नगर –

54 – भक्त कर्मामाता नगर – भाजपा आगे

55 – माता परेश्वरी नगर –

56 – विजय नगर – कांग्रेस की शिल्पा तिवारी आगे

57 – अशोक नगर – कांग्रेस के बसंत शर्मा आगे

58 – रानी दुर्गावती नगर –

59 – शहीद मंगलपांडेयत नगर –

60 – कपिल नगर – भाजपा आगे

61 – देवीनंदन दीक्षित नगर – भाजपा आगे

62 – शास्त्री नगर – कांग्रेस राजेश शुक्ला 315 वोट से आगे

63 – अरविंद नगर – कांग्रेस आगे

64 – महामाया नगर –

65 – संत रामदेव नगर – भाजपा के मोती गंगवानी 104 वोट आगे

66 – शिव दुलारे मिश्रा नगर –

67 – विद्यासागर नगर –

68 – रामकृष्ण परहंस नगर –

69 – वायरलेंस नगर – कांग्रेस के सांई भास्कर आगे

70 – त्रिपुरी सुंदरी नगर – कांग्रेस के अजय यादव आगे

 

छत्तीसगढ़ के निकाय चुनाव...मतगणना का अब तक की अपडेट देखिए

24-Dec-2019

रायपुर,छत्तीसगढ़,इंडिया।  छत्तीसगढ़ के निकाय चुनावों में वोटों की गिनती आज सुबह से जारी है। कुल 10 नगर निगमों और 38 नगर पालिकाओं में वार्ड वार मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। शुरूआती तौर पर सामने आ रहे नतीजों के मुताबिक कांग्रेस, बीजेपी से आगे है। पीछे-पीछे जनता कांग्रेस और अन्य राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों को मिले मत भी नजर आ रहे हैं।

प्रदेश के 38 नगर पालिका में कुल 753 वार्ड हैं। इनमें बीजेपी 167 में, कांग्रेस 180 में, जनता कांग्रेस 13 वार्डों में आगे है। इधर रायपुर में शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज सेजबहार में मतगणना शुरू होने के दो घंटे बाद बाहर खड़े लोगों में उत्साह की कमी दिखी।

अब तक की अपडेट : -

प्रदेश के 38 नगर पालिका में कुल 753 वार्ड हैं। इनमें बीजेपी 167 में, कांग्रेस 180 में, जनता कांग्रेस 13 वार्डों में आगे है। इधर रायपुर में शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज सेजबहार में मतगणना शुरू होने के दो घंटे बाद बाहर खड़े लोगों में उत्साह की कमी दिखी।

रायपुर के पंडित भगवती चरण शुक्ला वार्ड से निर्दलीय प्रत्याशी राजकुमार वाडिया आगे चल रहे हैं। वहीं महापौर प्रमोद दुबे 72 वोटों से पीछे चल रहे हैं।

लाल बहादुर शास्त्री वार्ड से बीजेपी प्रत्याशी आगे चल रहे हैं। कांग्रेस के कामरान अंसारी 378 वोट से आगे हैं। वहीं BJP के योगेंद्र वर्मा 512 वोटों से आगे चल रहे हैं। सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा आगे चल रहे हैं।। कांग्रेस प्रत्याशी रितेश त्रिपाठी से बढ़त बनाए हैं।

मौलाना अब्दुल रऊफ वार्ड से कांग्रेस प्रत्याशी एजाज ढेबर 600 वोटों से आगे चल रहे हैं।

रायपुर

नगर पालिका भाटापारा

वार्ड क्रमांक 6 शक्ति वार्ड से भाजपा के सरजाबती अनिल चेलक जीते

वार्ड क्रमांक 12 सदर वार्ड से कांग्रेस की महिला प्रत्याशी सुनीता गुप्ता जीते

रायपुर- वार्ड 16 से बीजेपी के विनोद अग्रवाल आगे

वार्ड 25 से कांग्रेस के भोलाराम साहू 840 मतों से आगे

झारखंड: रुझानों में BJP ने गंवाई सरकार, JMM को मिला स्पष्ट बहुमत

23-Dec-2019

झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए हुए पांच चरणों की वोटिंग के बाद आज मतदान का रिजल्ट आ रहा है। मतगणना के शुरुआती रुझानों के अनुसार, सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी इस बार राज्य में सत्ता गंवाती दिख रही है। रुझानों में झामुमो गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिलता दिख रहा है।

शुरुआती रुझान में भाजपा 27 सीटों पर आगे चल रही है, जो बहुमत से 15 सीटें कम हैं। बहुमत के लिए किसी भी पार्टी को 81 विधानसभा सीटों में बहुमत के लिए 42 सीटें चाहिए। दूसरी तरफ झारखंड मुक्ति मोर्चा-कांग्रेस-राजद गठबंधन 43 सीटों पर आगे चल रही है।

हालांकि, ये अभी शुरुआती रुझान हैं। लेकिन ऐसा ही नतीजा रहा तो झारखंड भी महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मध्य प्रदेश की उन राज्यों की लिस्ट में शामिल हो जाएगा, जहां भाजपा ने पिछले 12 महीनों में सत्ता गंवाई है। भाजपा ने हाल ही में महाराष्ट्र में सत्ता गंवाई है।

भाजपा झारखंड में पांच साल के कार्यकाल के दौरान विरोधी लहर से लड़ाई लड़ रही है। मुख्यमंत्री रघुबर दास से भी लोग नाराज चल रहे हैं। झारखंड में सबकी निगाहें जमशेदपुर पूर्वी सीट पर टिकी हैं। इस सीट से मुख्यमंत्री रघुवर दास साल 1995 से लगातार जीतते आ रहे हैं।

 

छत्तीसगढ़ में नगरीय निकाय चुनाव के लिए मतदान जारी

21-Dec-2019

रायपुर,छत्तीसगढ़,इंडिया।  छत्तीसगढ़ में नगरीय निकाय चुनावों के लिए सुबह 8 बजे से मतदान शुरू हो गया है। छत्तीसगढ़ के 10 नगर निगम, 38 नगर पालिका और 103 नगर पंचायत चुनाव के लिए मतदान हो रहा है। अब तक प्रदेश भर से करीब 20 फीसदी मतदान की खबरें हैं। आम से लेकर खास तक इस बार वोटिंग का हिस्सा बन रहे हैं। हालांकि इस बीच कई जगहों से मतदाता परेशान भी हो रहे हैं, खबरें हैं कि ज्यादातर वोटर पोलिंग बूथ बदले जाने से हलाकान हो रहे हैं। लोग भटक रहे हैं, लेकिन उन्हें अपना बूथ नहीं मिल रहा है। कालीमाता वार्ड, सुंदरनगर, महामाया मंदिर वार्ड, अनुपम नगर, रायपुरा समेत कई वार्डों से लगातार इस बात की शिकायत आ रही है कि वोटरों को इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। दरअसल परिसीमन की वजह से कई वोटरों के बूथ दूसरे वार्ड में शिफ्ट हो गये हैं, लिहाजा उन्हें अपने पोलिंग बूथ खोजने में दिक्कतें आ रही है।

छत्तीसगढ़ में पार्षद के लिए 2,840 पद पर मतदान जारी है। नामांकन वापसी के बाद 10,161 अभ्यर्थी मैदान में हैं। इस चुनाव में 39,82,601 मतदाता मताधिकार का प्रयोग कर पाएंगे। कुल 5,406 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। 24 दिसंबर को मतगणना होगी।

छत्तीसगढ़ में नगरीय निकाय के लिए आदर्श आचार संहिता लागू

25-Nov-2019

रायपुर,छत्तीसगढ़,इंडिया।  छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने प्रदेश में नगरीय निकाय चुनावों की घोषणा कर दी। पूरे प्रदेश में एक ही चरण में 21 दिसंबर को निकाय चुनाव के लिए मतदान होगा। इसके बाद 24 दिसंबर को मतगणना होगी। इस घोषणा के साथ ही छत्तीसगढ़ में आचार संहिता लागू हो गई है।

30 नवंबर को नोटिफिकेशन जारी होगा, इसी के चुनाव नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। 6 दिसंबर को इसकी नामांकन की अंतिम तारीख रहेगी। 7 दिसंबर को नामांकन की स्क्रूटनी होगी। 9 दिसंबर तक उम्मीदवार नाम वापस ले सकते हैं। 21 दिसंबर को सुबह 8 से शाम 5 बजे तक मतदान होगा। नक्सल प्रभावित इलाकों कोंडागांव, दंतेवाड़ा, कांकेर, बीजापुर, सुकमा में सुबह 7 से 3 बजे तक मतदान होगा।

वहीं सबसे बड़ी बात यह है कि इस बार छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग उम्मीद्वारों से ऑनलाइन नामांकन पत्र भी लेगा। राज्य में 10 नगर निगम, 38 नगर पालिका परिषद और 109 नगर पंचायत में चुनाव होगा। सिर्फ पार्षद ही प्रत्यक्ष मतदान के माध्यम से चुने जाएंगे। महापौर और अध्यक्षों को अप्रत्यक्ष पद्धति से चुना जाएगा। बता दें कि राज्य सरकार के अप्रत्यक्ष महापौर और अध्यक्ष चुनने की पद्धति को भाजपा ने हाईकोर्ट में चुनौति भी दी है, जिसपर सुनवाई 6 दिसम्बर को होगी।

जम्मू-कश्मीर ब्लॉक विकास परिषद चुनाव में BJP 280 में से केवल 81 ब्लॉक जीत पायी

25-Oct-2019

नई दिल्ली, इंडिया। भाजपा ने 310 प्रखंडों में से 81 में जीत दर्ज की। राज्य का विशेष दर्जा हटाए जाने के बाद पहली बार हुए बीडीसी चुनावों में अपने नेताओं की नजरबंदी के कारण कांग्रेस, नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी ने इससे दूरी बनाए रखी। जम्मू कश्मीर में बृहस्पतिवार को पहली बार हुए प्रखंड विकास परिषद (बीडीसी) में अध्यक्ष पद पर 200 से अधिक निर्दलीय निर्वाचित हुए। भाजपा ने 310 प्रखंडों में से 81 में जीत दर्ज की।

यह चुनाव कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच करवाए गए थे। यहां मुकाबला बीजेपी बनाम निर्दलीय के बीच था क्योंकि कांग्रेस, पीडीपी, नैशनल कॉन्फ्रेंस और पीपल्स कॉन्फ्रेंस की ओर से चुनाव का बहिष्कार किया गया था। भाजपा जम्मू के अपने गढ़ में लगभग एक तिहाई ब्लॉक हासिल करने में सफल रही, जिसमें से उसने 148 में से 52 ब्लॉक जीते। पैंथर्स पार्टी ने आठ में जीत हासिल की और शेष 88 बीडीसी में निर्दलीय अध्यक्ष चुने गए।

भाजपा ने 2014 के चुनावों में जम्मू की 37 में से 25 सीटें जीती थीं। पार्टी ने कश्मीर घाटी में 137 में से 18 ब्लॉक जीते हैं. इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार राज्य के मुख्य निर्वाचन कार्यालय (सीईओ) शैलेन्द्र कुमार ने गुरुवार शाम को परिणाम जारी किये और कहा “कुल 316 ब्लॉकों में 307 ब्लॉकों के लिए चुनाव होना था. चूंकि 27 सीटों पर उम्मीदवार निर्विरोध चुने गए थे इसलिए 280 ब्लॉक पर मतदान हुआ था''I

हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए हुए मतदान

23-Oct-2019

नई दिल्ली, इंडिया।  हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिये सोमवार को हुये मतदान में शाम छह बजे तक हरियाणा में 65 प्रतिशत और महाराष्ट्र में 60.5 प्रतिशत मतदान हुआ। चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार हरियाणा में 2014 में हुये विधानसभा चुनाव में 76.54 प्रतिशत मतदान की तुलना में इस चुनाव में शाम छह बजे मतदान खत्म होने तक 65 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके थे। वहीं महाराष्ट्र में पिछले विधानसभा चुनाव में हुये 63.08 प्रतिशत मतदान की तुलना में इस बार शाम छह बजे तक 60.5 प्रतिशत मतदान हुआ। मतदान की समयसीमा खत्म होने के बाद वरिष्ठ उपचुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि दोनों राज्यों में मतदान केन्द्रों पर शाम छह बजे के बाद भी मतदाताओं की मौजूदगी को देखते हुये मतदान का प्रतिशत बढ़ने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र में नक्सल प्रभावित गढ़चिरौली और गोंदिया विधानसभा क्षेत्रों में मतदान पूरी तरह से शांतिपूर्ण रहा। उन्होंने बताया कि हरियाणा विधानसभा चुनाव और विभिन्न राज्यों की कुछ विधानसभा एवं लोकसभा सीटों के उपचुनाव के लिये भी मतदान शांतिपूर्ण रहा। उपचुनाव आयुक्त संदीप सक्सेना ने हरियाणा में मतदान की जानकारी देते हुये बताया कि राज्य में लगभग 1.82 करोड़ मतदाता हैं।

हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों पर कुल 1169 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। राज्य में पिछले विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव की तुलना में शाम छह बजे तक मतदान का प्रतिशत कम रहा। उन्होंने बताया कि 2014 के लोकसभा चुनाव में हरियाणा में 71.86 प्रतिशत और 2019 के लोकसभा चुनाव में 70.35 प्रतिशत मतदान हुआ था। उपचुनाव आयुक्त चंद्रभूषण कुमार ने महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों पर चुनाव के लिये हुये मतदान की जानकारी देते हुये बताया कि राज्य में कुल 3237 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे।

उन्होंने बताया कि 2014 के विधानसभा चुनाव में राज्य में 63.08 प्रतिशत और 2019 में लोकसभा चुनाव में 60.79 प्रतिशत मतदान हुआ था। कुमार ने कहा कि इसकी तुलना में सोमवार को शाम छह बजे तक मतदान का प्रतिशत 60.5 प्रतिशत रहा, लेकिन राज्य के तमाम इलाकों में भारी बारिश के कारण मतदान के शुरुआती दौर में मतदाता, मतदान केन्द्रों काफी कम संख्या में पहुंच सके। इसलिये बारिश वाले इलाकों में मतदान खत्म होने के समय तक मतदान केन्द्रों में मतदाताओं की लंबी कतारें लगी थीं।

कुमार ने कहा कि इसके मद्देनजर मतदान का प्रतिशत अभी बढ़ने की संभावना है। विभिन्न राज्यों में हुये उपचुनाव के लिये मतदान की जानकारी देते हुये सक्सेना ने बताया कि ओडिशा की एक विधानसभा सीट पर शाम पांच बजे तक 72 प्रतिशत मतदान हुआ था। उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों पर शाम छह बजे तक 47 प्रतिशत, बिहार की पांच विधानसभा सीटों पर 49 प्रतिशत तथा अरुणाचल प्रदेश एवं मेघालय की एक एक विधानसभा सीट पर क्रमश: 89 प्रतिशत और 84 प्रतिशत मतदान हुआ।

 

कांग्रेस-एनसीपी ने जारी किया घोषणापत्र: युवाओं, कामगारों के लिए लुभावने वादे

09-Oct-2019

मुंबई, इंडिया   महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने संयुक्त घोषणापत्र जारी किया है। विधानसभा चुनाव में एक ओर कांग्रेस-एनसीपी का गठबंधन है तो दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) व शिवसेना मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं। गठबंधन के तहत कांग्रेस और एनसीपी के खाते में 125-125 सीटें आई हैं। राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे और 24 अक्टूबर को नतीजे आएंगे।

कांग्रेस-राकांपा गठबंधन ने सोमवार रात महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए घोषणापत्र जारी करते हुए बेरोजगार युवाओं को प्रतिमाह पांच हजार रुपये भत्ता देने और सत्ता में आने पर कामगारों को न्यूनतम 21,000 रुपये तनख्वाह देने का वादा किया है।

विपक्षी गठबंधन ने सत्ता में आने पर 500 वर्ग फुट में बने मकानों से संप्पति कर समाप्त करने का भी वादा किया है। ग्रामीण इलाकों में गठबंधन ने लोगों को नरेगा के तहत कम से कम 200 दिन रोजगार देने का वादा किया है। सभी जिलों में आधुनिक अस्पताल बनाने का वादा भी किया गया है। घोषणा पत्र में कहा गया है कि योग्य छात्रों को विदेश में पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप शुरू की जाएगी। हर जिले में सरकारी इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेज शुरू करने का वादा किया गया है। घोषणा पत्र में कांग्रेस और एनसीपी का दावा है कि महाराष्ट्र में उनकी सरकार बनने के बाद हर एक वादे पर अमल किया जाएगा ताकि प्रदेश फिर अपने पुराने सुनहरे दिन की ओर लौट सके।

सभी 90 सीटों को कवर करेगी पार्टी, शाह और नड्डा की ताबड़तोड़ रैलियां

07-Oct-2019

नई दिल्ली, इंडिया। हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने कमर कस ली है। रविवार शाम को भारतीय जनता पार्टी ने दिग्गज स्टार प्रचारकों का शेड्यूल जारी कर दिया गया है, जिसके तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रदेश में चार रैलियां करेंगे। पीएम की चारों रैलियों के माध्यम से पार्टी सभी 90 विधानसभा सीटों को कवर करेगी।

पहली रैली 14 अक्टूबर को बल्लभगढ़, दूसरी—तीसरी रैली 15 अक्टूबर को दादरी व दोपहर बाद थानेसर में होगी। जबकि चौथी रैली 18 अक्टूबर को हिसार में प्रस्तावित है। जबकि भाजपा अध्यक्ष व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 9 व 14 अक्टूबर को दो दर्जन विधानसभा क्षेत्रों को कवर करते हुए आठ बड़ी रैलियां करने वाले हैं। भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा व उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ 11 अक्टूबर को हरियाणा के दौरे पर होंगे।

पीएम मोदी की चारों रैलियों के माध्यम से पार्टी सभी 90 विधानसभा सीटों को कवर करेगी। जबकि देश के गृहमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह दो दिन हरियाणा में आएंगे। उनका पहला दौरा 9 अक्टूबर को होगा। जिसमें उस दिन वे कैथल में पुंडरी, गुहला—चीका और कैथल विधानसभाओं की एक संयुक्त रैली होगी। उसी दोपहर को बरवाला में हांसी, बरवाला और उकलाना विधानसभा की संयुक्त रैली होगी। जबकि दोपहर बाद लोहारू में तोशाम, बाढडा और लोहारू की संयुक्त रैली होगी।

शाम 3 बजे राष्ट्रीय अध्यक्ष महम पहुंचेंगे। जहां महम, कलानौर और गढी—सांपला कलोई विधानसभा की संयुक्त रैली होगी। इसके बाद भाजपा अध्यक्ष 14 अक्टूबर को दोबारा हरियाणा आएंगे। उस दिन टोहाना में रतिया, टोहाना और नरवाना विधानसभा की संयुक्त रैली होगी। जबकि दोपहर एक बजे पंचकूला में कालका और पंचकूला विधानसभा की संयुक्त रैली होगी। इसके बाद ढाई बजे वे करनाल पहुंचेंगे। जहां वे करनाल, इंद्री, असंध और नीलोखेडी विधानसभाओं को कवर करते हुए रैली करेंगे। शाम 4 बजे वे बादशाहपुर पहुंचेंगे। जहां गुरूग्राम, बादशाहपुर, पटौदी और बादली विधानसभा के कार्यकर्ताओं को संयुक्त रूप से संबोधित करेंगे।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव की कांग्रेस ने जारी की पहली लिस्ट, लिस्ट में अशोक चव्हाण समेत 51 लोगों के नाम

30-Sep-2019

महाराष्ट्र,मुंबई, इंडिया  महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपनी 51 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। कांग्रेस ने अशोक चव्हाण को बोकर सीट और नागपुर नार्थ सीट से नितिन रावत को प्रत्याशी बनाया है। वहीं प्रणीति शिंदे सोलापुर सेंट्रल से चुनाव लड़ेंगी।

प्रणीति महाराष्ट्र विधानसभा में सोलापुर से विधायक हैं और केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की बेटी हैं। इससे पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने सीटों के बंटवारे का एलान करते हुए कहा था कि उनकी पार्टी और कांग्रेस अगले महीने होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 125-125 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी।

कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(राकांपा) ने 125-125 सीटों पर विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है, बाकि सीटें छोटी पार्टियों के लिए छोड़ी जाएंगी। बता दें कि महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं और परिणाम 24 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे। वहीं समझौते में बची हुई सीटें गठबंधन सहयोगियों के लिए छोड़ी जाएगी। महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 288 सीटें हैं।


Previous12Next